बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

पल्लेकेल वन डे: पैसा वसूल मैच में रोमांच ने रोकी सांसे,आखिरकार धौनी और भूवनेश्वर ने लगायी भारत की नैया पार,श्रीलंकाई स्पिनर का जबर्दस्त प्रदर्शन

217

पटना Live डेस्क. भारत और श्रीलंका के बीच यहां पल्‍लेकेले में हुए दूसरे वनडे मैच में दोनों टीमों के बीच पहली बार जबर्दस्‍त संघर्ष देखने को मिला लेकिन आखिरकार बाजी टीम इंडिया के हाथ लगी.  करिश्‍माई गेंदबाज अकिला धनंजय के ‘छक्‍के’ (छह विकेट) की बदौलत श्रीलंका टीम ने इस मैच को जीतने की पूरी तैयारी कर ली थी लेकिन महेंद्र सिंह धोनी और भुवनेश्‍वर कुमार की जोड़ी ने बाजी पलट दी. इन दोनों ने मुश्किल क्षणों में आठवें विकेट के लिए पूरे 100  रन की साझेदारी करते हुए भारत को तीन विकेट की जीत दिला दी. पहले बल्‍लेबाजी करते हुए श्रीलंका टीम ने 50 ओवर में आठ विकेट पर 236 रन बनाए लेकिन बारिश के कारण लक्ष्‍य को पुनर्निर्धारित करना पड़ा. भारत को 47 ओवर में जीत के लिए 231 रन बनाने का लक्ष्‍य मिला था. जिसे टीम ने सात विकेट खोकर हासिल कर लिया. महेंद्र सिंह धोनी 45 और भुवनेश्‍वर कुमार 53  रन बनाकर नाबाद रहे.

इससे पहले ‘मैन ऑफ द मैच’ धनंजय ने अपने करियर के सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजी प्रदर्शन (54 रन देकर छह विकेट) करते हुए भारतीय ओपनर रोहित शर्मा और शिखर धवन की ओर से की गई शतकीय साझेदारी पर लगभग पानी फेर दिया था. 109 रन पर पहला विकेट गंवाने वाली टीम इंडिया के सात विकेट 131 रन तक पहुंचते-पहुंचते पेवेलियन लौट चुके थे. ऐसा लग रहा था कि भारतीय टीम मैच हार जाएगी लेकिन अनहोनी को होनी बनाना धोनी को खूब आता है. फिनिशर के रोल में वे आज फिर खरे उतरे. हालांकि दूसरे छोर से उन्‍हें भुवी का अच्‍छा साथ मिला.

श्रीलंका टीम की ओर से रखे गए लक्ष्‍य के जवाब में रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी ने तेज शुरुआत करते हुए पहले पांच ओवर में ही स्‍कोर 36 रन तक पहुंचा दिया. इस दौरान रोहित शर्मा ने लसिथ मलिंगा की गेंद पर छक्‍का भी लगाया. शिखर धवन के विपरीत रोहित शर्मा आज ज्‍यादा आक्रामक मूड में थे. पारी के नौवें ओवर में रोहित ने तेज गेंदबाज दुशमांथा चमीरा की लगातार दो गेंदों पर छक्‍के जमाए. इन दोनों की बल्‍लेबाजी का आलम यह था कि 10 ओवर के बाद ही भारतीय टीम का स्‍कोर 68 रन पर पहुंच गया था. जल्‍द ही रोहित ने अपने करियर का 32 वां अर्धशतक पूरा किया. हालांकि अर्धशतक पूरा करने के बाद रोहित ज्‍यादा देर नहीं टिक पाए. उन्‍हें 54 रन (45 गेंद, पांच चौके, तीन छक्‍के)के स्‍कोर पर धनंजय ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. भारतीय टीम का पहला विकेट 109 के स्‍कोर पर गिरा. रोहित शर्मा के आउट होने के बाद शिखर धवन भी ज्‍यादा देर नहीं टिके और 49 रन (50 गेंद, छह चौके एक छक्‍के) बनाकर सिरीवर्धने के शिकार बन गए.

