बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BIG News(वीडियो) गर्ल फ्रेंड की डिमांड ने बना दिया लुटेरा,हाईवे लुटेरा गिरोह का पुलिस ने किया पर्दाफाश तो खुला राज़

पटना पुलिस ने 4 युवको जब लूट के जुर्म में पकड़ा तो पूछताछ में जो खुलासा हुआ वो चौकाने वाला रहा, दरअसल प्रेमिका को खुश करने के चक्कर मे अपराध करने लगा युवक

434

पटना Live डेस्क। कहते है इश्क नचाए जिसको यार वो फिर नाचे बीच बाजार इस लोकोक्ति को एक बार फिर उस वक्त सही पाया गया जबशनिवार को पटना पुलिस ने फोरलेन पर लूटपाट करने वाले ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो सभी आशिक है।दरअसल यह गिरोह में आशिको का है जो अपनी माशूका को खुश करने खातिर न केवल अपराध के रास्ते पर चल पड़े बल्कि ये अपनी-अपनी गर्लफ्रेंड को कीमती तोहफा देकर खुश करने के लिए आटो सवार यात्रियों से ताबड़तोड़ लूटपाट की घटना को अंजाम दे रहे थे।अमूमन लुटेरे आशिकों का गिरोह हाइवे पर अपने ऑटो के जरिए शिकार तलाशता था और फिर मौका देखकर उन्हें बंदूक की नोक पर लूट लिया करता था।पुलिस ने नये साल की शाम विशेष रुप से छापेमारी कर आरओबी के पास से चार लुटेरों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके पास से लूट की 49 हजार रुपए,7 मोबाइल फोन एक देशी कट्टा व तीन गोली भी बरामद किया है। इतना ही नहीं, पुलिस ने उस आटो को भी जब्त कर लिया है,जिस पर गिरफ्तार लुटेरे सवारियों को बैठाकर लूटपाट की घटना को अंजाम देते थे।

फोरलेन पर बढ़ गई थी लूटपाट

इन लुटरों ने ताबड़तोड़ लूट की कई वारदातों को अंजाम दिया तो पुलिस सजग हुई और सभी लूट कांडों को बारीकी से जांचा तो सभी वारदातों में एक जैसा ही मॉडस ऑपरेंडी पाया। फिर क्या था पुलिस ने इलाके में संघन तलाशी और मुखबिर नेटवर्क को एक्टिवेट किया तो लुटेरों के 4सदस्यों वाले गिरोह को दबोच लिया। इस गिरोह में बेलदारी चक के रविशंकर कुमार,विक्की कुमार उर्फ राहुल, प्रिंस कुमार उर्फ रफ्तार व सुरज कुमार शामिल थे जो अब पुलिस की गिरफ्त में है।

चोरो की गिरफ्तारी के बाबत डीएसपी राजेश कुमार मांझी ने बताया कि फोरलेन पर लगातार आटो सवार यात्रियों से हो रही लूटपाट को देखते हुए इन लुटेरों की गिरफ्तारी के लिए थानाध्यक्ष मनीष कुमार के नेतृत्व में नदी थाना प्रभारी सकेंद्र कुमार व एसआई ललित विजय की एक छापेमारी दल की गठन की गयी थी।उनके अनुसार,गिरफ्तार बदमाशों की अन्य अपराधिक इतिहास को भी खंगाला जा रहा है।

गर्लफ्रेंड को तोहफा देने के लिए करते थे लूट

वहीं थानाध्यक्ष मनीष कुमार के अनुसार,अभी हाल ही बीपीएससी परीक्षार्थी से नकदी व मोबाइल फोन लूट लिए जाने के मामले में गिरफ्तार बदमाशों के पास से नकदी व मोबाइल फोन तथा परीक्षार्थी का बैग भी बरामद कर लिया गया है। इन लोगों ने नववर्ष पर अपने गर्लफ्रेंड को तोहफा देने के लिए बीपीएससी परीक्षार्थी से आटो पर बैठाकर लूटपाट किया था। पुलिस की मानें तो ये लोग शाम होने के बाद आटो लेकर जीरो माइल या पहाड़ी पर पहुंच जाते थे तथा फतुहा व खुसरुपुर आने वाले यात्रियों को अपने आटो में बैठा लेते थे तथा फोरलेन पर सुनसान जगह देखते ही उनसे नकदी मोबाइल फोन व अन्य सामान लूट लेते थे।

लूटे गये आटो की इंजन तक को बदल दिया

विदित हो कि करीब तीन माह पूर्व एक दूसरे आटो चालक को इन लुटेरों ने उसके आटो को रिजर्व कर फतुहा-दनियावां राजमार्ग पर लाया था तथा चालक को मारपीट कर उसके आटो को लूट लिया था।इतना ही नहीं, लूटे गये आटो की इंजन को लुटेरों ने बदल दिया था तथा खोले गए इंजन को कबारी के हाथों पांच हजार रुपये में बेच दिया था। उसके बाद इन लुटेरों ने उसी लूटे गये आटो पर पटना से फतुहा आने वाले एक यात्री को भिखुआ गांव के पास ग्रामीण पथ पर ले जाकर मोबाइल फोन के साथ-साथ यात्री के बैग से 51 हजार रुपए छीन लिए थे। थानाध्यक्ष मनीष कुमार के अनुसार, गिरफ्तार लुटेरों ने इन सभी कांडों को अंजाम देने में अपनी स्वीकृति दी है।

Comments are closed.