बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

(Live Video)Russia Ukraine War: यूक्रेन के खारकीव में जहाँ हुई भारतीय छात्र की मौत वही फसा है पटना का अभिषेक लगा रहा है गुहार

जारी Russia Ukraine War के दौरान यूक्रेन के खारकीव में गोलीबारी में एक भारतीय छात्र की मौत हो गई है। विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है। विदेश मंत्रालय ने कहा, ''गहरा दुख के साथ हम पुष्टि करते हैं कि आज सुबह खारकीव में गोलाबारी में एक भारतीय छात्र की जान चली गई।मंत्रालय उनके परिवार के संपर्क में है।

440

पटना Live डेस्क। रसिया यूक्रेन के बीच जारी जंग के बीच यूक्रेन में एक भारतीय छात्र की मौत हो गई है।विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी। मंगलवार को यूक्रेन के शहर खारकीव में रूस ने जोरदार बमबारी की जिसमें भारत का एक छात्र मारा गया। मरने वाला युवक कर्नाटक का रहने वाला था।विदेश मंत्रालय ने घटना पर शोक जताया है और सभी भारतियों को वहां से निकालने के प्रयास तेज किये हैं।कहा जा रहा है कि भारतीय युवक की मौत गोली लगने से हुई है। मृतक छात्र की पहचान नवीन के रूप में हुई है।

इसी बीच बद से बदतर होते हालात के बीच अभी भी हजारों छात्र यूक्रेन के विभिन्न शहरों में फसे हुए और सेफ हाउस या बंकरों में बिना खाना पानी के लगभग कैद है।इसी बीच बिहार की राजधानी पटना के एक छात्र ने खुद को बचाने की गुहार लगाते हुए Patna Live न्यूज़ से व्हाट्सएप के जरिए संपर्क किया है।

                संपर्क करने वाला पटना निवासी छात्र उसी खारकीव (kharkiv) शहर के मेडिकल हॉस्टल के सेफ हाउस में अपने साथियों संग फसा हुआ है जहाँ मंगलवार की सुबह रशियन सेना की गोलाबारी में एक भारतीय छात्र की जान चली गई जब वो भूख से व्याकुल होकर खाने की तलाश में निकला था। इस खबर के बाद से पटना सिटी स्थित अभिषेक के परिजन बुरी तरह से डरे सहमे है। वही खारकीव के उस बंकर की वीडियों पटना Live को ताज़ा हालात के वीडियों भेजे के दौरान न केवल अभिषेक बल्कि यूपी, हरियाणा के छात्रों ने भी वीडियों में खुद को सुरक्षित निकालने की गुहार लगाई। सुनिए क्या कह रहे है अभिषेक और अन्य भारतीय स्टूडेंट्स

                यूक्रेन में फंसे भारतीयों की वापसी के लिए भारत सरकार ने भारतीय वायु सेना के C-17 ग्लोबमास्टर विमानों को उतारने का निर्णय किया है। युद्धभूमि में अब वायुसेना का सबसे ताकतवर विमान भारतीयों को वहां से सकुशल वतन वापसी कराएगा।ऑपरेशन गंगा के तहत यह अभियान चलाया जा रहा है।

               पीएम मोदी ने यूक्रेन के हालात पर मंगलवार को एयर फोर्स से बात की है।उन्होंने C-17 ग्लोबमास्टर के सहारे यूक्रेन में फंसे भारतीयों को सुरक्षित लाने की योजना बनाई है। माना जा रहा है कि गाजियाबाद में हिंडन एयरबेस से सी-17 ग्लोबमास्टर (मालवाहक विमान) रवाना हो सकते हैं।यह विमान एक बार में ही 500 से ज्यादा स्टूडेंट्स को ला सकता है।विमान चार इंजनों से लैस है।C-17 विमान का बाहरी ढांचा इतना मजबूत है कि इस पर राइफल और छोटे हथियारों की फायरिंग का कोई असर नहीं होता है।

                   सी-17 ग्लोबमास्टर की खूबियां में खास है कि इसकी लंबाई – 174 फीट, चौड़ाई – 170 फीट, ऊंचाई – 55 फीट है। 150 से ज्यादा लोगों को एक बार में ले जा सकता है लेकिन इसमें आपात स्थितियों में 500 से ज्यादा लोगों को बैठाया जा सकता है। साथ ही इसमें 3 हेलीकॉप्टर या दो ट्रकों को एयरलिफ्ट करने की ताकत है।

              सोमवार तक यूक्रेन में करीब 16 हजार छात्र और नागरिक फंसे होने की बात सामने आई थी।अब तक 7 विमानों से यूक्रेन से भारतीयों को वापस लाया जा चुका है।इस बीच भारतीय दूतावास ने यूक्रेन की राजधानी कीव में फंसे भारतियों को किसी भी हालत में शहर से जल्द से जल्द निकलने कहा है।

Comments are closed.