बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Patna News-रफ्तार का कहर बेटी को स्कूल छोड़कर वापस लौट रही महिला को ट्रैक्टर ने रौंदा मौत

438

अजित, ब्यूरों प्रमुख, पटना पश्चिम 

पटना Live डेस्क।राजधानी पटना की सड़कों पर रफ़्तार का कहर रुकने का नाम नही ले रहा है। बेलगाम स्पीड से दौड़ते वाहन अमूमन हर दिन इंसानी जिन्दगियों को लील रहे है। इसी क्रम में  पटना के फुलवारी शरीफ में एम्स के सामने डीएवी स्कूल में अपनी पहली कक्षा में पढ़ने वाली बेटी आसना को छोड़ वापस लौट रही महिला को एम्स के मुख्य गेट के सामने ही बेलगाम रफ्तार से जा रहे बालू लोड ट्रैक्टर ने कुचल दिया। बुरी तरह कुचल दी गई महिला की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। वहीं हादसे के बाद वहां आक्रोशित लोगों ने सड़क जाम कर दिया । उधर मृतका की शिनाख्त एम्स के नजदीक वाल्मी के पास बृंदावन कॉलोनी रोड नंबर 1 में रहने वाली अनामिका देवी उम्र 32 वर्ष के रूप में होते ही परिजनों में कोहराम मच गया।

फाइल फ़ोटो

मृतका के पति अखिलेश कुमार हाजीपुर के जोनल रेलवे कार्यालय में चीफ ऑफिस सुपरिटेंडेंट के पद पर तैनात हैं। मृतका को दो ही बच्चियां है जिनमें 16 वर्षीया आसना डीएवी वाल्मी में पहली कक्षा में पढ़ती है जबकि दूसरी बेटी अभी महज 4 वर्ष की है। इधर दोनों बच्चियों के सर से ममता का साया सदा के लिए उठ चुका था उधर स्कूल से परिजन बच्ची को घर लेकर चले आये। महज 6 साल की आसना अपनी मां की दुर्घटना में मौत होने की खबर से अनजान विलाप करते परिजनों को देख रोने लगती है।

वही चार साल की बेटी भी रोते बिलखते परिवार वालों को देख बिलखने लगती है उसे तो यह आभास भी नहीं होता कि उसे दुलार प्यार करने वाली मा अब हमेशा के लिए उसे छोड़ कर चली गयी।स्थानीय लोगो ने एम्स रोड को जाम कर हो हंगामा करने लगे।स्थानिय लोगो का कहना एम्स गेट पर टेम्पू वाले लोग जाम कर के रखते है।

इसी वजह से यहा आए दिन सड़क हादसा होते रहता है। पुलिस मौके पर पहुच कर ट्रैक्टर को पकड़कर थाने पर ले आई। आक्रोशित लोगों को समझा-बुझाकर शव को कब्जे में लेकर पटना एम्स पोस्टमार्टम के लिए भेज दी।

Comments are closed.