Breaking Exclusive(वीडियो) अगर आप पटना में रहते है सड़क पर चलते है वाहन चलाते है तो कृपया करके पुलिस वालों से साइड न मागे, वर्ना

1329

शशि यादव, वरीय संवाददाता, पटना

पटना Live डेस्क। बिहार पुलिस का पीपल्स फ्रेंडली चेहरा किस कदर विभत्स होता जा रहा है इसके तमाम उदाहरण समय समय पर खबरो की सुर्खियां बनते रहते है। इसी क्रम में बिहार पुलिस के एक सिपाही की गुण्डई का मामला प्रकाश में आया है। बिहार पुलिस के मुखिया समेत तमाम वरीय पुलिस अधिकारी वर्दीधारियों को आमलोगों से अच्छा व्यवहार करने का लगातार आदेश देते रहते है। लेकिन ज़मीनी हकीकत क्या है यह लिखने की आवश्यकता नही।

Super Exclusive (वीडियो) पिछले 36 घंटे में पटना पुलिस का इक़बाल खत्म ,हत्या, लूट ,रंगदारी, खूनी भिड़त और सरेआम हथियार चमकाते अपराधी से दहशत में आवाम
बदन पर वर्दी की धमक और दंबगई का आलम यह है कि गालीगलौज और लप्पड़ थप्पड़ तो जैसे बिहार के पुलिसकर्मियों का जन्मसिद्ध अधिकार बन गया है। ख़ैर, हालात का अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते है कि बिहार पुलिस मुख्यालय की नाक के नीचे कार सवार एक सिपाही ने मंगलवार की देर रात गांधी मैदान थानाअंतर्गत चिरैयाटांड़ पुल के समीप एक युवक को महज इस लिए थप्पड़ जड़ दिया क्योंकि वो उसकी गाड़ी से साइड मांग रहा था। सिपाही के साथ रहे अन्य युवको ने भी युवक से जमकर बदसलुकी करते हुए धमकियां दी। वही पुलिस वाले ने तो बाकायदा ये तक कह दिया कि ज्यादा करोगे तो गोली मार देंगे। मारपीट का शिकार युवक घटना के वक्त एक दैनिक अखबार से नौकरी कर वापस अशोक नगर स्थित अपने घर लौट रहा था।

पुलिसवाले की गुण्डई के शिकार विपिन ने बताया कि जब उसने विरोध किया तो उक्त पुलिस कर्मी जिसके नेमप्लेट पर ब्रह्मदेव कुमार लिखा था ने जमकर बदसलूकी करते हुए देख लेने की धमकी दी। वही खुद के साथ हुई मारपीट की जानकारी मोबाइल से देते विपिन ने ने पुलिस से संपर्क किया तो 2 गाड़ियों में सवार युवकों का ग्रुप और ब्रह्मदेव कुमार नामक बावर्दी पुलिस वाला घटना स्थल फरार हो गये। लेकिन विपिन ने उसे सिपाही की तस्वीर मोबाइल से क्लिक कर लिया था। घटना के बाद गांधी मैदान थाना पुलिस पहुची और मिले आवेदन पर अपनी जांच प्रारम्भ कर दिया है।

खैर, पीड़ित की जुबानी सुनिए ख़ाकीवाले खलनायक की गुण्डई की कहानी …

Loading...