बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News-पटना में दुःसाहस का चरम पार बालू माफ़िया ने SP व ASP पर की फायरिंग मचा हड़कंप 3 महिलाए गिरफ्तार

बालू माफ़िया का पूरा परिवार 24 घंटे में बना कानून का गुनहगार,महिलाए जेल में पुरुष फरार, बालू माफ़िया ने जनताराज की हिलाई चूल महज 24 घंटे में गैंगवार के बाद दुःसाहस का चरम पार करते हुए पटना सिटी एसपी व एएसपी पर कर दी फायरिंग और फिर हो गए फरार

507

पटना Live डेस्क। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का दावा है कि सूबे में लॉ एंड आर्डर की कोई समस्या ही नही है। लेकिन सूबे में अपराधियों का तांडव अपने चरम पर है। सुदूर जिलो की क्या बात की जाए जब बेलगाम बेख़ौफ़ अपराधियों ने सरकार की नाक के नीचे पटना जिले में ही अवैध बालू खनन के वर्चस्व को लेकर गरुवार के सुबह सबेरे अपराधियों के गिरोह में खूनी भिड़ंत हो गई। पटना पुलिस इस वारदात की जांच में जुटी है इसी बीच शुक्रवार को पूरी तरह बेकाबू और बेख़ौफ़ बालू माफिया ने दुःसाहस का चरम पार करते हुए सीधे सीधे सीटी एसपी(पश्चिमी) और एएसपी पर ही फायरिंग कर दी। पुलिस अधिकारियों पर फायरिंग से हड़कंप मच गया और फिर जब पुलिस ने जब मोर्चा संभाला तो बालू माफिया के पैर उखड़ गए और सभी फरार हो गए। घटना के बाद जब पुलिस टीम ने फरार बालू माफ़िया के घरों की तलाशी ली तो एक घर से एक देशी कट्टा 5 जिंदा कारतूस और नगद राशि बरामद किया और तीन महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही अमनाबाद में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

घंटो गोलियां चली पुलिस खोखे बिनती दिखी

बालू खनन के अवैध धंधे से बेहिसाब पैसों की अवाक की वजह से खादी और खाकी की सरपरस्ती हासिल कर दुःसाहसी शूटरों के हाथों में देसी विदेशी ऑटोमैटिक असलहों की खेप थमाकर कर अपने अपने इलाकों में खौफ़ और वर्चस्व कायम कर चुके बालू माफ़िया अब सिंडीकेट की शक्ल में खुद को इस कदर संगठित कर चुका है कि इसपर नकेल कसने की कवायद में पुलिस पर ही भारी पड़ने लगे है। पूरी तरह बेलगाम और बेख़ौफ़ हो चुका है। इस कि बानगी दिखी गुरुवार के गैंगवार में जब घंटों गोलियां चली और बिहटा थाना पुलिस सैकड़ो खोखे और जिंदा कारतूस गिनती करती रही।

सिटी SP और ASP पर फायरिंग से हड़कम्प

गुरुवार 29 सितम्बर को अमनाबाद में बालू माफ़िया के बीच हुए भीषण गैंगवार के बाद किसी तरह हिम्मत जुटाकर पुलिस ने घटना स्थल पर अपनी मौजूदगी का अहसास करा पाई और फिर चारो ओर फैले खोखे व जिंदा कारतूस बरामद कर जांच की कवायद कर लौट आई। लेकिन घटना बड़ी थी इसकी गूंज चहुओर सुनी गई तो शुक्रवार को सिटी एसपी (पश्चिमी) राजेश कुमार व एएसपी( दानापुर) अभिनव धमन नेतृत्व में पुलिस का जत्था अमनाबाद गांव पहुचा और गुरुवार को अंजाम पाए गैंगवार में शामिल श्री राय के घर का रुख किया।

बालू माफ़िया के दुःसाहस का चरम

बालू माफ़िया कितना बेख़ौफ़ और दुःसाहसी बन चुका है इसके साक्षात दर्शन उस वक्त दिखाई दिया जब सिटी एसपी राजेश कुमार और एएसपी( दानापुर) अभिनव धमन के नेतृत्व में बिहटा थानेदार समेत पुलिस के जवानों ने खूनी भिड़त में शामिल रहे श्रीराय के अमनाबाद गाँव में स्थित घर पर छापेमारी के लिए घेराबंदी करने की कवायद में शुरू हुई। भारी सख्या में पुलिस बल की मौजूदगी की भनक लगते ही बालू माफ़िया श्री राय के बेटे प्रवीण कुमार,नवीन कुमार और भतीजा गोपाल राय ने दुःसाहस का चरम पार करते हुए पुलिस अधीक्षक (पश्चिमी) एएसपी दानापुर और बिहटा थानेदार समेत अन्य पुलिसबल पर बेहिचक फायर खोल दिया। अचानक हुई गोलीबारी से पुलिस सकते में आगई और जब तक मोर्चा संभाला ताबड़तोड फायरिंग करते हुए तीनों बालू माफिया श्रीराय के दुःसाहसी बेटे प्रवीण,नवीन समेत भतीजा गोपाल असलाहों संग फरार हो गए। इधर, जैसे ही सिटी एसपी और एएसपी पर गोलीबारी की खबर फैली पटना पुलिस से लेकर बिहार पुलिस मुख्यालय तक हड़कंप मच गया। मोबाइल की घंटियां बजने लगी और वायरलेस चीख उठा।

 

घर की तलाशी में असलहा व कारतूस बरामद

बालू माफ़िया के बेटे व भतीजे के गोलीबारी कर फरार होने के बाद किसी तरह बचते बचाते माहौल को भापकर गोलीबारी नही होने से आश्वस्त होकर एसपी व एएसपी के नेतृत्व पुलिस ने श्री राय के घर के इंच इंच को खंगाल डाला। घर की मुकम्मल तलाशी के दौरान पुलिस को एक देशी कट्टा समेत थ्रीफिफ्टिन के पांच जिंदा कारतूस समेत लाखो रुपए कैश मिला। मिले असलहे व जिंदा कारतूस के बाद पुलिस ने बालू माफ़िया श्रीराय की पत्नी लक्ष्मीनिया देवी समेत घर मे मौजूद एसपी पर गोलीबारी कर फरार हुए दोनो बेटे प्रवीण और नवीन की पत्नियों क्रमशः विनीता और मुन्नी कुमारी को हिरासत में ले कर बिहटा थाने ले आई। फिर बिहटा थाने में कानून सम्मत धारों के तहत FIR दर्ज कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया।

24 घण्टे में पूरा परिवार बना गुनहगार

 

गुरुवार की खूंरेजी में पुलिस श्रीराय की तलाश में घर पर दबिश देने पहुची थी। लेकिन दुःसाहसी श्रीराय के दोनों बेटों प्रवीण व नवीन और भतीजे गोपाल ने दुःसाहस का चरम पार करते हुए SP व ASP पर ही गोलीबारी कर बिहार पुलिस को सकते में डाल दिया है। और अब महज 24 घंटे से भी कम समय मे बाप श्रीराय के बाद बेटे प्रवीण और नवीन समेत भतीजा गोपाल भी पटना पुलिस के वांटेड अपराधियों में शामिल हो गए है। तो वही श्रीराय की पत्नी और दो बहुए भी गिऱफ्तार होकर थाने में बैठी है। यानी महज 24 घंटे में पूरा परिवार कानून का आरोपी बन गया है। पुलिस अब श्रीराय समेत उसके बेटों व भतीजे की तलाश में ताबड़तोड छापेमारी कर रही है।

Comments are closed.