बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – अजब प्रेम की ग़जब कहानी पहुची हाइकोर्ट, बस यही अपराध हुआ है आदमी को आदमी के प्यार में धोखा मिला है

592

पटना Live डेस्क। इश्क नचाये जिसको यार वो फिर नाचे बीच बाजार, कुछ ऐसा ही एक वाकया बिहार की राजधानी पटना में घटित हुआ है। जैसा कि अमूमन आजकल की लव स्टोरीज में होता है। पहले पहल आशनाई होती है फिर लव हो जाता है फिर सेक्स फिर बेवफाई और फिर धोखा यानी इश्किया का द एंड। लेकिन इस मोहब्बत में अजीबोगरीब किरदार है। दरअसल, इस मोहब्बत के किरदारों पर बीते जमाने के एक बेहद लोकप्रिय गाने की लिरिक्स बिल्कुल मुफ़ीद बैठती है बस यही अपराध करता हूँ आदमी हूँ आदमी से प्यार करता हूँ। खैर, अब आठ साल की दो जिस्म एक जान वाली मोहब्बत में पार्टनर के धोखे से आहत अपने प्यार को पाने ख़ातिर कानून की चौखट यानी न्यायालय की शरण मे जा पहुचा है।

इस कहानी का एक किरदार मूल रूप से सारण जिले का रहने वाला है। तो वही दूसरा बिहार सरकार का मुलाजिम है। दोनो की पहली मुलाकात पटना में एक फंक्शन में हुई थी। फिर धीरे धीरे दोस्ती परवान चढ़ी।इस रिश्ते के बाबत छपरा वासी ल श्रवण कुमार की माने तो वह 8 साल से सरकारी मुलाजिम युवक के साथ लगातार जिस्मानी रिश्ता बना रहा था।युवक लगातार उससे शादी करने का आश्वासन दे रहा था। लेकिन कुछ दिन पहले सरकारी बाबू ने शादी किसी दूसरे से कर श्रवण से दूरी बना ली। जब समलैंगिक पार्टनर ने धोखा दिया तो गुहार लगाने के लिए झारखंड हाईकोर्ट पहुंच गया।

श्रवण का कहना है कि हमलोग लगातार एक दूसरे के साथ रिश्ते में थे। पिछले 8 साल से लगातार हमलोग आपस में शारीरिक संबंध बना रहे थे लेकिन जब हमारे समलैंगिक पार्टनर ने शादी कर लिया तो वह मुझसे मिलने आना भी छोड़ दिया। श्रवण कुमार का कहना है इस संबंध में हमने आरोपी युवक के घरवालों को भी सूचना दी तो उल्टे वह मुझे ही जान से मारने की भी धमकी देने लगे।

यही वजह है कि हमने झारखंड हाईकोर्ट में मुकदमा फाइल करने का निर्णय लिया। श्रवण कुमार का कहना है कि जब आईपीसी की धारा 377 सरकार ने ही हटा लिया है तो समलैंगिक संबंध पूरी तरह मान्य है ।इसी आधार पर हम कोर्ट में अपने रिश्ते को पाने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ेंगे।

Comments are closed.