बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Super Exclusive- फैक्ट फाइंडिंग ऑफ खगौल लूट काण्ड-90 लाख की लूट के दावे पर उठते सवाल जानकारों का दावा 10 लाख पर भी है संशय

22

- Advertisement -

  • लुटेरे दुकानदार सुजीत को नाम से पुकार रहे थे।
  • दुकान में लगे सीसीटीवी इंस्टॉलेशन से थे वाकिफ।
  • मंगलवार को “ज्वेलर्स” अपना दुकान बंद रखते है जबकि शिवम ज्वैलर्स खुला था। 
  • क्या सच मे लुटेरों ने 90 लाख के जेवर लुटे है ?
  • बाज़ार के कारोबारियों के अनुसार लूट का यह मामला कई मायनों में संदिग्ध है।
  • शिवम ज्वेलर्स की माली हालात को लेकर जानकारों के दावे भी कही न कही कथित लूट की रकम को लेकर सवाल उठा रहे है।
  • कही ये पूरा खेल इंश्योरेंस से जुड़ा तो नही?

पटना Live डेस्क। मंगलवार की शाम राजधानी पटना के खगौल थाने से महज 250 मीटर की दूरी पर स्थित बेहद भीड़भाड़ वाले जयराम बाजार में स्थित शिवम ज्वैलर्स में कथित तौर पर 4 लुटेरो लूट की वारदात को अंजाम दिया है। लेकिन इस लूट की यह वारदात पूरी तरह संदिग्ध जान पड़ती है। वही, जब पटना Live के रिपोर्टर ने मामले की तहकीकात ख़ातिर खगौल का दौरा किया तो कथित लूट की इस वारदात की कहानी में काफी झोल परिलक्षित हो रहा है। ज्ञात हो कि शिवम ज्वेलर्स का विगत महीने पहले ही इंश्योरेंस कराया गया है। वही, बाजार में दुकान के मालिक और ज्वेलर्स शॉप के बाबत जो जानकारी है वो बेहद नकरात्मक है। साथ ही माली हालत को लेकर भी चर्चो का बजकर गर्म है। हद तो ये की मार्केट के कई लोगो के कहना रहा कि सुजीत कुमार ने काफी कर्ज़ ले रखा है। वही, दुकान भी बहुत ज्यादा चलती नही है। यानी कही न कही यह पूरा मामला न केवल संदिग्ध जान पड़ता है बल्कि लूट के दावों और 90 लाख के गहनों के बाबत भी संशय उत्पन्न करता है। खैर, पहले आप कथित तौर पर पिस्टल से पिटाई और स्प्रे से बेहोश कर दिए गए शिवम ज्वेलर्स के मालिक सुजीत कुमार का बयान सुनिए…

- Advertisement -

जैसे-खगौल के शिवम ज्वेलर्स में ग्राहक बनकर घुसे चार अपराधी दुकानदार को बाइनेम न केवल जानते थे, बल्कि
दुकान में सीसीटीवी के इंस्टॉलेशन पूर्व परिचित थे। लूट तब हुई जब सिर्फ दुकान में अकेले थे सूजीत कुमार थे। दिनदहाडे ज्वेलर्स शॉप का कथित तौर पर शटर गिराकर आराम से की लूटपाट को अंजाम दिया गया। वही दुसरी तरफ़ गौर करने वाली बात यह है कि विगत महीनों पहले ही दुकान का इंश्योरेंस कराया गया है।

बड़ा सवाल – 90 लाख के सोना-चांदी के ग़हने लूट ले गए पर दुकान के हालात कुछ और बयान कर रहे है देखिए 

जैसा कि दावा किया जा रहा है कि खगौल के मोतीचक स्थित शिवम ज्वेलर्स में ग्राहक बनकर घुसे 4 अपराधियों ने ज्वेलर्स सुजीत कुमार को सिर पर पिस्टल से वार किया फिर दुुकान में अकेले रहे सुजीत को स्प्रे छिड़ककर बेहोश कर दिया। जिसको खुद दुकान मालिक भी स्वीकार करते है। दुकानदार को बेहोश करने के बाद गल्ले से 40 हजार कैश समेत 90 लाख के सोने-चांदी के गहने लुटेरों ने लूट लिए। घटना को मंगलवार काे दिन-दहाड़े अंज़ाम दिया गया।उल्लेखनीय है कि पूरी वारदात  के दौरान दुकानदार अकेले थे।

अपराधियों ने सुजीत को बेहोश करने के बाद दुकान के शटर काे बंद कर दिया और आराम से गहनों को बैग में समेट लिया। और फिर शटर गिराकर पैदल ही फरार हो गए। साथ ही सुजित का मोबाइल और सीसीटीवी का डीवीआर लेकर भी चले गए।

