उधर लालू प्रसाद और तेजस्वी से सीबीआई की पूछताछ..इधर राजद-जेडीयू नेताओं के बीच चल रहे बयानों के तीर..

पटना Live डेस्क.   रेल टेंडर घोटाला मामले में एक तरफ राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद और उनके बेटे तेजस्वी यादव से सीबीआई पूछताछ कर रही है…वहीं दूसरी तरफ दोनों पार्टियों राजद और जेडीयू नेताओं के बीच बयानों के तीर चल रहे हैं…इस मुद्दे को लेकर सूबे में राजनीति चरम पर है..और दोनों दलों के नेता एक दूसरे पर निशाना साध रहे हैं…एक ओर जहां जदयू नेता अजय आलोक ने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव पर तंज कसते हुए कहा है कि.. भ्रष्टाचार के लिए अब नया मुहावरा निकलेगा- लालू नहीं बचे तो और कौन बचेगा? उन्होंने कहा कि लालू आजादी की जंग लड़ने दिल्ली नहीं गए हैं, बल्कि अपनी करनी का फल भोगने गए हैं.. अपने नौकर-चाकर से जमीन लेंगे तो बचेंगे क्या? अ्भी क्या हुआ है? अभी और कड़ी कार्रवाई होगी…

इसका जवाब देते हुए राजद नेता शक्ति सिंह यादव ने कहा है कि.. लालू जी के परिवार को जान-बूझकर फंसाया गया है.. उनपर बदले की भावना से कार्रवाई की जा रही है… बीजेपी और जदयू मिलकर ये सब कर रहे हैं.. उन्होंने कहा कि एनडीए के नेताओं की संपत्ति पर अनाथालय खोल देना चाहिए…

जदयू नेता नीरज कुमार ने कहा कि लालूजी तो ट्विटर बाबा बने हुए हैं, तो ट्वीट यह भी करना चाहिए न कि सीबीआई ने आपसे क्या-क्या सवाल किया, आपने उस  संपत्ति के सोर्स की क्या जानकारी दी… चूंकि  भ्रष्टाचार के मामले में लालूजी आपको विशिष्टता हासिल है…

वहीं राजद नेता आलोक मेहता ने कहा है कि राजद के नेता से लेकर कार्यकर्ता तक धैर्य से सब कुछ देख रहे हैं, इसका जवाब लोकतांत्रिक तरीके से दिया जाएगा…

जदयू के वरीय नेता सह राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह ने कहा है कि.. बिहार सरकार लालू परिवार के खिलाफ जांच एजेंसियों की कार्रवाई में आवश्यक सहयोग करेगी.. सांसद ने लालू परिवार के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई को जायज ठहराया है…

उन्होनें कहा है कि पूर्व सीएम राबडी़ देवी और उनके बेटे बेटियों की संपत्तियों को लेकर आयकर विभाग कानून सम्मत कार्रवाई कर रहा है… उन्होंने कहा कि लालू यादव और उनके परिवार के सदस्यों नें सत्ता में रहते हुए गलत तरीके से संपत्ति अर्जित किया है.. उन्होंने साफ किया कि भ्रष्टाचार को लेकर अपनी जीरो टॉलरेंस की नीति पर जद यू मजबूती से कायम है…