बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

नहाय खाय के साथ महापर्व छठ शुरू, खरना आज

343

पटना Live डेस्क। आस्था का महापर्व छठ नहाय खाय के साथ सोमवार से शुरू हो गया। इसके साथ ही पटना के साथ ही पूरा बिहार छठमय हो चुका है। मंगलवार को खरना है। नहाय खाय पर छठ व्रतियों ने गंगा में स्नान कर सूर्य की उपासना की। उसके बाद चना दाल, कद्दू की सब्जी और चावल को बनाकर प्रसाद ग्रहण किया। उसके बाद पूरे परिवार के लोगों ने प्रसाद खाया।

मंगलवार को खरना के दिन व्रतियां पूरे दिन उपवास कर शाम में मिट्टी के चूल्हे और आम की लकड़ी पर प्रसाद बनाएंगे। प्रसाद ग्रहण करने के साथ ही व्रतियों का 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू हो जाएगा। बुधवार शाम को अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य दिया जाएगा। गुरुवार को उदयगामी सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही महापर्व छठ का समापन होगा।

कार्तिक शुक्ल पंचमी को मंगलवार शाम में ‘खरना’ या लोहंडा है। खरना का समय शाम 5: 45 बजे से 6: 25 बजे के बीच है। व्रतियां खरना का प्रसाद बनाएंगी। उसके बाद परिवार, रिश्तेदार के लोग प्रसाद ग्रहण करेंगे।

खरना को लेकर हर घरों में पूरे दिन तैयारी चली। गेहूं को धोकर सुखाया गया। इसी गेहूं के आटा से खरना का प्रसाद तैयार होगा। हर घर में छठ के लिए पकवान बनेंगे। गेहूं पिसाई को लेकर शहर के हर इलाके में आटा चक्की वाले अपने मिल की साफ-सफाई की तैयारी पूरी कर ली है। सुबह से इन मिलों में सिर्फ खरना प्रसाद वाले गेहूं की पिसाई होगी।

 

 

 

Comments are closed.