बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Munger News-49 लाख लूट का महज 10 घंटे में उद्भेदन,11 दिन पहले थानेदारी संभालने वाले धीरेंद्र पांडेय को DIG ने प्रशस्ति पत्र से नवाज़ा

Munger News-49 लाख लूट का महज 10 घंटे में उद्भेदन,11 दिन पहले थानेदारी संभालने वाले धीरेंद्र पांडेय को DIG ने प्रशस्ति पत्र से नवाज़ा

1,040

पटना Live डेस्क। सूबे में बेलगाम अपराधियों का तांडव लगातार जारी है। इसी क्रम विगत सोमवार 18 अक्टूबर को मुंगेर कोतवाली थाना (Kotwali police station) क्षेत्र के शादीपुर इलाके में दिन दहाड़े व्यवसाई के स्टाफ़ से 49 लाख लूट के मामले (Robbery Case)का मुंगेर पुलिस ने खुलासा कर दिया है। मामले में कुल 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं कैश लूट के 45 लाख 12 हजार रुपये भी बरामद किए गए।मामले में पुलिस ने एक दंपती (पति-पत्नी )सहित एक अन्य महिला को गिरफ्तार किया है। उसकी निशानदेही पर पुलिस ने दो अलग-अलग घरों से 44 लाख 13 हजार 900 रुपये कैश बरामद कर लिया। हालांकि लूट कांड को अंजाम देने वाले शातिर चाचा-भतीजा पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। इस बाबत पुलिस का दावा है कि जल्द ही दोनों को धर दबोचा जाएगा।

कैसे,कहाँ व कौन-कौन हुए गिरफ्तार

विगत मंगलवार 19 अक्टूबर को पुलिस कार्यालय में एसपी जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी ने पत्रकारों को बताया कि सोमवार की दोपहर 03:40 बजे कौड़ा मैदान के थोक गल्ला व्यवसायी गोपाल प्रसाद के कर्मी से शादीपुर स्थित मस्जिद के समीप से दिन दहाड़े बदमाशों ने 49 लाख रुपये लूट लिये थे।इस मामले में पुलिस ने घटना वाले मार्ग में लगे CCTV (सीसीटीवी) फुटेज खंगालने के साथ ही कांड का तकनीकी विश्लेषण कर मामले में शामिल दोनों शातिर व दुःसाहसी बदमाशों की शिनाख्त की गई। उसके बाद पता चला कि मामले का मुख्य आरोपी दशरथ यादव उर्फ बहिरा ने लूट के रुपये सोमवार की देर रात जिले के असरगंज थानाक्षेत्र के चोरगांव में अपने बहन-बहनोई के घर में छिपाए हैं। मिली जानकारी पर की छापेमारी की गई तो घर की सीढ़ी के नीचे से बोरे में भरकर ज़मीन में गाड़कर रखे गए 25 लाख रुपये बरामद हुए। कैश की बरामदगी व अपराध में इनके शामिल होना स्पष्ट होते ही आरोपी की बहन जूली देवी एवं उसके पति अनिल यादव को गिरफ्तार कर लिया।

Victim

दोनों पत्नी पति से शुरुआती पूछ ताछ में ही क्लू मिला कि लूट की रकम का कुछ हिस्से को अपराधी ने उसी गांव में रह रही अपनी मौसेरी सास के घर में छुपाया है। तदुपरांत छापेमारी की गई तो वहां से 19 लाख 13 हजार 900 रुपया बरामद कर लिया।लुटेरे की मौसेरी सास ने लूट के रुपयों को घर में बने एक रैक में छिपा कर रखा था।कैश बरामदगी के बाद अपराधी की मौसेरी सास गुंजन देवी को भी पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार कोतवाली थाना क्षेत्र के शादीपुर निवासी कुख्यात अपराधी दशरथ यादव उर्फ बहिरा ने अपने भतीजे सन्नी यादव के साथ मिल कर घटना को अंजाम दिया। दोनों शादीपुर मस्जिद के समीप पूर्व से घात लगाये हुए थे।जैसे ही व्यवसायी का स्टॉफ सौरभ व धर्मेंद्र वहां पहुंचा। वैसे ही दोनों ने पिस्तौल तान दिया और एक ही झटके में रुपये से भरा बैग छीन कर भाग निकले।

DIG मुंगेर ने SHO को प्रशस्ति पत्र से नवाजा

इस शानदार सफलता पर मुंगेर क्षेत्र, मुंगेर के पुलिस उप-महानिरीक्षक ने शानदार सफलता में खड़गपुर थानाध्यक्ष पु.नि.धीरेंद्र पांडेय की महती भूमिका व सटीक नेटवर्किंग और उच्च कोटि के अनुसंधान की भूरी भूरी सराहना करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए प्रशस्ति पत्र प्रदान किया है।

उल्लेखनीय है की पु.नि.धीरेंद्र पांडेय हाल ही में लखीसराय से मुंगेर में स्थान्तरित किए गए है। मुंगेर जिला बल में योगदान देने के बाद महज 11 दिन पहले ही उनके कांड अनुसंधान के अनुभव और बेहद कारगर नेटवर्क को देखते हुए मुंगेर पुलिस अधीक्षक जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी ने पु.नि.धीरेंद्र पांडेय को खड़गपुर थाने की कमान सौंपी है।

Comments are closed.