दुकान जब चार बजे तक नहीं खुली और लोगों ने देखा कि बाहर से ताला भी नहीं लगा हुआ है ताे शटर खोला तो देखा कि दुकानदार बेहोश पड़े थे।

लूट की सूचना मिलन पर एसएसपी उपेंद्र शर्मा भी मौके पर पहुंचे और छानबीन की। सुजीत का दावा है कि 90 लाख का जेवर की लूट हुई। हालांकि एसएसपी बोले-कितने की लूट हुई, यह पता नहीं चला है। हथियार का इस्तेमाल नहीं हुआ। सुजीत काे लुटेरे नाम से जानते है।  फ़ोन कर दुकानदार से बात कर पहुचे थे।

फैक्ट फाइंडिंग by पटना Live

खगौल थाना क्षेत्र के जयराम बाजार स्थित अरुण मार्केट में जेवर कारोबारी सुजीत कुमार की शिवम ज्वेलर्स के नाम से दुकान है। सुजीत कुमार सूद ब्याज का भी काम करते है। दरअसल, सुजीत कुमार के बाबत ये बात भी प्रकाश में आई है कि शिवम ज्वेलर्स के माध्यम से सोना-चांदी का होलसेल का भी धंधा किया करते  है। लेकिन समय के साथ उनकी धमक अब पहले जैसी नही रह गई है। अतः उन्होंने अब गहने जेवरात बंधक रखकर पैसे सूद पर देने का भी कारोबार शुरू कर दिया है। इसको लेकर भी तरह तरह की बातें चर्चा में है।

वही घटना के बाबत जो बातें बताई गई उसके अनुसार मंगलवार की सुबह सुजीत ने अमूमन अपने समय पर ही दुकान खोली थी। उल्लेखनीय है कि खगौल के जयराम बाजार में मंगलवार को ज्वैलरी शॉप्स साप्ताहिक बंदी के तहत बंद रहती है। सुजीत दोपहर में दुकान बंद कर वह कहीं जा रहे थे। इसी बीच उनके मोबाइल पर अनजान नंबर से किसी ने कॉल किया और सुजीत को नाम से संबोधित करते हुए घर मे ब्याह होने की बात बताते हुए जेवर खरीदने व पुराने गहने साफ कराने की बात कही। पहले तो कारोबारी ने मना कर दिया, लेकिन बाद में वह दुकान खोलने को तैयार हो गए।

दुकान खोलते ही दो युवक आए और उन्होंने पाजेब(पायल) साफ कराने की बात कही। इसके बाद वे दुकान से बाहर आ गए। कुछ ही देर में दोनों युवक अपने दो साथियों के साथ दुकान में धमक पड़े और नशीला स्प्रे छिड़ककर सुजीत को बेहोश करने की कोशिश की। बाद में पिस्टल की बट से वार से कारोबारी को घायल कर दिया। इसके बाद दुकान से कैश समेत जेवर समेट कर चारों अपराधी पैदल ही गली से होकर भाग गए।

स्थानीय जानकारों का दावा 10 लाख में भी संशय

वही,इस सनसनीखेज लूट कांड के बाबत खगौल थाना प्रभारी मुकेश कुमार का कहना है कि मामला संदिग्ध प्रतीत हो रहा है। साथ ही उनका दावा है कि प्रारंभिक जांच में 10 से 12 लाख रुपये मूल्य के ग़हनो समेत 40 हजार कैश लूट की बात सामने आ रही है। वही, इस बाबत अरुण मार्केट और आसपास के लोग जिनका दावा है कि सुजीत से उनके घरेलू और कारोबारी रिश्ते है का भी मानना है कि शिवम ज्वेलर्स में वो इतना स्टॉक नही रखते है। अमूमन चांदी के ही गहने रखते है और सोने के महज 3-4 आइटम ही दुकान में रखते है। अपने तर्क के बाबत उनका कहना है कि जयराम मार्केट स्थानिए लोगो के दम पर गुलजार रहता है। अतः आप खुद ग्रहकों की आवक देखकर अंदाज़ कर लीजिए कि सोने के भारी भरकम गहने कैसे दुकानदार रखेंगे।

खैर, लूट के बाबत जो सबसे चौकने वाला खुलासा यह किया जा रहा है वो ये है कि चारो लुटेरे स्थानिए बोली बोल रहे थे। बिल्कुल बेखौफ थे तभी तो अपना चेहरा भी नही छुपाया था। पुलिस की जांच जारी है। जल्द ही मामले के उद्भेदन के दावे है पर सवाल यह है कि क्या सच में 90 लाख की लूट हुई है?

- Advertisement -

Comments are closed.