बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – वर्ष 2019 में सुशासन बाबू हुए “गरीब” तो वही सुशील मोदी की संपत्ति मे हुआ इज़ाफ़ा

131

पटना Live डेस्क। नए वर्ष ट्वेंटी20 के प्रथम दिन ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों ने अपनी सालाना संपत्ति का लेखा जोखा पेश कर दिया। यानी वर्ष 2019 में अपनी आमदनी की घोषणा कर दी है। इस वार्षिक घोषणा का दिलचस्प पहलू ये है कि एक ओर जहां सीएम अपने बेटे की तुलना में जहाँ बेहद गरीब है वही इस बार के सालाना घोषणा में पिछले साल की तुलना में सुशासन बाबू गरीब हो गए हैं।

नीतीश  हुए ‘गरीब’, सुशील मोदी की संपत्ति बढ़ी

नए साल के पहले दिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत उनके मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों ने अपने सालाना संपत्ति की घोषणा कर दी है। इस बार के सालाना घोषणा में दिलचस्प बात यह रही कि पिछले साल की तुलना में नीतीश कुमार गरीब हो गए हैं। जबकि सुशील मोदी हर साल की तरह इस साल भी उनसे ज्यादा अमीर हैं।

पिछले साल से कम हुई मुख्यमंत्री की संपत्ति

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जो संपत्ति का ब्यौरा साझा किया है। उसके अनुसार उनके पास पिछले साल 42,500 ₹ नकदी थी जो इस साल घटकर 38,039 ₹ हो गई है। वही बैंकों में पिछले साल नीतीश कुमार के पास 42000₹ थे जो घटकर 40000₹हो गए हैं।नीतीश कुमार के पास दिल्ली में एक फ्लैट है। कुल मिलाकर नीतीश के पास 16 लाख 28 हजार की चल तथा 40 लाख की अचल संपत्ति है।

डिप्टी सीएम 1 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति के मालिक

मुख्यमंत्री की तुलना में अगर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की संपत्ति के ब्यौरे को देखे तो नीतीश कुमार के बनिस्पत सुशील मोदी काफी अमीर है। भाजपा के सूबे के हैवीवेट सियासी शख्सियत सुशील मोदी के द्वारा किए गए संपत्ति की घोषणा के अनुसार उनके पास 1 करोड़ 26 लाख की चल और अचल संपत्ति है। अपने संपत्ति के बाबत सुशील मोदी ने बताया है कि दिल्ली से सटे नोयडा में (यूपी के गौतमबुद्ध नगर ज़िला है) एक मकान। लेकिन गौर करने वाली बात यह है कि डिप्टी सीएम अपनी पत्नी रेखा मोदी जिनकी घोषित सम्पती 1 करोड़ 65 लाख रुपये है के बनिस्पत गरीब है।

मंत्रियों ने की असलहों की घोषणा

वही, नीतीश कुमार के कैबिनेट के मंत्री गण ने भी अपनी चल अचल और असलहों के बाबत घोषण करते हुए वार्षिक विवरण साझा कर दिया है। शिक्षा मंत्री कृष्ण नंदन वर्मा ने संपत्ति के विवरण में उनके पास एक जर्मन बंदूक होने की घोषणा की है। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री अजय कुमार सिंह ने संपत्ति के बारे में घोषणा की है कि उनके पास एक पिस्तौल और एक राइफल है। भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने भी घोषणा की है कि उनके पास एक लाख रुपये मूल्य का  रिवॉल्वर है जबकि उनकी पत्नी के पास भी ₹2.5 लाख रुपए का रिवॉल्वर है। वही कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने भी संपत्ति के ब्योरे में घोषणा की है कि उनके पास राइफल, बंदूक और रिवाल्वर, तीनों हथियार हैं।

Comments are closed.