बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG Breaking(Live uncut video) लखीसराय में अपराधियों का तांडव हत्याकाण्ड में गवाह को साथी समेत मारी गोलिया,मौत से गुस्साए लोगों ने पुलिस वाहन में की तोड़फोड़

लखीसराय के चर्चित रामाकांत यादव हत्याकांड के गवाह की सोमवार को ही थी गवाही, अपराधियों ने महज कुछ घण्टे पहले उतारा मौत के घाट

336

पटना Live डेस्क।बिहार के लखीसराय जिले के किऊल थाना क्षेत्र के हक़ीमगंज में आरा मिल के समीप रविवार की शाम बाइक सवार दो की संख्या में अपराधियों ने सरेशाम युवक पर गोलियों की बौछार कर मौत के घाट उतार दिया। घटना से कोहराम मच गया है। मिल रही जानकारी के अनुसार हकीमगंज में सरेशाम अपराधियों ने पूर्व में कत्ल कर दिए गए रामकांत यादव की हत्या के मुख्य गवाह उसके भांजे खगौर निवासी महेश यादव के पुत्र विकास कुमार की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी है। उल्लेखनीय है कि मक़तूल युवक को कल यानी सोमवार को अपने मामा रमाकांत यादव जिनकी बुधवार 11 अक्टूबर वर्ष 2017 में विद्यापीठ चौक पुल पर शाम को साढ़े 7 बजे अपने घर खगौर, किऊल जाने के दौरान NH80 पर अपराधियों ने गोली मारकर कर दी थी, उक्त हत्याकाण्ड में कोर्ट में गवाही देनी थी।

                 लखीसराय जिले के किऊल थाना क्षेत्र के हकीमगंज के आरा मिल के समीप रविवार की शाम बाइक सवार दो की संख्या में अपराधियों ने विकास कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी। इस दौरान अपराधियों की गोली लगने से एक अन्य युवक खगौर निवासी प्रभु वर्मा के पुत्र रवि वर्मा भी जख्मी हो गए। उसे इलाज के लिए विद्यापीठ चौक स्थित एक हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

इस घटना के विरोध में आक्रोशित ग्रामीणों ने गढ़ी मोड़ के समीप एनएच 80 को जाम कर यातायात बाधित कर दिया है। मृतक विकास कुमार मुंगेर-जमुई सेंट्रल को-ऑपरेटिव बैंक के निदेशक रहे खगौर निवासी रामाकांत यादव की भांजा था। वह रमाकांत यादव हत्याकांड के केस का गवाह था। जिसकी गवाही सोमवार को होनी थी।

मक़तूल विकास मूल रूप से शेखपुरा जिले के मकदमपुर गांव का रहने वाला था लेकिन उसकी मां मायके में ही बस गई। अन्य दिनों की तरह रविवार की शाम भी विकास कुमार अपने बच्चों को बाइक पर बैठाकर घुमाने ले जा रहा था। इसी दौरान किऊल-गढ़ी रोड पर हकीमगंज आरा मिल के समीप बाइक पर सवार दो की संख्या रहे अपराधियों ने विकास कुमार पर दो गोलियां चलाई जिसमें से एक गोली विकास कुमार के सिर में लगी। जबकि दूसरी गोली समीप खड़े प्रभु वर्मा के पुत्र रवि वर्मा के हाथ में लगी। स्थानीय लोगों ने विकास कुमार एवं रवि वर्मा को विद्यापीठ चौक स्थित एक निजी हॉस्पिटल पहुंचाया जहां चिकित्सक ने विकास कुमार को मृत घोषित कर दिया। जबकि रवि वर्मा का इलाज चल रहा है। देखिए लखीसराय हत्याकांड का uncut वीडियो Live

इस घटना के विरोध में आक्रोशित लोगों द्वारा लखीसराय थाना क्षेत्र के गढ़ी मोड़ के समीप एनएच 80 को जाम कर दिया। जाम के काफी देर बाद वहां पहुंची लखीसराय थाना पुलिस पर उग्र लोगों ने पथराव कर दिया। इससे पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हो गया है। उधर गोली मारने के बाद अपराधी अपनी पल्सर बाइक वहीं छोड़ फरार हो गया।

सरेशाम अंजाम दी गई घटना से नाराज ग्रामीणों का गुस्सा फुट पड़ा और वारदात की सूचना पर घटना स्थल पर पहुचे क्युल थानाध्यक्ष की गाड़ी में जमकर तोड़फोड़ कर दी और शव के साथ सैकड़ो लोग NH80 पर जमे है।

वही, दूसरी तरफ घटना के बाद पल्सर छोड़ फरार अपराधियों के तलाश में दबिश देना शुरू कर दिया है। वहीपुलिस ने पल्सर को जब्त किया है। बाइक जेल में बंद रंजीत बिद के चचेरे भाई की बताई जा रही है। रंजीत बिद रमाकांत यादव हत्याकांड मामले में ही जेल में बंद है। उधर पुलिस ने वृंदावन के दो संदिग्ध युवकों को हिरासत में लिया है।

घटना के बाद से आक्रोशित लोगों ने NH80 को अभी भी जाम कर रखा है। घटना से आक्रोशित लोगों के कहना है कि हत्यारों की गिरफ्तारी होगी तभी जाम हटेगा।

Comments are closed.