बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – बिहार में शराबबंदी का सच देखिए, जिन कंधों पर है इसे लागू करने का जिम्मे वो ही सरेआम कर रहे है मदिरापान

शराब के साथ वायरल तस्वीर में दिखाई दे रहे दारोगा अवधेश सिंह का विवादों से चोली दामन का रिश्ता है। एसपी विकास बर्मनने त्वरित कार्रवाई करते हुए तत्काल दारोगा को निलंबित कर दिया है।

995

पटना Live डेस्क। सूबे में सुशासन की सरकार है। ऐसा दावा करने का कोई मौका सत्ताधारी दल के नेता नही छोड़ते है। सुशासन का मतलब कानून का राज होता है। बक़ौल कानून बिहार में शराब पीना पिलाना बेचना आपरध है। इस अपराध को रोकने का जिम्मा पुलिस और आबकारी विभाग के जिम्मेहै। लेकिन हक़ीक़त यह है कि शराब बिहार में कही नही बिकता दिखाई देता है पर हर जगह उपलब्ध है। खैर, अब बात उन कंधों की जिनके जिम्मे “शराब के अवैध धंधे” पर लगाम लगाने की जिम्मेदारियों का बोझ है।

लेकिन हकीकत तो देखिए ये जनाब है समस्तीपुर जिले केबिथान थाना के एसआई अवधेश सिंह है। जनाब शराब बंदी की जिम्मेदारी निभाते निभाते इतना थक गए कि सरेआम शराब का लुत्फ उठाते हुए नशे टुन्न हो गए। फिर किसी ने बावर्दी उनकी तस्वीर खींच वायरल कर दिया। फिर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।इससे पुलिस की छवि जो पहले से ही बिगड़ी है और बिगड़ गई। लोग पुलिस पर सवाल उठा रहे कि जब शराबबंदी में पुलिस वालों का ये हाल है तो आम जनता का क्या होगा?

विवादों से दरोगा का रहा है पुराना नाता

ये वही दरोगा हैं जिनका एक वीडियो कुछ दिन पहले वायरल हुआ था। जिसमें वे तीन लड़कों को हाथ बांधकर बुरी तरह पिटाई करते नजर आ रहे थे। इसे वर्दी की हनक कहें या प्रशासनिक रसूख, जो वर्दी तो कानून पालन की शपथ् लेकर पहनते हैं, लेकिन खुद कानून की धज्जियां उड़ाने लगते हैं। पिटाई करते दरोगा का वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने रोसड़ा एसडीपीओ को पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया था।

अभी रिपोर्ट सामने भी नहीं आई है। लेकिन इसी बीच शराब पीते दारोगा जी एक और फोटो वायरल हो गई। शराब के साथ फोटो वायरल मामले पर एसपी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तत्काल दारोगा को निलंबित कर दिया है। वहीं, पिटाई वाले वीडियो मामले पर कहां कि एसडीपीओ को जांच का निर्देश दिया गया है, साथ ही उन्हें पीड़ित परिवार से मिलने को कहा गया है।

Comments are closed.