बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News -लीजिए अब महिला इंस्पेक्टर ने IPS दीपक वर्णवाल के खिलाफ खोला मोर्चा, VRS के लिए दिया आवेदन

753

पटना Live डेस्क। अपने मातहत वरीय इंस्पेक्टर से गाली गलौज के खुलासे से खबरों की सुर्खियों में आए 2010 बैच के बिहार कैडर के IPS अधिकारी सह स्पेशल ब्रांच के SP(A) दीपक वर्णवाल के खिलाफ अब एक महिला इंस्पेक्टर ने मोर्चा खोल दिया है। महिला इंस्पेक्टर का रिटायरमेंट साल 2030 में होना है, लेकिन उन्होंने VRS के लिए आवेदन दे दिया है।

        महिला इंस्पेक्टर अंशु कुमारी ने कहा कि वो बेइज्जत और जलील होकर पुलिस की नौकरी नहीं कर सकती। यह लगातार दूसरा दिन है, जब स्पेशल ब्रांच के SP(A) दीपक वर्णवाल के खिलाफ की गई शिकायतें सामने आई हैं। शनिवार को इंस्पेक्टर अजय सिंह ने उनके ऊपर अभद्र व्यवहार और गाली-गलौज करने का आरोप लगाया था। अजय और अंशु दोनों ही बिहार पुलिस में 1994 बैच के इंस्पेक्टर हैं।

महिला इंस्पेक्टर अंशु पटना के एक बड़े डॉक्टर की वाइफ हैं। उनकी पोस्टिंग पहले स्पेशल ब्रांच में थी। वर्तमान में बेगूसराय जिला पुलिस में हैं। साल 2012 के एक मामले में महिला इंस्पेक्टर अंशु के ऊपर डिपार्टमेंटल प्रोसिडिंग चल रही है।उक्त मामले में डिपार्टमेंटल प्रोसिडिग संचालन प्रभारी SP(A) दीपक वर्णवाल हैं। आरोप है कि वो कार्रवाई के दौरान बहुत परेशान करते हैं। महिला इंस्पेक्टर के साथ भी असंसदीय भाषा का इस्तेमाल करते हैं।

महिला इंस्पेक्टर अंशु कुमारी ने कहा कि आत्म सम्मान से समझौता नहीं किया जा सकता है। इसलिए पुलिस की नौकरी छोड़ दी जाए। मेरे साथ हुए व्यवहार से पूरा परिवार दुखी है। मानसिक तौर पर परेशान है। VRS के लिए 26 जुलाई 2021 को ही बेगूसराय के SP को एक लेटर लिखा। जिसकी कॉपी DGP, IG हेडक्वार्टर और बेगूसराय के DIG को भेज दी गई।

दीपक वर्णवाल IPS अधिकारी हैं। बड़े अधिकारी होने के कारण महिला इंस्पेक्टर ने कहा कि वो उनसे लड़ नहीं सकती है, इसलिए वो चुपचाप नौकरी छोड़ रही थीं। मगर, शनिवार को जब इंस्पेक्टर अजय सिंह का मामला सामने आया तो उन्हें हिम्मत मिली और अब वो खुलकर सामने आ गईं। वही विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि SP(A) दीपक वर्णवाल के खिलाफ अभी एक दर्जन से अधिक पुलिस वालों की शिकायतें सामने आ सकती है।

मामला गंभीर, सरकार से मिलेगा शिष्टमंडल

पहले इंस्पेक्टर अजय सिंह और अब महिला इंस्पेक्टर अंशु कुमारी, लगातार सामने आए इन दोनों मामलों को बिहार पुलिस एसोसिएशन ने पूरी गंभीरता से लिया है।अध्यक्ष मृत्युंजय कुमार सिंह इन मामलों को लेकर जल्द ही सरकार के पास जाने वाले हैं। एसोसिएशन का एक शिष्टमंडल सरकार से मिलेगा। साथ ही पुलिस मुख्यालय के बड़े अधिकारियों के पास भी स्पेशल ब्रांच के SP के खिलाफ अपनी शिकायत दर्ज कराएगा। दीपक वर्णवाल के व्यवहार को लेकर पूरे मामले की जांच कराने और उन पर कार्रवाई करने की मांग करेगा।

Comments are closed.