बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Super Exclusive-SSP पटना ने खुद संभाली कमान तो गिरफ़्तार हुए मोस्ट वांटेड राजधानी के एक अस्पताल में करा रहा था इलाज

राज्य के कई जिलों का आतंक दुर्दांत हत्यारा राजधानी के एक अस्पताल में गोली के जख्मो का इलाज कराने अपनी माँ और परिजनों संग पहुचा,भनक STF को लगी पर नतीजा सिफर,फिर SSP पटना उपेंद्र शर्मा ने संभला मोर्चा और तकरीबन 3 घंटो तक उक्त अस्पताल को ढूढते हुए पैदल चक्कर लगाते रहे

910

पटना Live डेस्क।राजधानी पटना के निजी नर्सिंग होंम्स का गोरखधंधा रुकने का नाम नही ले रहा है। महज़ चन्द पैसों के लालच में ये हर गुनाह करने लगे है। इसी क्रम में विगत दिनों राज्य के कई जिलों में आतंक का पर्याय बन चुका दुर्दांत शूटर गोली के जख्म का इलाज कराने अपने माँ व अन्य परिजनों के संग एम्बुलेंस में सवार होकर पटना पहुचा। साथ मे एक शख्स भी आया जिसने मोस्टवांटेड शका के गुपचुप इलाज ख़ातिर पटना में एक निजी नर्सिंग होम में तमाम इंतजाम कर रखा था।लेकिन कुख्यात की हालात देखकर उन्होंने हाथ खडेनकर दिए और कही अन्यत्र उसकी व्यवस्था कर दी। इसी बीच कई दर्ज़न कांडों का आरोपी और दुर्दांत शूटर के गोली लगने की सूचना पर विगत 3 महीनों से इसके पीछे पड़ी स्पेशल टास्क फोर्स(Special Task force) भी इसके पटना में इलाजरत होने की जानकारी को ट्रैक करते राजधानी के उक्त हॉस्पिटल के समीप पहुची लेकिन तब तक दुर्दात अपनी माँ और अन्य परिजनों के साथ एम्बुलेंस में सवार होकर एक नए नर्सिंग होम में भर्ती हो चुका था। पास पहुचकर भी STF हाथ मलती रह गई। 

फिर क्या हुआ कैसे हुआ …. थोड़ी देर में 

दर्ज़नो हत्याओं का नामज़द है मोस्टवांटेड 

 

Comments are closed.