इसके बाद मैच में नाटकीय बदलाव आया और पारी के 18वें ओवर में ऑफ स्पिनर धनंजय ने केदार जाधव (1), कप्‍तान विराट कोहली (4)और लोकेश राहुल (4) को आउट करके मैच की तस्‍वीर ही बदल दी. शतकीय साझेदारी के बाद देखते ही देखते भारत के पांच विकेट 119 रन पर गिर चुके थे. धनंजय का करिश्‍मा आगे भी जारी रहा.पारी के 20वें और अपने पांचवें ओवर में उन्‍होंने हार्दिक पंड्या (0) को भी चलता कर दिया. मौके की गंभीरता को समझे बगैर पंड्या ने धनंजय को क्रीज से निकलकर मारने की कोशिश की और स्‍टंप आउट हुए. धनंजय का यह पांचवां विकेट था. उन्‍होंने अकेले दम पर मैच की तस्‍वीर बदल दी थी. विकेटों की इस पतझड़ में अक्षर पटेल (6) भी शामिल हुए. उन्‍हें धनंजय ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया. भारत का सातवां विकेट 131 के स्‍कोर पर गिरा.

भारतीय टीम के इस मुश्किल भरे समय में उम्‍मीदें एक बार फिर धोनी पर टिकी हुई थीं जिन्‍होंने भुवनेश्‍वर कुमार के साथ साथ मिलकर स्‍कोर को बढ़ाना जारी रखा. टीम के खाते में जुड़ते हर रन के साथ भारतीय फैंस का उत्‍साह बढ़ता जा रहा था. स्‍कोर के 200 रन तक पहुंचते-पहुंचते श्रीलंका की चिंता बढ़ने लगी थी.भुवनेश्‍वर कुमार ने लंबे समय के बाद बल्‍लेबाजी में अपनी क्षमता को प्रदर्शित किया और धोनी के साथ सधी हुई पारी खेली.

इससे पहले श्रीलंका ने पहले बैटिंग की और निरोशन डिकवेला ओर गुणतिलका ने श्रीलंकाई पारी की शुरुआत की. भुवनेश्‍वर की ओर से फेंके गए पहले ओवर में दो रन बने जबकि बुमराह की ओर से फेंका गया दूसरा ओवर मेडन रहा. तीसरे ओवर में डिकवेला और गुणतिलका भुवनेश्‍वर को चौके लगाए. इस ओवर में 11 रन बने.पांच ओवर के बाद श्रीलंका का स्‍कोर 25 रन के पार पहुंच गया था. डिकवेला ने इस दौरान आक्रामक रुख अपनाने हुए बुमराह की गेंद पर दो छक्‍के भी लगाए. आठवें ओवर में तेज गेंदबाज बुमराह भारत के लिए सफलता लेकर आए जब उन्‍होंने आक्रामक अंदाज में दिख रहे डिकवेला (31 रन, 24 गेंद, तीन चौके, दो छक्‍के) को धवन के हाथों शार्ट मिडविकेट पर कैच कराया. 10 ओवर के बाद श्रीलंका का स्‍कोर एक विकेट पर 52 रन था.

10 ओवर के बाद भारतीय कप्‍तान लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल और हरफनमौला हार्दिक पंड्या को आक्रमण पर लेकर आए. पारी के 15वें ओवर में लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल भारत के लिए दूसरी कामयाबी लेकर आए जिन्‍होंने गुणतिलका (19) को धोनी के हाथों स्‍टंप कराया. धोनी की वनडे मैचों में यह 99वीं स्‍टंपिंग रही. नए बैट्समैन थरंगा ने आते ही इस ओवर में दो चौके जमाए लेकिन वे ज्‍यादा देर नहीं टिके. हार्दिक पंड्या ने उन्‍हें कप्‍तान कोहली से कैच कराया. थरंगा ने सात गेंद पर दो चौकों की मदद से 9 रन बनाए. श्रीलंका का चौथा विकेट कुसल मेंडिस (19 रन) और पांचवां विकेट पूर्व कप्‍तान एंजेलो मैथ्‍यूज (20 रन) के रूप में गिरा. जहां मेंडिस को चहल ने एलबीडब्‍ल्‍यू किया, वहीं मैथ्‍यूज का विकेट अक्षर पटेल के खाते में गया. 25 ओवर के बाद श्रीलंका टीम का स्‍कोर चार विकेट पर 107 रन था. 30 ओवर के पहले ही श्रीलंका टीम के पांच प्रमुख बल्‍लेबाज आउट हो चुके थे.

Comments are closed.