बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

बालू माफिया का दुःसाहस वैशाली पुलिस की गश्ती टीम को बनाया निशाना, थानेदार को पीट पीट कर किया लहूलुहान अन्य तीन को भी पीटा

194

पटना Live डेस्क। बिहार में बालू माफ़िया किस कदर बेखौफ और ताक़तवर है इसका अंदाज़ा बीती रात वैशाली पुलिस को लगा जब अंधा पैसा और पहुच पैरवी की हनक के नशे में माफिया के गुर्गो ने लालगंज मुख्यमार्ग पर चंद्रालय के पास सदर थाने की गश्ती टीम पर देर देर रात जानलेवा हमला कर दिया। माफिया के गुर्गों ने दुःसाहस का चरम दिखाते हुए लाठी-डंडे और लोहे के रॉड से गश्ती दल पर चौतरफा हमला कर दिया। इस हमले में थानाध्यक्ष चितरंजन ठाकुर गंभीर रूप से घायल हो गए वही अन्य तीन पुलिसकर्मियों को भी काफ़ी चोटें आई हैं। गंभीर रूप से जख्मी थानाध्यक्ष को पीएमसीएच रेफर कर दिया गया है। गंभीर रूप से घायल थानाध्यक्ष को पटना के एक निजी अस्पताल में इलाज ख़ातिर भर्ती कराया गया है। जबकि तीन अन्य पुलिसकर्मियों जमादार लाल बाबू, प्रसाद जी और युगल किशोर सिंह का इलाज सदर अस्पताल में किया जा रहा है।

थानाध्यक्ष पर हुए जानलेवा हमले की ख़बर वायरलेस पर जैसे ही फ्लैश हुई एक बार को तो सभी भौचक्क राह गए और फिर कई थानों की पुलिस और वरीय अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे। पुलिस टीम हमलावरों की पहचान में जुट गई है।

इस दुःसाहसिक घटना के बाबत डीएसपी अजय कुमार ने बताया कि गश्ती टीम हाजीपुर-लालगंज मार्ग पर जा रही थी। इसी दौरान चंद्रालय के पास 12 से 15 की सख्या में पूर्व से घात लगाये लाठी-डंडे से लैश बालू माफिया के गुर्गो ने हमला गश्ती दल पॉर अचानक हमला कर दिया। पुलिसकर्मी जब तक संभल पाते तब तक हमलावरों ने थानाध्यक्ष चितरंजन ठाकुर को लाठी और रॉड से पीटकर लहुलुहान कर दिया। जिस तरीके से हमलावरों ने थानेदार को निशाना बना इससे प्रतीत होता है कि मेन टारगेट थानाध्यक्ष ही थे। बाक़ी अन्य पुलिस कर्मियों डंडे से मारा पीटा गया है। थानेदार को जख्मी कर हमलावर वहां से भाग निकले।वही इस घटना के बाद पूरे महकमे में सनसनी फ़ैलगई है।

राकेश कुमार ,पुलिस अधीक्षक, वैशाली ने बेहद सख्त लहजे में प्रतिक्रिया दी है। हमला करने वाले दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। उनपर सख्त कार्रवाई की जाएगी। हमलावरों पर की गई कार्रवाई एक उदाहरण होगी। रातभर में हमलावरों की पहचान कर गिरफ्तारी सुनिश्चित की जाएगी।

 

Comments are closed.