Big News – बोध गया स्थित विश्वप्रसिद्ध महाबोधि मंदिर में दो बौद्ध भिक्षु भिड़े, बुद्ध नगरी हुई शर्मशार, प्राथिमिकी दर्ज

230

पटना Live डेस्क। बिहार के गया स्थित भगवान बुद्ध की पावन नगरी तब शर्मसार हो गई, जब बोधगया (Bodh Gaya) के विश्वविख्यात महाबोधि मंदिर (Mahabodhi Temple) परिसर में अहिंसा का उपदेश देने वाले दो बौद्ध भिक्षु (Monk)हिंसा पर उतारू हो गए। रविवार को दोनों के बीच जबदस्त मारपीट हुई। एक भंते को गंभीर चोट लगी है। सुरक्षा कर्मी के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। इस घटना के बाद महाबोधि मंदिर के मुख्य पुजारी भिक्षु चालिंदा ने बोधगया थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। मारपीट की पुष्टि थानाध्यक्ष मोहन कुमार सिंह ने की है।
जानकारी के मुताबिक, महाबोधि मंदिर में रविवार को उस समय अफरातफरी की स्थिति पैदा हो गई जब चीवर दान समारोह के दौरान दो बौद्ध भिक्षुओं के बीच मारपीट हुई।

बकौल मंदिर के मुख्य पुजारी के महाबोधि मंदिर के बोधिवृक्ष के नीचे पूजाअर्चना की जा रही थी।दरअसल, बौद्ध भिक्षुओं की परंपरा के अनुसार तीन माह के वर्षामास काल समाप्ति के उपरांत पूर्णिमा के अवसर पर चीवर दान समारोह वियतनाम के श्रद्धालुओं द्वारा किया गया था। इसी क्रम में पूजा स्थल से कुछ दूरी पर 40 से 50 की संख्या में भिक्षु भेषधारी भी अलग समूह में बैठे हुए थे। इन भिक्षुओं को निमंत्रित नहीं किया गया था। पूजा-प्रार्थना के दौरान हो-हल्ला होने की आवाज सुनाई दी।

मारपीट करने वाले भिक्षु ठाकुर के नाम से चर्चित बताया गया जो एक अन्य भिक्षु के साथ मारपीट और गाली गलौज कर रहा था। इसमें भिक्षु घायल हो गया। उसका इलाज स्थानीय स्तर पर कराया जा रहा है। मारपीट करने वाला भिक्षु बोधगया के मस्तीपुर का रहने वाला है। मारपीट की सूचना पर स्थानीय थाना के पुलिस पदाधिकारी पहुंचे। तदुपरान्त हंगामा और अशांति फैलाने वाले भिक्षु भेषधारी को महाबोधि मंदिर परिसर से निकाला गया। इस तरह की घटना से विदेशी श्रद्धालु आहत हुए।मुख्य पुजारी ने इस घटना के बाद कहा कि कुछ ऐसे भेषधारी विश्वविख्यात महाबोधि मंदिर की गरिमा को धूमिल कर रहे हैं। जल्द से जल्द ऐसे लोगों को चिह्नित कर कानूनी कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

वही घटना की पुष्टी करते हुए बोधगया थानाध्यक्ष ने बताया कि मारपीट के मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। साथ ही सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है। मंदिर परिसर में अशांति फैलाने वाले भिक्षुओं पर कानूनी कार्रवाई होगी।

Loading...