बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – सुशील मोदी ने किया दावा मै ने जेल में बंद लालू को फोन लगा दिया कहा-बंद कीजिये अपना खेल

सुशील मोदी के दावे ने मचाया बिहार की सियासी हड़कंप, लालू का नंबर भी सार्वजनिक किया

369

पटना Live डेस्क। विगत तीन दशक से बिहार की सियासत अमूमन लालू प्रसाद यादव का नाम के इर्द गिर्द ही घुमती है। वो कही रहे उनकी मौजूदगी सूबे की राजनीति में बनी रहती है। एक बार फिर पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने एक ट्वीट के जरिए लालू यादव पर खुलासानुमा हमला करते हुए नया सियासी बखेड़ा खड़ा कर दिया है।

वर्त्तमान में चारा घोटाले में सज़ावार लालू प्रसाद यादव रांची में सजा काट रहे है। सुशील मोदी ने दावा किया है कि आज (मंगलवार,24 नवम्बर )को लालू यादव को उन्होंने फोन किया था। बकौल सुशील मोदी सजा काट रहे लालू के पास मोबाइल था और लालू ने खुद उनका फोन रिसीव भी किया।

पूर्व डिप्टी सीएन सुशील मोदी के मुताबिक लालू यादव फोन के जरिए लगातार सूबे की NDA सरकार गिराने की साजिश रच रहे थे। उन्होंने लालू को इस खेल को बंद करने की सलाह देते हुए कहा कि आप कभी सफल नही होंगे।

लालू यादव का कथित मोबाइल नंबर

पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने अपने और लालू यादव के बीच हुई कथित बातचीत वाले इस प्रकरण को लेकर ट्वीट भी किया है। ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि “लालू यादव रांची से एक मोबाइल नंबर 8051216302 के जरिए लगातार एनडीए विधायकों को फोन कर रहे हैं। ना केवल उन्हें फ़ोन कर रहे है, बल्कि उन्हें मंत्री बनाने का प्रलोभन भी दे रहे हैं। मैंने इस नंबर पर कॉल किया तो लालू प्रसाद यादव ने खुद फोन रिसीव किया। मैंने उनसे कहा कि जेल से ये गंदा खेल करना बंद कर दें, वे कभी सफल नहीं होने वाले हैं।”

लालू यादव को मिल रही तमाम सुविधाएं

दरअसल एनडीए का आरोप है कि लालू यादव बिहार की सरकार गिराने की कोशिश कर रहे हैं। इसके लिए वे तमाम विधायकों को मंत्री बनाने का ऑफर दे रहे हैं।लालू की नजरें हम और वीआईपी के विधायकों पर है। इसी आरोप को पुख़्ता करने की क़वायद के तहत सुशील मोदी ने अपने ट्वीट के जरिए न केवल दावा किया है बल्कि एक नंबर भी सार्वजनिक किया है जो कथित तौर पर लालू यादव का है।

एनडीए के नेता अक्सर यह आरोप लगाते है कि लालू प्रसाद यादव को सजायाफ्ता होने बावजूद झारखंड सरकार द्वारा तमाम सुविधायें हासिल कर रहे हैं। जबकि जेल मैनुअल के मुताबिक उन्हें किसी सूरत में मोबाइल फोन नहीं दिया जा सकता है। लेकिन लालू यादव लगातार मोबाइल का उपयोग कर रहे हैं। वे इलाज के लिए रिम्स में भर्ती होकर राजनीति कर रहे हैं।

विधानसभा अध्यक्ष ख़ातिर होना है चुनाव

नए विधानसभा अध्यक्ष ख़ातिर बुधवार यानी 25 नवम्बर को शक्ति परीक्षण होना है।सरकार को अस्थिर करने की कोशिशों के तहत ही आरजेडी ने विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव में NDA के उम्मीदवार विजय सिन्हा के खिलाफ अवध बिहारी चौधरी को अपना उम्मीदवार बनाया है। विपक्ष के पास भले ही पर्याप्त संख्या बल नही है। लेकिन आरजेडी ने बड़ा दांव खेला है। अगर अध्यक्ष पद पर उसका कब्जा हो गया तो फिर सरकार को अस्थिर करना आसान हो जायेगा। इसी रणनीति के तहत सुशील मोदी आरोप लगा रहे हैं कि विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव से पहले लालू यादव एनडीए के विधायकों को फोन द्वारा बातचीत कर प्रलोभन दे रहे हैं।

Comments are closed.