जेडीयू नेता उदय नारायण चौधरी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना,कहा-आरक्षण खत्म करने की हो रही है साजिश..

पटना Live डेस्क. जेडीयू नेता और पूर्व विधानसभाध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने आरक्षण के सवाल पर केंद्र सरकार की नीतियों पर सवाल उठाया है…केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए उदय नारायण चौधरी ने कहा कि वो आरक्षण को खत्म करने की साजिश रच  रही है..औरंगाबाद में मीडिया से बातचीत के दौरान उऩ्होंने कहा कि वो दलगत भावना से नहीं बल्कि वंचित वर्ग मोर्चा के संयोजक के नाते सवाल उठा रहे हैं..बाबा भीमराव अंबेदकर ने भारतीय संविधान में आरक्षण का जो अधिकार दिया है… वह तो अबतक लागू नहीं हुआ है, लेकिन आज आरक्षण की समीक्षा करने और समाप्त करने की साजिश हो रही है… कहा जाए तो आरक्षण समाप्त किया जा रहा है।…पूर्व विस अध्यक्ष ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के आधार पर प्रोन्नति में आरक्षण समाप्त कर दिया गया है… इस फैसले के खिलाफ केंद्र सरकार अथवा संसद का नेतृत्व कर रहे लोगों ने कोई बिल अभी तक नहीं लाया है… संसद के नेतृत्वकर्ता में इच्छाशक्ति में कमी और नीयत व नीति में खोट के कारण आरक्षण समाप्त की जा रही है..
चौधरी ने कहा कि अधिकांश विभागों में आउटसोर्सिंग कर दिया गया है.. इसमें आरक्षण समाप्त कर दिया गया है.. शिक्षा में छात्रवृति समाप्त कर ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है.. आरक्षण वर्ग के लोगों को मिलने वाली बजट की राशि सड़क, सचिवालय निर्माण के अलावा अन्य मद में खर्च की जा रही है…

जदयू नेता ने कहा कि न्यायपालिका में आरक्षण नहीं मिलता है.. अब तक केंद्र सरकार न्यायिक आयोग का गठन नहीं किया है.. आरक्षण पर सांसद चिराग पासवान के दिए गए बयान पर कहा कि उन्हें सामान्य सीट से लडऩा चाहिए.. रामविलास पासवान को आरक्षण का लाभ मिल रहा है.. चिराग पासवान जो भी बोले हैं वह गलत है.. पूर्व विधानसभाध्यक्ष ने केंद्र के साथ राज्य सरकारों पर भी सवाल खड़ा किए…