बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG Breaking (वीडियो) कलयुगी माँ ने की हैवानियत की सारी हदे पार, 15 महीने के अपने ही कलेजे के टुकड़े पर किया चाकू से वार

5

शशि यादव,ब्यूरो कॉर्डिनेटर, पटना

पटना Live डेस्क। कभी कभी कोई ऐसी घटना सामने आ जाती है कि उस पर यकींन करना बड़ा मुश्किल हो जाता है। आँखें उस मंज़र को देखती है कान सुनते है पर दिमाग और दिल के द्वंद्व में आप के सामने सिर्फ और सिर्फ़ ओ गॉड कहने के अलावे कुछ नही होता है।दरअसल दुनिया के तमाम हिस्सों जहां कही भी इंसानी समाज मौजूद है उस समाज में माँ को बेहद आला मक़ाम हासिल है।
एक माँ के लिए अपने बच्चों से बढ़कर कुछ नहीं होता है। एक बच्चा सबसे ज्यादा अपनी मां के हाथ में ही सुरक्षित रहता है। यदि बच्चे पे कोई मुसीबत आए तो मां उसकी जान बचाने के लिए अपनी जान तक कुर्बान कर देती है।लेकिन शायद आधुनिकता के इस चरम काल मे दुनिया में संवेदनशीलता तेजी से दम तोड़ रही है का असर माँ शब्द पर भी असर कर रहा है।


फिर भी क्या आप को ऐसा लगता है की कोई माँ अपने अबोध बच्चे को अपने ही हाथों कत्ल करने का प्रयास कर सकती है ? नही न तकरीबन हम सभी इस मंज़र पर यक़ीन न करे। यकींन नही होता इस बात पर लेकिन हम आप को एक ऐसी ही घटना के बारे में बताने जा रहे है।
जी हां बिहार की राजधानी पटना में एक कलयुगी माँ ने वो जघन्य कांड करने की कोशिश कर दी है जिसको सुनकर आपको होश फ़ाख्ता हो जाएंगे,दिमाग भन्ना जायेगा और दिल जार ज़ार हो जाएगा।

मामला पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र का है। जहां सूत्रों से मिली जानकारी पर जब पटना Live संवाददाता शशि यादव एक निजी नर्सिंग होम के एक कमरे दाखिल हुए तो वहां एक बेड पर एक शख्स लेटा था,तो दूसरे बेड पर मोबाइल की स्क्रीन पर नज़रे गड़ाए एक तकरीबन 5-6 साल की बच्ची लेटी थी।

जब पटना Live संवाददाता ने बेड पर लेटे शख्स से जानना चाहा कि आपके बच्चे को चाकू लगा है। कैसे लगा किसने मारा क्यो मारा और पुलिस केस दर्ज हुआ? वो शख्स कुछ भी कहने को तैयार नही हुया। दरअसल ये शख्स अपनी माँ के हाथों गंभीर रूप से घायल हुए 15 माह के स्नेहिल का पिता है। बातचीत का क्रम अभी जारी ही था कि पीछे से बच्ची ने बताया मदर ने .. फिर क्या था पिता ने कहा बच्चे से पूछ लीजिए , फिर जो उस मासूम ने बताया वो …

Comments are closed.