BiG News-दरभंगा में Jd(u) के महासचिव की हत्या, ड्राइवर की मिलीभगत से हुई युवा नेता सह ठेकेदार की हत्या,शव के साथ गाड़ी बरामद

300
  • जदयू के महासचिव का कथित अपहरण के बाद हत्या, तीन लोगों ने दिया खूंरेजी अंजाम
  • ड्राइवर की मिलीभगत से हुई जदयू नेता सह ठेकेदार की हत्या,शव के साथ गाड़ी बरामद
  • एसएसपी दरभंगा कब क्वीक एक्शन से उठा महज कुछ घंटों में काण्ड से पर्दा 

पटना Live डेस्क।बिहार की सत्तारूढ़ सियासी दल यानी सीएम नीतीश कुमार सह राष्ट्रीय अध्यक्ष जदयू के एक महासचिव की हत्या से सूबे की सियासत में खलबली मच गई है।लेकिन दरभंगा SSP बाबू राम के नेतृत्व में पुलिस की त्वरित कार्रवाई का फलाफ़ल हुआ की महज आठ घंटे में ही इस सनसनी खेज कथित अपहरण सह हत्या का सच सामने आ गया। साथ ही खुरेजी में मुख्य भूमिका निभाने वाले मक़तूल के ड्राइवर को न केवल गिरफ़्तार कर लिया गया बल्कि नेता सह ठीकेदार के शव को गाड़ी संग बरामद कर लिया गया।

मंगलवार को करीब दस बजे एपीएम थानाक्षेत्र में जदयू नेता सह ठेकेदार हायाघाट के औलियाबाद निवासी मो.सैफ अली उर्फ मुन्ना की हत्या कर गाड़ी सहित शव गायब करने की वारदात का पटाक्षेप हो गया है। घटना के आठ घण्टे के अंदर पुलिस ने मामले का पटाक्षेप करके गाड़ी सहित लाश बरामद कर लिया तथा इस खुरेजी में शामिल ड्राइवर को हिरासत में ले लिया और पूरी साज़िश से पर्दा उठा दिया है।

दरअसल, शुरुआती में यह खबर आई कि जदयू के एक बड़े नेता को दरभंगा से अगवा कर लिया गया है।युवा जदयू के जिला महासचिव मोहम्मद सैफ उर्फ मुन्ना का अपहरण कर लिया गया है। जानकारी के अनुसार जिले के एपीएम थाना इलाके से अपराधियों ने दिनदहाड़े जेडीयू नेता को उनके वाहन समेत अगवा कर लिया।

मिली जानकारी के अनुसार युवा जदयू के जिला महासचिव मो. सैफ अली उर्फ मुन्ना अपने भाई के साथ वाहन से कहीं जा रहे थे। तभी बदमाशों ने ओवरटेक कर उनकी गाड़ी रुकवाई और हथियार के बल पर उनके भाई को नीचे उतार दिया। इसके बाद बदमाश मो. सैफ को गाड़ी सहित अगवा कर भाग निकले।

वारदात के चंद मिनट बाद ही खबर जंगल की आग की तरह पूरे इलाके में फैल गई। उनके भाई ने शीघ्र ही पुलिस को फोन पर घटना की सूचना दी जिसके बाद हडकंप मच गया। इधर मोहम्मद सैफ के परिजन दहशतज़दा हो गए। पुलिस ने इस बेहद गंभीर मामले में कुछ भी कहने से इनकार करते हुए जांच जुट गई। फौरन जिले की सीमाओं को सील कर सघन तलाशी अभियान शुरू किया गया। पुलिस की एक टीम अपहृत के भाई से जानकारी जुटाने में लगी।

बकौल भाई के हायाघाट थाना क्षेत्र के ओलियाबाद निवासी मो. बसीर के पुत्र व जदयू नेता मो. शैफ उर्फ मुन्ना अपनी स्कार्पियो BR07P-0786।से चालक के साथ घर से निकले थे। परजिनों के अनुसार, उनके पास चार लाख रुपये भी था। सैफ नेता होने के साथ ही  क्षेत्र में जल-नल योजना की ठेकेदारी भी करते थे। इस कारण से रुपये लेकर निकाले थे।इधर, घटना से आक्रोशित लोगों ने लहेरियासराय-बहेड़ी मार्ग को बांस-बल्ला से जाम कर पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। नाराज लोग शव की बरामदगी और हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग पूरे दिन करते रहे।

कथित अपहरण और सच

मंगलवार करीब दस बजे एपीएम थाना क्षेत्र में जदयू नेता सह ठेकेदार हायाघाट के औलियाबाद निवासी सैफ अली उर्फ मुन्ना के हत्या कर गाड़ी सहित लाश गायब करने की घटना का पटाक्षेप हो गया है। घटना के आठ घण्टे के अंदर पुलिस ने मामले का पटाक्षेप करके गाड़ी सहित लाश बरामद कर लिया तथा साजिश में शामिल ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए एसएसपी बाबूराम ने बताया कि उक्त मामले में मृतक के ड्राइवर रिज़वान खां ने अपना अपराध कबूल करते हुए पूरी कहानी बता दी तथा स्कार्पियो सहित शव को रघपुरा के निकट अब्दुल्ला चौक से बरामद करवा दिया है। मृतक के गांव के ही दो अन्य अभियुक्तों अमीरुल तथा शमीम ने ड्राइवर की मिलीभगत से घटना को अंजाम दिया। पूर्व से परिचित होने के कारण मृतक ने दोनों को लिफ्ट मांगने पर अपनी गाड़ी में बैठाया।

अशोल पेपर मिल के पास आकर पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार उन्होंने मृतक को गोली मार दी। दोनों ने ड्राइवर की मदद से गाड़ी सहित डेड बॉडी को अब्दुल्ला चौक के पास एक स्थान पर छिपा दिया। ड्राइवर ने पूर्व निर्धारित योजना के अनुसार वापस आकर मृतक के अपहरण का नाटक रचकर पुलिस और परिवार के लोगों को गुमराह किया।

एसएसपी बाबूराम ने कहा कि इस घटना में और अभियुक्तों की की जांच तथा दोनों फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु कारवाई की जा रही है। साथ ही एसएसपी ने बताया कि स्कार्पियो गाड़ी से डेढ़ लाख रुपये भी बरामद हुए हैं। इससे साफ लगता है इस हत्या में लूटपाट की सम्भावना नही लगती है। खुरेजी की वजह आपसी रंजिश या फिर किसी बेहद निजी वजह से अंजाम दिया गया है। पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है। फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी ख़ातिर प्रयास जारी है।

Loading...