बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

अब Bhopal में विसर्जन जुलूस में घुसी तेज रफ्तार कार देखिए Live Video

विसर्जन जुलूस के दौरान फुल स्पीड में घुसाई कार, रिवर्स करते हुए 4 लोगों को रौंदा, आरोपी गिरफ्तार

445

पटना Live डेस्क। फिर एक बार रफ्तार के कहर बरपा है।ये चौंकाने वाली घटना भोपाल के बजरिया थाना इलाके की है,जहां शनिवार रात करीब 11 बजे के बाद बड़ी संख्या में लोग दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के लिए जा रहे थे। इसी दौरान अचानक ही एक शख्स तेज रफ्तार कार लेकर जुलूस में घुस आया और चार लोगों को रौंदते हुए भागने लगा।

अब मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में विगत दिनों पहले छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के पत्थलगांव में हुई बेहद खौफनाक घटना की पुनरावृत्ति हुई है। उल्लेखनीय है कि अभी 2 दिन पहले 15 अक्टूबर को ही छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे लोगों पर एक व्यक्ति ने तेज रफ्तार कार चढ़ा दी थी। इस घटना में एक व्यक्ति की मौत भी हो गई थी, जबकि कई घायल हुए थे।घटना के बाद पूरे इलाके में तनाव काफी तनाव का माहौल हो गया था। गुस्साए लोगों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी थी। गाड़ी चला रहे व्यक्ति को भी जमकर पीटा था।हादसे के वक्त पत्थलगांव में 7 दुर्गा पंडालों की मूर्तियां विसर्जित करने के लिए लोग नदी में लेजा रहे थे।अचानक आई तेज रफ्तार कार ने विसर्जन के लिए रही भीड़ को रौंद दिया था।

ठीक वैसी ही वारदात अब मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से सामने आई है। यहां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के लिए जा रही भीड़ में एक तेज रफ़्तार बेकाबू कार घुस गई. कई लोगों को टक्कर मारी, कुचला। 7 लोग घायल बताए जा रहे हैं, जिनमें से एक की हालत गंभीर है। सभी का इलाज चल रहा है।

घटना 16 अक्टूबर, शनिवार की रात की है।भोपाल में रेलवे स्टेशन के पास बजरिया तिराहे पर दुर्गा प्रतिमा का जुलूस निकल रहा था।काफी भीड़ थी। तभी एक तेज रफ़्तार बेकाबू कार अचानक भीड़ के बीच में घुस गई। कई लोगों को टक्कर लगी।कोई कुछ समझ पाता, इससे पहले कार ड्राइवर ने भागने के लिए इतनी ही तेज रफ़्तार में कार को रिवर्स किया।रिवर्स लेते हुए भी एक बच्चा कार के पहिए की चपेट में आ गया। बच्चे समेत अन्य सभी घायलों का अस्पताल में इलाज कराया जा रहा है।

भीड़ ने कार के पीछे भागकर ड्राइवर को पकड़ने की कोशिश की लेकिन वो भाग गया। घटना के वीडियो के आधार पर पुलिस ने उसे ढूंढने की कोशिश शुरू की। बताया जा रहा है कि कार में एक से अधिक लोग सवार थे।कार का नंबर निकलने के लिए आसपास के CCTV फुटेज की जांच की गई और 17 अक्टूबर की दोपहर तक कार ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया गया और कार को भी ज़ब्त कर लिया गया है।

Comments are closed.