बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Patna Live के खुलासे पर SSP पटना की मुहर-सुहागन ज्वेलर्स गोलीबारी का पुलिस ने किया खुलासा,मालिक से पंकज शर्मा का रहा हैं याराना

राजीव नगर में बाइक सवार अपराधियों ने सुहागन ज्वेलर्स में घुसकर ग्राहकों के सामने ही दुकानदार राकेश कुमार सोनी को गोली मार दी थी। घटना में पंकज शर्मा का नाम आया था,स्वर्ण व्यवसायी गोलीकांड का खुलासा,कुख्यात पंकज शर्मा ने खोला मुंह तो सच साबित हुआ पटना Live का खुलासा, पकड़े गए सभी पांच बदमाश

227

पटना Live डेस्क। बुधवार को दोपहर में राजधानी पटना के राजीव नगर थाना क्षेत्र के रोड नंबर-16 में सुहागन ज्वेलर्स में हुई गोलीबारी की घटना का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।इस मामले में पटना के कुख्यात पंकज शर्मा का नाम आया था जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पंकज ने पुलिस के सामने अपना मुंह खोला है जिसके बाद यह खुलासा हुआ कि सुहागन ज्वेलर्स के मालिक और कुख्यात के बीच पुराना याराना रहा है। सनद रहे कि स्वर्ण व्यवसायी गोलीकांड के बाबत पटना Live ने अपने पाठकों को सबसे पहले व सबसे सटीक व पूरी जानकारी साझा करते हुए इस शीर्षक से फैक्ट फाइंडिंग के तहत खुलासे को पढ़ने खातिर इस लिंक को क्लिक करें।

Patna Live का फिर बजा डंका – एसएसपी पटना के खुलासे लगाई मुहर

गिरफ्तर में आए पटना के टॉप टेन कुख्यातों मे शुमार पंकज शर्मा ने जब पुलिस पूछताछ में अपना मुंह खोला तो सच साबित हुआ पटना Live का खुलासा।

दरअसल, बुधवार को बाइक सवार अपराधियों ने सुहागन ज्वेलर्स में घुसकर ग्राहकों के सामने ही दुकानदार राकेश कुमार सोनी को गोली मार दी थी।ख़रेजी की यह वारदात CCtv में कैद हो गई।

इस घटना को अंजाम देने आए अपराधियों ने कुख्यात पंकज शर्मा का नाम लिया था। इसके बाद से पुलिस इस कुख्यात के बारे में पता लगाने में जुट गई थी। पुलिस रंगदारी का मामला मानकर अनुसंधान में जुटी थी लेकिन जाँच आगे बढ़ी और अपराधी गिरफ्तार किए गए तो पूरा मामला पलट गया।इस कांड में कुख्यात अपराधी पंकज शर्मा समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है जिसमें तीन लोग घटना के दिन मौजूद थे।

कारोबारी व पंकज शर्मा में 10 साल का याराना

वहीं, पुलिस ने घटना में इस्तेमाल हुए दो देसी कट्टा और दो बाइक बरामद कर लिया है। एसएसपी मानव जीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि पंकज शर्मा कुख्यात अपराधी है और राकेश कुमार सोनी से लगभग 10 साल पुराना संबंध है। पंकज शर्मा लूट के गहने राकेश सोनी के यहां बेचता था। इसके बाद में जो भी पैसे होते थे राकेश सोनी पंकज शर्मा को देता था।कुछ पैसे राकेश कुमार सोनी के पास ही रहते थे। जब पंकज शर्मा या उसका कोई आदमी जेल में रहता था तो बेल कराने के लिए राकेश सोनी पैसा देता था।

जेल से बेल पर आया मांगी बकाया रकम

कुछ दिन पहले पंकज शर्मा जेल से छूट कर आया है। उस वक्त बेल कराने में राकेश सोनी ने पैसा नहीं दिया था। जबकि पंकज का कहना है कि राकेश सोनी के पास 40,000 उसका बकाया था। राकेश सोनी उसका फोन भी नहीं उठा रहा था जिसको लेकर वह अपने गुर्गों के साथ सुहागन ज्वेलर्स गया। वह दुकान के बाहर ही था। उसके गुर्गे अंदर गए थे। एसएसपी मानव जीत सिंह ने बताया कि राकेश सोनी पर भी जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Comments are closed.