बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Follow up – जदयू छात्र नेता का हुआ अंतिम संस्कार, मुख्य आरोपी अब भी पुलिस की पहुच से दूर, 2 अन्य नामज़द गिरफ्तार

58

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में होली की देर शाम 8 बजे के आसपास छात्र जदयू के प्रदेश प्रवक्ता कन्हैया कुमार कौशिक पर अपराधियों ने जब गोलिया बरसाई तो उसके साथ मौजूद चंदन भी घायल हो गया। गोलियां लगने से बुरी तरह जख्मी कन्हैया को देव ने अपने बुलेट पर बिठाकर किसी तरह अस्पताल पहुंचाया था। लेकिन पांच पांच गोलियां लगने से कन्हैया की मौत हो गई। देर रात पुलिस ने कन्हैया का पोस्टमार्टम कराया और उसकी डेड बॉडी मधुबनी स्थित उसके पैतृक घर रवाना कर दिया गया था। वही, मक़तूल के भाई के लिखित आवेदन पर कुल 3 लोगो को नामजद किया गया है। लिखित आवेदन पर FIR दर्ज कर पुलिस ने तबड़तोड कार्रवाई करते हुए छात्र जेडीयू के युवा नेता की हत्या काण्ड में नामज़द दो आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा है।जबकि तीसरे और मुख्य आरोपी कुश की गिरफ्तारी के लिए एसआईटी ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है।

BiG News(वीडियो) पटना में प्रदेश प्रवक्ता छात्र जदयू कन्हैया कौशिक को मारी गई ताबड़तोड़ कई गोलिया, इलाज के दौरान मौत, देखिए वो आखरी पल

कन्हैया कौशिक की हत्या के बाद पटना पुलिस ने देर रात प पोस्टमार्टम कराया और उसकी डेड बॉडी मधुबनी स्थित पैतृक आवास ख़ातिर रवाना कर दिया था। शव के गांव पहुचते ही कोहराम मच गया और परिजनो का रो रोकर बुरा हाल है। वही पूरे गाँव मे मातमी सन्नाटा पसरा है। लेकिन विधि के विधान के तहत आख़िरकार कन्हैया के पार्थिव शरीर को उनके भाई ने मुखाग्नि दी और चिता की आग ने कन्हैया के पार्थिव शरीर को पंचतत्व में विलीन कर दिया।

कन्हैया कौशिक की हत्या का आरोप जिस अपराधी पर लगा है उसका नाम कुश है। कुछ दिन पहले भी कुश ने कन्हैया कौशिक को फोन पर धमकी दी थी। तब कन्हैया ने इस मामले को लेकर मीडिया के जरिए अपनी बात भी रखी थी। लेकिन पुलिस ने उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। जिसका फलाफ़ल यह हुआ कि कुश नामक उक्त अपराधी ने होली के दिन कन्हैया के खून से होली खेल लिया। मिली जानकारी के अनुसार इस शुभकामना बैनर को हत्या का कारण बताया जा रहा है आप भी देख लीजिए वो बैनर

Comments are closed.