बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Lockdown:भूख के मारो ख़ातिर भासपा छात्र इकाई निरंतर कर रही इंतजाम, झुग्गी-झोपडियों में पहुचा रहे है भोजन

110

- Advertisement -

पटना Live डेस्क। वर्त्तमान समय में पूरी दुनिया मे CORONA के खिलाफ जंग का आगाज हो चुका है। भारत मे भी इस आपदा से निपटने ख़ातिर Lockdown लागू किया गया है। बात अगर बिहार की करे तो पूरा सूबा लॉक कर दिया गया है। राजधाानी पटना समेत सभी जिलों में Lockdown 0.2 जारी है। कोरोना के कहर के बीच राजधानी पटना में निर्बल, असहाय, बेघरों , दिहाड़ी मजदूरों और झुग्गी झोपड़ियों में रहने वालों पर इस Lockdown का बेहद बुरा प्रभाव पड़ा है और इनके सामने भोजन की समस्या उत्पन्न हो गई है। लेकिन गरीबों मजलुमो और भूखो के बीच भासपा छात्र ईकाई एक सकारात्मक पहल करती नज़र आ रही है।

दरअसल, आपदा और देशव्यापी संकट के वक्त भासपा छात्र के प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस वत्स और उपाध्यक्ष हेमन्त कुमार ने बेहद सरहानीय प्रयास करते हुए निरन्तर रोज़ ब रोज़ जरूरतमंद और झुग्गी निवासियों के बीच कोरोनावायरस के तमाम सुरक्षात्मक मानको के तहत न केवल पका भोजन तैयार कर रहे है बल्कि अमूमन 200 पैकेट भोजन का वितरण कर रहे है। यह सिलसिला Lockdown के दूसरे दिन से ही निर्बाध और नियमित तौर पर जारी है।

मिशन “भूखो को भोजन” प्रिंस और हेमंत खातिर विगत 20 दिनों से यह इनदोनो के दिनचार्य हिसा बन गया है। हर दिन शहर के विभिन्न इलाकों में झुग्गियों में रहने वालों के बीच फ़ूड पैकेट का वितरण करते है। साथ ही छात्र प्रदेश अध्यक्ष प्रिंस वत्स एवं प्रदेश उपाध्यक्ष हेमन्त कुमार द्वारा शहर के विभिन्न क्षेत्रों में युवाओं से अपील भी की जाती है कि विपदा की इस घड़ी में अपने आसपास के रिहायशी इलाकों में निगाहें बनाये रखे ताकि कोई भी शख्स भुखमरी का शिकार न हो। छात्र भासपा द्वारा शहर के जरुरामन्दों मुफ़लिसों और निर्धन निसहायों की निस्वार्थ भाव से भोजन का इंतजाम किया जा रहा है। सेवा भाव से ओतप्रोत प्रिंस और हेमंत की जोड़ी का यह भगीरथ प्रयास अनवरत जारी और जारी रहने को संकल्पित है।

- Advertisement -

इस मुहिम में पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह, मनोज गुड्डू, छात्र भासपा पटना महानगर प्रदेश उपाध्यक्ष विक्की, सोनू, और पाटलिपुत्र विश्विद्यालय अध्यक्ष मणिजी,बड़ेजी जैसे समाजसेवा के भावना वाले प्रखर कर्मवीरों का बढ़ चढ़ कर सहयोग कर रहे है।

- Advertisement -

Comments are closed.