बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

तेजस्वी बोले- ‘मुख्यमंत्री जी ही नहीं बल्कि संपूर्ण मुख्यमंत्री सचिवालय भी थक चुका है’

132

पटना Live डेस्क। बिहार में बाढ़ की स्थिति को लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने जो पत्र मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखा और उस पर नई सियासत पर देखने को मिल रही है दरअसल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी की तरफ से लिखे गए पत्र को लेकर कल यानी बुधवार को जो टिप्पणी की थी इसके बाद तेजस्वी ने पलटवार किया है।
बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट के माध्यम से पत्र जारी कर सीएम नीतीश कुमार पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री को अपने सचिवालय की व्यवस्था सुधारनी चाहिए। एक प्रदेश के मुख्यमंत्री इतने अंजान, भ्रमित और अंधकार में कैसे रह सकते हैं। वह नेता प्रतिपक्ष के जन सरोकार से जुड़े अति महत्वपूर्ण पत्र के बारे में सार्वजनिक रूप से कहते हैं कि उन्हें पत्र नहीं मिला? मेरे पास सीएम सचिवालय से प्राप्ति पत्र की रसीद है।
इसके पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को तेजस्वी के लेटर को लेकर टिप्पणी की थी किसने कहा था कि “हमको नहीं पता। मुझे पत्र लिखते ही कहां है वो तो मीडिया में ही आता है। हमको तो पत्रवा लिखेंगे तब न हम पढेंगे जी।” मुख्यमंत्री ने कहा-हम हाथ जोड़ कर कह रहे हैं। आप जब लेटर लिखियेगा हमको, तभी हम पढते हैं। अब ऐसे कहीं भेज दीजियेगा तो उसको हम कैसे पढ़ेंगे। हां, मीडिया में आ ही जाता है तो देख ही लेते हैं। नीतीश ने कहा कि तेजस्वी मीडिया के लिए पत्र लिखते हैं। हम आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को कई पत्र लिखा है। तेजस्वी इसकी जानकारी खुद देते रहे हैं।
बता दें कि तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को एक पत्र लिखा था। जो कि मीडिया में आने के बाद सुर्खियों में था। जिसमें उन्होंने कहा था कि बाढ़ और नदी जोड़ो परियोजना के लिए एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल को प्रधानमंत्री से मिलना चाहिए। इस पत्र को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार की शाम में कहा था कि उन्हें कोई पत्र नहीं मिला है, वह तो सिर्फ मीडिया में पत्र जारी करते हैं।

Comments are closed.