BiG News (वीडियो) शर्मनाक ! सिटी SP ने दी अपने ड्राइवर को छुट्टी, सर्जेट ने कहा – पत्नी को …तब मिलेगी छुट्टी

535

पटना Live डेस्क। राजधानी में एक बार फिर पुलिस लाइन केंद्र सुर्खियों में है। दरअसल, एक पुलिस जवान ने लाइन में तैनात सार्जेंट मेजर पर बेहद गंभीर आरोप लगाया है। इसको लेकर जोरदार बखेड़ा खड़ा हो गया है। मामला अब पटना पुलिस के आलाधिकारियों के समक्ष पहुच गया है। मामला पटना पुलिस लाइन में तैनात एक कांस्टेबल की छुट्टी से जुड़ा है। दरअसल, पटना के सिटी एसपी (ईस्ट) जितेंद्र कुमार के ड्राइवर के तौर पर नियुक्त कांस्टेबल राहुल कुमार से जुड़ा है।

उल्लेखनीय है कि राजधानी में बढ़ते अपराध के ग्राफ से हलकान पटना पुलिस के अधिकारियों के समक्ष एक नए विवाद ने उनके पेशानी पर बल ला दिया है। दरअसल मामला मामला पटना पुलिस लाइन में तैनात परिवहन पदाधिकारी सत्यम कुमार और सिटी एसपी (पूर्वी) जितेन्द्र कुमार के ड्राइवर (कांस्टेबल) राहुल कुमार से जुड़ा है।

मिली जानकारी के अनुसार पटना के सिटी एसपी के ड्राइवर के तौर पर तैनात राहुल को परिजनों फोन पर सूचित किया कि उसकी पत्नी सख्त बीमार है। समुचित इलाज की जरूरत है।पत्नी की तबियत ज्यादा खराब होने सूचना मिलते ही राहुल आननफानन में एसपी सिटी के पास पंहुचा और जानकारी देते हुए छुट्टी के लिए आवेदन दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए मानवीय आधार पर सिटी एसपी द्वारा तत्काल छुट्टी का आवेदन स्वीकृत कर लिया गया। लेकिन पत्नी की खराब तबियत से चिंतित राहुल के होश उसवक्त उड़ गए जब एमटी सार्जेंट (परिवहन पदाधिकारी) सत्यम कुमार की “गैर वाजिब और बेहद आपत्तिजनक” बातों से उसके होश उड़ गए।

एमटी सर्जेट की अजब गजब दलील

सिटी एसपी की मंजूरी मिल जाने से किसी कांस्बेटल की छुट्टी स्वीकृत नहीं हो जाती, लिहाजा राहुल पटना पुलिस लाइन में तैनात एमटी सार्जेंट (परिवहन पदाधिकारी) सत्यम कुमार को कमान सौपंने पहुंचा। उसे उम्मीद थी कि सार्जेंट साहब उसकी परेशानियों को समझ सिटी एसपी द्वारा स्वीकृत छुटटी पर मुहर लगा देंगे, लेकिन सार्जेंट इस बात में ज्यादा दिलचस्पी लेने लगे कि राहुल की पत्नी को आखिर कौन सी बीमारी है। जब कांस्टेबल ने शर्म और पद की दुहाई देकर बीमारी के बाबत जानकारी साझा करने में असमर्थता जताई तो परिवहन पदाधिकारी ने उसकी मर्दानगी पर ही सवाल खड़ा कर दिया।

वही, जब इस बाबत से दरयाफ़्त किया गया तो एमटी सार्जेंट की दलील रही कि पटना पुलिस लाइन में महिला कांस्टेबल भी डीएसपी से शारीरिक लाचारी के बारे में खुल न केवल जानकारी देती है बल्कि पूरी जानकारी साझा करती है।

मेडिकल डॉक्युमेंट्स दिखाने पर मिली धमकी

वही, कांस्टेबल राहुल ने पत्नी की बीमारी से संबंधित जारी इलाज के मेडिकल डॉक्युमेंट्स देखने लेने का आग्रह किया तो सार्जेंट सत्यम कुमार ने धमकाते हुए उसे ठीक कर देने की बात कही। सर्जेट के धमकी भरे लहजे से अचंभित राहुल ने जब हैरान परेशान होकर कहा कि एसपी साहब द्वारा छुट्टी देने पर आपको क्या आपति है?

फिर क्या था इतना सुनते ही सार्जेंट साहब ने तमाम मर्यादाओं को तोड़ते हुए लगभग चिल्लाते हुए राहुल को गाली गलौज करते हुए बेहद आपत्तिजनक जनक भाषा का इस्तेमाल करते हुए आपे से बाहर हो गए और यहाँ तक कह डाला कि देखते हैं तुमको …

 पुलिस मेंस एसोसिएशन ने कार्रवाई की मांग

एमटी सार्जेंट (परिवहन पदाधिकारी) सत्यम कुमार द्वारा खुद के साथ किये गए बेहद आपत्तिजनक व्यवहार से परेशान कांस्टेबल राहुल ने मामले को लेकर बिहार पुलिस मेंस एसोसिएशन को जानकारी देते हुए मदद की गुहार लगाई है। जबकि एसोसिएशन ने मामले की गंभीरता को देखते हुए पटना के एसएसपी उपेन्द्र शर्मा और जोन आईजी संजय सिंह से कार्रवाई की मांग की है। साथ ही चेतावनी दी है कि अगर आरोपी सार्जेंट पर कार्रवाई नहीं हुई तो यह मामला बिहार पुलिस मुख्यालय तक जाएगा।

Loading...