बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Bihar News-7 दलों संग 8वीं बार नीतीश कुमार बनेंगे CM तेजस्वी भी लेंगे दूसरी बार डिप्टी CM की शपथ JDU-RJD के हो सकते हैं 14-14 मंत्री

सूबे में बड़ा सियासी उलटफेर करने के बाद नीतीश कुमार बुधवार की दोपहर दो बजे फिर सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं। बिहार में कुल 7 पार्टियों के सहयोग से बनेगी सरकार,35 मंत्रियों का होगा मंत्रिमंडल

345

पटना Live डेस्क। सूबे में बड़ा सियासी उलटफेर करने के बाद नीतीश कुमार बुधवार 10 अगस्त दोपहर 2 बजे पुनः एक बार फिर से सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं। कुल 7 पार्टियों के सहयोग से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में सरकार बनने जा रही है।नीतीश कुमार आठवीं बार सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं। उनके साथ ही राजद के अघोषित सुप्रीमो तेजस्वी यादव भी दूसरी बार बतौर उपमुख्यमन्त्री के तौर पर शपथ लेने वाले हैं। साथ ही लालू यादव के ज्येष्ठ सुपुत्र तेजप्रताप यादव भी शपथ लेंगे और अन्य मंत्रीगण भी।

14-14 मंत्री RJD-JDU के बाकी अन्य दलों के

आठवीं बार मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने जा रहे नीतीश कुमार के मंत्रिमंडल को लेकर अबतक कोई औपचारिक घोषणा नही की गई है। लेकिन नीतीश कुमार की नई सरकार के नए मंत्रिमंडल को लेकर जो खबरें मिल रही हैं। कहा जा रहा है कि 35 मंत्रियों का एक मजबूत मंत्रिमंडल बनाया जाएगा। इसमें दोनों जेडीयू और आरजेडी के खाते में 14 मंत्रालय जा सकते हैं। वही प्रमुख सहयोगियों में कांग्रेस को तीन मंत्रिपद और लेफ्ट को 2 मंत्रालय दिया जा सकते हैं।वही पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के चार (4) विधायकों वाले सियासी दल हम(स) को भी एक मंत्रालय मिल सकता है। उल्लेखनीय है अभी तक मंत्रिमंडल को लेकर न तो कोई औपचारिक ऐलान हुआ है ना ही दोनों प्रमुख दलों राजद व जदयू की ओर से ही सहयोगी दलों की ओर से कोई घोषणा की गई है। लेकिन नीतीश कुमार ने महागठबंधन के पाले शामिल होने और सरकार बनाने की प्रक्रिया शुरू होते ही सत्ता के गलियारों में मंत्रालय व मंत्रियों को लेकर चर्चा जोर पकड़ने लगी है।

मंगल के दिन महागठबंधन

बिहार की राजनीति में बड़ी उथल-पुथल का दिन साबित हुआ मंगलवार का दिन। सबसे पहले नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मिलकर अपना इस्तीफा सौंपा और फिर सीधे राबड़ी देवी के आवास पहुचकर तेजस्वी यादव से मुलाकात की।उस मुलाकात में नीतीश ने महागठबंधन से नाता तोड़ने पर अफसोस जाहिर किया और एक नई शुरुआत का आगाज कर दिया। इसके बाद नीतीश कुमार तेजस्वी संग पुनः एक बार फिर राज्यपाल से मिलने गए और उनके समक्ष नई सरकार बनाने का दावा पेश करते हुए 7 दलों के कुल 164 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी राज्यपाल को सौंपी गई।

Comments are closed.