बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

नगर निकाय कर्मचारियों की हड़ताल सातवें दिन भी जारी, हर तरफ फैला है कचरा

436

पटना Live डेस्क। बिहार में नगर निकाय कर्मचारियों की हड़ताल सातवें दिन भी जारी है। रविवार को नगर विकास के प्रधान सचिव की ओर से गठित कमेटी और सफाई कर्मचारियों की बैठक हुई। हालांकि अंतिम दौर की बैठक बेनतीजा रही। मीटिंग में कमेटी और हड़ताली कर्मचारियों के बीच कुछ मुद्दों को लेकर सहमति नहीं बनी। हड़ताल की वजह राजधानी पटना, मुजफ्फरपुर, छपरा, कटिहार, मोतिहारी, भागलपुर, और गया समेत कई जिलों में गंदगी फैलने लगी है। जिस वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल मजदूर संघ की कुछ मांगों को लेकर मामला फंस गया है। इसके लिए नगर विकास विभाग ने वित्त विभाग का हवाला दिया है। वेतनमान 18 से 21 हजार तक करने, ग्रुप डी के खत्म हुए पदों को बहाल करने और दस साल या उससे अधिक अवधि तक काम कर चुके कर्मियों को स्थायी करने जैसी कुछ अन्य मांगों को लेकर नगर विकास विभाग को आर्थिक बोझ बढ़ने की आशंका हैं। इसके अलावा विभाग का मानना है कि इसके बाद दूसरे विभागों में भी स्थायीकरण की मांग उठ सकती है।

बिहार नगर निकाय कर्मचारी स्थायीकरण, न्यूनतम वेतन समेत कई अन्य मांगों को लेकर हड़ताल पर हैं। बिहार लोकल बॉडीज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा एवं बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ के बैनर तले चल रही हड़ताल को श्रमिक संघटन इंटक का भी साथ मिल रहा है। जिसमें सभी वर्गों के कर्मचारी भी शामिल है।

Comments are closed.