BiG News (वीडियो) 40 घंटों तक फंदे से लटका रहा महिला सिपाही का शव, कमरे से आ रही बदबू से हुआ खुलासा

655

पटना Live डेस्क। बिहार के सीवान के मुफस्सिल थाने के पुलिस केंद्र के सरकारी आवास में एक महिला सिपाही ने गले में फंदा डालकर आत्महत्या कर ली। आत्महत्या की घटना करीब दो दिन पहले की बतायी जा रही है।लेकिन इस खुलासा शनिवार की सुबह तब हुआ जब कमरे से बदबू आनी शुरू हुई, तो आसपास के लोगों ने इसकी सूचना अधिकारियों को दी। सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक नवीन चंद्र झा पुलिस केंद्र पहुंचे तथा अंदर से बंद महिला सिपाही के कमरे का दरवाजा तोड़ा गया। दरवाजा तोड़ने के बाद पुलिस अधीक्षक ने देखा कि पंखे के सहारे गले में दुपट्टा लगाकर महिला सिपाही ने आत्महत्या कर ली है। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी द्वारा एफएसएल की टीम जांच के लिए बुलाया गया।

खुदकुशी करने वाली महिला सिपाही का नाम स्नेहा कुमारी है। जो मूल रूप से मुंगेर जिले की रहनेवाली थी। स्नेहा के साथ ड्यूटी करनेवाली महिला सिपाही चांदनी कुमारी ने बताया कि वह स्नेहा के साथ कोर्ट ड्यूटी करती थी। बुधवार को ड्यूटी करने के बाद स्नेहा ने दो दिन का आवश्यक अवकाश ले लिया। उसने बताया कि आज शनिवार को उसको कोर्ट ड्यूटी जाना था। लेकिन, सुबह 7:00 बजे जब वह ड्यूटी पर नहीं पहुंची, तो उसके मोबाइल पर फोन किया। फोन नहीं उठने पर चांदनी ने पड़ोस की एक महिला सिपाही से पता करने को कहा। पड़ोस की महिला सिपाही जब स्नेहा की तीसरी मंजिल के आवास पर गयी, तो कमरे से बदबू आ रही थी।उसके बाद उसने घटना की जानकारी अपने वरीय पदाधिकारी को दी।


महिला सिपाही के आवास के बाहर महिला थानाध्यक्ष मंजू सिंह तथा मुफस्सिल थाने के पुलिस पदाधिकारी शाहिद खान सशस्त्र जवानों के साथ तैनात थे।पुलिस उपाधीक्षक विपिन नारायण शर्मा ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि महिला सिपाही ने गले में फंदा डालकर आत्महत्या कर ली है। जांच के लिए आई एफएसएल टीम ने बारीकी से जांच कर सैंपल कलेक्ट किया, तदुपरान्त शव को फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। वही घटना की जानकारी परिजनों को दे दी गई है। वो सीवान ख़ातिर निकल चुके है।

                        वही, घटना के बाबत एसपी सीवान ने बताया कि स्नेहा के कमरे से पुलिस को एक स्यूसाइड नोट भी मिला है जिसमे लिखा है कि अपने जीवन से तंग आ गई हूँ।

 

Loading...