सहरसा में बेलगाम अपराधियों का तांडव ज़ारी, हथियारबंद बदमाशों ने अलग-अलग वारदातों में दो लोगों को मारी गोली

57
Crime city Saharsha Bihar

पटना Live डेस्क। बिहार का सहरसा जिला सूबे का क्राइम डिस्ट्रिक्ट बनता जा रहा है। आये दिन बेखौफ गुंडे लूट, हत्या जैसी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। ताज़ा मामले में जिले के बिहरा थाना अंतर्गत हथियार बंद अपराधियों ने अलग – अलग वारदातों में दो लोगों को गोली मार दी। पहली घटना में बिजलीपुर निवासी सीताराम चौधरी को गुंडों ने निशाना बनाया वहीं बिहरा थाना अंतर्गत ही खोन्हा गांव के नज़दीक हथियार से लैस बदमाशों ने मधेपुरा जिले के भतरंधा निवासी नरेश यादव को गोली मार दी।

मिल रही जानकारी के अनुसार बिजलीपुर निवासी सीताराम चौधरी हर दिन की तरह अपना दुकान बंद कर घर जा रहा था इसी क्रम में रास्ते में घात लगाए अपराधियों ने उनको रोका और पैसा मांगने लगे। जब चौधरी ने पैसा नही दिया और थोड़ा सख्ती से पेश आया तो अपराधी ने उनके जांघ में गोली मार दी जिसके बाद व्यवसायी को आनन फानन में जिले के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां पर उसका इलाज जारी है।

वहीं दूसरे वारदात में पंचगछिया स्टेशन पर ‘अपना प्रिंटिंग प्रेस’ के कारोबारी मधेपुरा जिले के भतरंधा निवासी नरेश कुमार को भी अपराधीयों ने गोली मार कर घायल कर दिया। नरेश के भाई अरुण ने बताया कि शादी का माहौल है और नरेश किसी व्यक्ति के शादी का कार्ड लेने पंचगछिया से सहरसा जा रहा था उनको भी खोन्हा चौक के पास मोटरसाइकिल पर सवार तीन अज्ञात अपराधी ने गोली मार दिया एवं 20 हजार रुपया भी लूट लिया। दोनों घायल का ईलाज स्थानीय अस्पताल में जारी है। घटना के बाद क्षेत्र के लोग भयभीत है।

घटना कि सूचना मिलते हीं पुलिस अपराधियों को पकड़ने के लिए लगातार छापेमारी कर रही है। बिहरा थानाध्यक्ष रणवीर कुमार ने बताया कि जल्द ही घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों की गिरफ्तारी कर ली जायेगी।

गौरतलब है कि हाल के दिनों में जिले में क्राइम का ग्राफ काफी बढ़ गया है। अपराधियों के मन से पुलिस का खौफ समाप्त हो गया है। लगातार आपराधिक घटनाओं को अंजाम देकर पुलिस प्रसाशन को अपराधी खुली चुनौती दे रहे हैं।
रिपोर्ट : राजीव कुमार झा

Loading...