बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News-SSP साब कहा था न पटना के थानों में बहार है तभी तो रिटायर्ड डीएसपी को बेहोश होने तक पीटा,दो आरोपितों को थाने से ही छोड़ दिया गया

Patna News: पटना में बाइकर्स का आतंक बढ़ता ही जा रहा है। रविवार को बाइकर्स ने एक रिटायर्ड डीएसपी को बुरी तरह धुन डाला। उन्‍हें इतना पीटा कि वे बेहोश ही हो गए। इसके बाद पटना पुलिस ने तो सारी वर्जनाओं को ही तोड़ने वाला काम किया।

492

पटना Live डेस्क। बिहार में गुंडई चरम पर है। जब वर्दी वालो की जमकर कुटाई हो रही है। तो रिटायर्ड पुलिस वालों की क्या वकत है। इसकी बानगी दिखी पटना के व्‍यस्‍त इलाके में रविवार को एक रिटायर्ड डीएसपी की पिटाई दो युवकों ने कर दी। मामला राजीव नगर थाना क्षेत्र के जयप्रकाश नगर नाले की समानांतर सड़क पर हुआ।लहरिया कट बाइकर्स ने रोडरेज के दौरान रिटायर्ड डीएसपी नरेश प्रसाद शर्मा की बुरी तरह पिटाई कर दी। बाइक सवार लड़के बेहोश होने तक उन्हें लाठी-डंडे से पीटते रहे।

दोनों बाइकर्स को पकड़कर थाने ले आए डीएसपी

रिटायर्ड डीएसपी की पिटाई होते देखकर घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। स्थानिए लोगों ने सेवानिवृत अधिकारी के चेहरे पर पानी छिड़ककर उन्हें होश में लाया। जब उनकी आंखें खुली तो दो लड़के वहीं खड़े थे। स्थानीय लोगों की मदद से रिटायर्ड डीएसपी ने दोनों को पकड़ लिया और राजीव नगर थाने पर चले गए।

पुलिस ने दोनों आरोपितों को थाने से छोड़ा

पीड़‍ित का आरोप है कि थाने का मुंशी सुलह कराने के लिए दबाव बनाता रहा। जब वे राजवंशी नगर अस्पताल में इलाज कराने गए तो दोनों लड़कों को थाने से ही छोड़ दिया गया। डीएसपी (विधि-व्यवस्था) संजय कुमार के हस्तक्षेप पर मामला शांत हुआ और सोमवार को पुलिस ने नरेश प्रसाद शर्मा को प्राथमिकी की एक प्रति उपलब्ध कराई।

पुलिस बोली- जांच के बाद जुटेंगी धाराएं

हालांकि, उसमें कई धाराएं अंकित नहीं होने का भी रिटायर्ड डीएसपी ने आरोप लगाया है। पुलिस का कहना है कि जांच के बाद अन्य धाराएं भी जोड़ी जाएंगी। नरेश प्रसाद शर्मा अपने कार्यकाल में ढाई साल तक सचिवालय थाने के थानाध्यक्ष रहे थे।

कार से घर लौट रहे थे रिटायर्ड डीएसपी

बताया जाता है कि सेवानिवृत अधिकारी कार से जयप्रकाश नगर नाले के समानांतर रोड से आशियाना फेज वन स्थित घर लौट रहे थे। इस बीच दो तीन लहरिया कट बाइकर्स उनकी गाड़ी के आगे से गुजरे, लेकिन एक बाइक उनकी कार से टकरा गई। टक्कर लगते ही बाइक सवार दो युवक सड़क पर गिर गए।इसके बाद रिटायर्ड डीएसपी ने कार रोकी और उन्होंने लड़कों की ठीक से गाड़ी चलाने की सलाह दी। इस पर दोनों युवक और उनके साथी आग-बबूला हो गए। उन लड़कों ने लाठी-डंडे से नरेश प्रसाद की बुरी तरह पिटाई कर दी।

छोड़ दीजिए सर बोला थाने का मुंशी

रिटायर्ड डीएसपी के अनुसार, उनके साथ सड़क पर गुंडागर्दी करने वाले दो लड़के को जब वे राजीव नगर थाने में लेकर गए तो मुंशी आरोपितों की ही तरफदारी करने लगा। उसने नरेश प्रसाद से कहा कि सर छोड़ दीजिए, ये सब बच्चा है। गलती हो गई, माफ कर दीजिए। बावजूद इसके रिटायर्ड डीएसपी प्राथमिकी कराने पर अड़े रहे। थाने में हंगामे की सूचना पर डीएसपी पहुंचे, फिर उन्हें इलाज के लिए स्लिप के साथ राजवंशी नगर अस्पताल भेजा गया। तब जाकर मामला शांत हुआ।

Comments are closed.