बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

IRCTC Scam Case-भोला यादव के बाद लालू की बेटी को ज़मीन गिफ्ट करने वाले गोपालगंज का “शख्स” हुआ गिरफ्तारी

IRCTC Scam Case: आईआरसीटीसी घोटाला मामले में लालू के करीबी भोला यादव को CBI ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर 2 अगस्त तक रिमांड हासिल कर लिया है। साथ ही लालू परिवार को ज़मीन गिफ्ट करने वाले एक शख्स को गिरफ्तार किया है।

643

पटना Live डेस्क। राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव के हनुमान कहे जाने वाले पूर्व विधायक भोला प्रसाद यादव को ज़मीन के बदले रेलवें में नौकरी प्रकरण और  आईआरसीटीसी घोटाला मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दिल्ली में गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश कर अगले 2 अगस्त तक पूर्व विधायक को रिमांड पर के लिया है। इसी बीच एक और बड़ी खबर सामने आ रही है। लालू यादव की बेटी हेमा यादव को ज़मीन देने वाले हृदयानंद चौधरी को भी CBI ने गिरफ्तार कर लिया हैं। सीबीआई द्वारा गिरफ़्तार हृदयानंद चौधरी पटना के राजेंद्र नगर टर्मिनल पर कार्यरत है।

उल्लेखनीय है की लालू यादव के रेल मंत्री रहते कथित तौर पीकर अंजाम पाए इस IRCTC Scam की जाँच CBI द्वारा किया जा रहा हैं। इसी सिलसिले में लालू यादव के विश्वस्त सहयोगी पूर्व विधायक भोला यादव की गिरफ्तारी हुई है। वही दूसरी गिरफ्तारी हृदयानंद चौधरी की गई हैं। सनद रहे कि गोपालगंज जिले के उचकागांव थाना क्षेत्र के इटवा गांव के मूल निवासी हृदयानंद चौधरी ने राजद सुप्रीमो लालू यादव की बेटी हेमा यादव को अपनी भावनात्मक बहन बताकर उन्हें जमीन का एक टुकड़ा गिफ्ट किया था। ज़मीन गिफ्ट करने के बाबत खुद रेलकर्मी हृदयानंद चौधरी के बड़े भाई देवेंद्र चौधरी ने मीडिया से साझा किया था।

यह जानकारी दरअसल, मई 2022 को सीबीआई की चार सदस्‍यीय टीम को पूछताछ के दौरान रेलकर्मी के बड़े भाई देवेंद्र ने यह जानकारी दी थी। पूछताछ के साथ ही सीबीआइ की टीम ने रेलकर्मी के पुश्तैनी घर की भी तलाशी के बाद कई कागजात और बैंकों पासबुक जब्‍त कर साथ लेकर चली गई।

रेलकर्मी की गिरफ्तारी और हेमा यादव

उल्लेखनीय है की जमीन के बदले रेलवे में नौकरी स्कैम की जाँच कर रही CBI को रेलकर्मी के परिजनों से पुछताछ के दौरान मिले अहम सुराग के बाद इन तथ्यों के बाबत पुख़्ता सुबूत इकट्ठा करने के बाद सीबीआई ने हृदयानंद चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। इनपर नौकरी खातिर लालू यादव की बेटी हेमा यादव को ज़मीन देने का आरोप है।

Comments are closed.