BiG News (वीडियो) राजधानी में BBA की छात्रा को पिस्टल के बल पर 4 लड़को ने अगवा कर 2 ने किया रेप

2286

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में अपराधियों का तांडव रुकने के नाम नही ले रहा है। पुलिस का दावा लगातार फेल हो रहा है। इसी क्रम में एक बार फिर राजधानी में एक बेहद शर्मशार करने वाली घटना को अंजाम दिया गया है। पटना पुलिस के सुरक्षा के तमाम दावों के उलट सरेशाम शहर के व्यस्ततम इलाके में शुमार बोरिंग रोड चौराहे स्थित जीबी मॉल सोमवार की शाम तकरीबन सात और साढ़े सात बजे की बीच एक छात्रा को बंदूक की  नोक पर एक छात्रा को अगवा कर रेप किया गया।

पटना के नागेश्वर कालोनी स्थित एक निजी गर्ल्स हॉस्टल में रहकर पढ़ाई कर रही बीबीए की छात्रा के साथ गैंग रेप किया गया हैं। बकौल पीड़ित छात्रा के सोमवार की शाम वो जीबी मॉल के एक रेस्टूरेंट में खाने के लिए गई थी। तभी अचानक वहाँ पर आरोपित विनायक सिंह आया और बोला कि वह उसे पसंद करता है। उसके साथ संबंध बनाना चाहता है। वह डर गई। डर से बिना खाना खाये ही रेस्टूरेंट से निकलने लगी।

लेकिन जैसे ही पीड़िता मॉल के नीचे आयी तो सफेद रंग की कार से संदीप मुखिया निकला और पिस्टल सटाकर बैठने को कहा। वह डर गई और कार में बैठ गई।उसे  पिस्टल की नोक पर 4 युवको ने कार से अगवा किया और फिर उक्त सफ़ेद कार मॉल से निकालकर राजधानी की सड़कों पर दौड़ने लगी।

बक़ौल पीड़िता के बोरिंग रोड चौराहे पर कार कुछ देर रुकी और फिर बड़ी तेेजी से बोरिंग रोड से पाटलिपुत्रा गोलम्बर होते हुए पीएण्डएम मॉल के पीछे एक फ्लैट में के नीचे पहुची। पीड़िता को विनायक उक्त फ्लैट में लेकर गया और फ्लैट में विनायक सिंह ने उसका जबरदस्ती रेप किया और मोबाइल से वीडियो भी बनाया। साथ ही संदीप मुखिया ने भी उसका वीडियो बनाया था। बुरी तरह घबराई पीड़िता चीखने चिल्लाने लगी तो उसे लगभग 20 मिनट बाद डर से दोनों ने फ्लैट से बाहर निकाल कर कार में बैठा दिया।

कार में बैठाए जाने के बाद संदीप मुखिया ने कहा कि कार में ही संबंध बनाओ नहीं तो वीडियो वायरल कर देंगे। उसने संदीप मुखिया का पैर पकड़ लिया। लेकिन सन्दीप मुखिया ने कार में ही। वही इस बेहद घृणित काण्ड में विकास और कुश ने सहयोग किया।

कब और कहां – अगवा की गई पीड़िता 

राजधानी पटना के युवाओं के सबसे चर्चित कूल प्लेस यानि पूर्व मंत्री के बेटे का बोरिंग रोड स्थित जीबी मॉल हैं। यहाँ शाहर भर के युवा दबंगो, बाइकर्स गिरोह के सरगनाओं और तमाम कपल्स का आना जाना लगा रहता है। आसपास के लोगो का तो यहाँ तक दावा है कि युवाओं का नशा करने का यह सबसे सेफ प्लेस बन गया है। यहाँ लड़के लड़कियों का हुजूम नशे की पिनक में खूब इंजॉय करता है। इसी जीबी मॉल में बीती रात सोमवार साढ़े सात बजे के आसपास विक्टिम युवती को अगवा कर लिया गया। तदुपरान्त एक बेहद खौफनाक घटना को अंजाम दिया गया।

सूत्र-पीड़िता विनायक के जिगरी की गर्लफ्रेंड 

सुत्रों की मानें तो पीड़िता से विनायक सिंह रॉकर जो पटना के कुख्यात बाइकर्स गिरोह किंग्स ऑफ पटना के प्रमुख सरगनाओं में शुमार करता है की पीड़िता से पुरानी जानपहचान है। सूत्रों का दावा है कि पीडिता और विनायक के जिगरी की पूर्व से आशनाई रही है। घटना के बाद से बोरिंग निवासी उक्त युवक भी फरार बताया जा रहा है। जो समय के साथ आशनाई में बदल गई थी। पूर्व में  पीड़िता और विनायक के जिगरी को लगातार साथ साथ देखा जाता रहा है। पीड़िता के जानने वाले ने बताया कि विनायक ने पूर्व में भी इस लड़की को झांसा देकर पीड़ित से शारीरिक संबंध बनाया था।

चौराहे पर छोड़ हुए फरार 

घंटो पीड़िता के साथ दरिंदगी करने के बाद तकरीबन रात करीब 9 बजे चारों दरिंदो ने पीड़िता को धमकाते हुए के बोरिंग रोड चौराहे पर कार से उतार दिया कि अगर मुहँ खोला तो अंज़ाम बुरा होगा। पाटलिपुत्रा गोलम्बर के पास विनायक ने छात्रा को 50 रुपये भी दिये और कहा कि यह ऑटो में बैठ जाओ, बोरिंग रोड पहुंचा देगा। वह ऑटो पकड़कर हॉस्टल पहुंच गई।

 

पूरी तरह डरी सहमी पीड़ित लड़की ने बताया कि जैसे तैसे हॉस्टल पहुंचकर मैंने इस वारदात की जानकारी बड़ी बहन को दी। बहन ने एसएसपी को फोन करके मामले की सूचना दी। इसके बाद महिला थानाध्यक्ष छात्रा के हॉस्टल पहुंचकर साथ ले गई। मैं जब थाने पहुंची तो मुझे रात भर थाने में ही रखा गया। तदुरान्त महिला थाने में  एफआईआर दर्ज हुआ।

पीड़िता मूल रूप से गोपालगंज की रहने वाली है। जो नागेश्वर कॉलोनी के एक निजी गर्ल्स हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करती है। लड़की के बयान पर महिला थाना में एफआईआर नंबर 10/2020 दर्ज की गई है। दर्ज FIR में 376D/323IPC और 27 आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत किया गया है।

एसएसपी उपेन्द्र कुमार शर्मा के अनुसार पुलिस टीम ने कार्रवाई शुरू कर दी है। एसएसपी उपेन्द्र शर्मा ने पीडि़त छात्रा की 164 की बयान कराने और मेडिकल कराने का निर्देश दिया। जीवी मॉल के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला जा रहा है। चारों आरोपियों की पहचान हो गई है। फिलहाल सभी फरार हैं,गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी शुरू हो गई है। वहीं पीड़िता का मेडिकल टेस्ट भी करा दिया गया है।

पुलिस मुख्यालय ने भी मामले को गंभीरता से लिया हैं । रेंज आईजी संजय सिंह ने कहां की घटना की गहनता की जांच के लिए पटना एसएसपी को निर्देश दिया गया हैं । जो भी दोषी पाएं जाएंगे उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएंगी ।

Loading...