बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News(वीडियो) पटना में प्रदेश प्रवक्ता छात्र जदयू कन्हैया कौशिक को मारी गई ताबड़तोड़ कई गोलिया,इलाज के दौरान मौत, देखिए वो आखरी पल

240
  • पूर्व प्रदेश महासचिव छात्र जदयू कन्हैया कुमार कौशिक की हत्या
  • गोलीबारी में कन्हैया कौशिक और चन्दन कुमार को लगी गोली, चन्दन का इलाज जारी
  • शुभकामन बैनर में फ़ोटो नही होने के विवाद में परिचित ने बरसाई गोलियां

पटना Live डेस्क। होली के अवसर पर राजधानी पटना की सुरक्षा ख़ातिर तमाम दावे और कवायदों के बावजूद पटना पुलिस न केवल फुस्स साबित हुई बल्कि  शहर और ग्रामीण क्षेत्रो में अपराधियों के आगे बेबस और लाचार नज़र आई। जिसका फलाफल यह नज़र आया कि रंगों की होली खून की होली में तब्दील हो गई। इसी क्रम बेख़ौफ़ अपराधी ने देर शाम को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सियासी दल यानी सत्तारूढ़ दल के छात्र विंग के प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व प्रदेश महासचिव छात्र जदयू को होली के दिन ही गोली मारकर हत्या कर दी। पटना के शास्त्री नगर इलाके में हुई, घटना के बाद से ही इलाके में तनाव का माहौल बना हुआ है। वहीं पुलिस मृत छात्र नेता के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर केस की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार पटना के ए एन कॉलेज के
छात्र कन्हैया कुमार कौशिक सत्तारुढ़ जेडीयू से जुड़ा हुआ था। मृतक मधुबनी जिले का मूल निवासी था। राजधानी पटना के मुहल्ले पटेल नगर के रोड नम्बर 5 में रहता था। होली की संध्या यानी मंगलवार की शाम करीब 8 बजे वह अपने साथियों देव सिंह और चन्दन कुमार से मुलाकात के लिए पहुंचा था। इसी दौरान कन्हैया के एक परीचित छात्र जिसकी पहचान कुश के तौर पर हुई है भी वहां आया। फिर कुश ने सभी को होली की बधाई दी। कुश ने कन्हैया से शुभकामना बैनर में अपनी तस्वीर नही होने को लेकर जवाब सवाल करते हुए कन्हैया से बहस बाजी करनी शुरू कर दी। फिर अचानक फायरिंग की आवाज से इलाका गूंज उठा।

शुभकामना बैनर में फ़ोटो के विवाद में खूंरेजी

वही, इस हत्याकाण्ड के पीछे की वजह शुभकामना बैनर पर नाम फोटो न छापना बताया जा रहा है। बकौल पुलिस सूत्रों के के एन कॉलेज में छात्र जदयू के उपाध्यक्ष सत्ताईस वर्षीय कन्हैया कुमार कौशिक का अपने मित्र कुश के साथ होली के शुभकामना बैनर पर फोटो नहीं छपने की वजह से विवाद हो गया। इसके बाद कुश ने कन्हैया को गोली मारकर घायल कर दिया और फरार हो गया।

अन्य छात्र की हालत स्थिर

घटना में कन्हैया और चंदन घायल हो गए,जिसके बाद उनके साथी देव ने सभी को बुलेट से राजा बाज़ार स्थित पारस अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल जाने के क्रम में देव सिंह ने फेसबुक Live में क्या कुछ कहा आप सुनिए।

घायल कौशिक को राजा बाजार स्थित स्थानीय निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। वहीं हाथ में गोली लगने के बाद चंदन को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चंदन की हालत स्थिर बनी हुई है।

MLC रणवीर रणवीर नंदन भी पारस पहुचे

छात्र नेता की हत्या की खबर मिलने पर जेडीयू के एमएलसी रणवीर नंदन भी पारस अस्पताल पहुंचे। रणवीर नंदन के मुताबिक वारदात के पीछे पुरानी रंजिश हो सकती है। वहीं पुलिस इस मामले में केस दर्ज कर अपनी जांच शुरू कर चुकी है।जिस तरह से बेखौफ अपराधी ने छात्र जदयू के प्रदेश प्रवक्ता रहे कौशिक की हत्या कर दी साथ ही एक अन्य युवक को घायल कर दिया। यह अपने आप मे पटना पुलिस के सुरक्षित राजधानी के दावों की पोल खोल रहा है। वही, यह घटना से पटना पुलिस की कार्यशैली पर भी बड़े सवाल खड़ा कर रहा है।

Comments are closed.