बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News-पटना में अपराधियों का दुःसाहस थाना के समीप दुकान पर ताबड़तोड़ फायरिंग

अपराधियों ने फिर एक बार बिहटा में किया काण्ड, डेयरी दुकान पर फायरिंग कर फैलाई दहशत,थाने के समीप हुई वारदात से सहमें दुकानदार,सूत्रों का दावा रंगदारी की डिमांड नही मानने पर हुई वारदात

867

पटना Live डेस्क।बिहार की राजधानी पटना से सटे बिहटा में अपराधियों का तांडव रुकने का नाम नही ले रहा है। विगत कुछ दिनों से बिहटा में अपराधियों ने कोहराम मचा दिया है। दो दिनों में चार लोगों की हत्या कर दी। वही थाना क्षेत्र के सदिसोपुर में एक घर पर हरबे हथियार से लैस अपराधियों ने हमाल कर दिया और जमकर तोड़फोड़ करते हुए हत्या की नीयत से ताबड़तोड़ कई राउंड फायरिंग भी की। पुलिस इसमें संलिप्त अपराधियों को गिरफ्तार करती, इससे पहले ही बेख़ौफ़ अपराधियों ने बेहद दुःसाहिक कांड को अंजाम दे दिया है। 

बिहटा थाना के अपोजिट महज कुछ ही दूरी पर स्थित एक डेयरी शॉप पर अज्ञात बाइक सवार अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की है। गोलीबारी से अफ़रातफ़री मच गई। इसी बीच मिली जानकारी पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुटी है।

राजधानी पटना से सटे बिहटा में अपराध थमने का नाम नही ले राह है। अपराधियों पर से पुलिस का खौफ़ लगभग समाप्त हो गया है। तभी बिहटा-शिवाला मार्ग के श्रीरामपुर सूर्य मंदिर के समीप सर्वोदय डेयरी शॉप जो थाना के अपोजिट महज चंद मीटर की दूरी स्थित है पर सरेशाम एक बाइक पर सवार अज्ञात अपराधियों ने ताबड़तोड़ कई राउंड गोलियां दाग दी।

वही घटना के बाबत शुरुआती जानकारी यह मिली है कि एक ब्लैक कलर की बाइक पर सवार होकर तीन अपराधी आए और हवाई फायरिंग की। साथ ही यह भी जानकारी मिली है कि फायरिंग के दौरान बाइक सवार एक अपराधी को गोली लग गई। हालांकि घायल अपराधी भी मौके से फरार हो गया। फिलहाल पुलिस अपराधियों की गिरफ्तारी की कवायद में जुटी है।

वज़ह रंगदारी तो नही?

बिहटा थाना के समीप डेयरी शॉप के सामने बाइक सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दहशत फैला दी। बाइक सवार ने कई राउंड फायरिंग की। वही, अपराधियों के इस दुःसाहसिक कारनामे के बाद दुकानदारों में दहशत व्याप्त हो गया है।वही घटना के बाद इलाक़े के व्यवसायियों का कहना है कि थाना के समीप जब अपराधी कांड करने से नही हिचक रहे है तो हालात का अंदाज़ा लगा लीजिए। वही गोलीबारी के पीछे की वजह क्या है इस सवाल सभी चुप है। वही पुलिस जांच की बात कह रही है।

वही घटना के बाबत विश्वस्त सूत्रो का दावा है कि घटना की वज़ह रंगदारी की डिमांड को अनसुना करना है। दरअसल, बिहटा-नौबतपुर के अपराधियों का यह पुराना तरीका रहा है। पहले वो दुकानदार को वाट्सएप कॉलिंग कर रक़म की माँग करते है।

अपने करतूतों व अपराध को बढ़ा चढ़ाकर कर सुनाकर दुकानदार को डराते है। तमाम धमकियां देते है। सिलसिला लगातार चलता है। फिर भी जब बात नही बनती है और व्यवसायी पैसे देने से इनकार कर देता है तो फिर धमकाते हुए उसके दुकान के बाहर अपने गुर्गो को भेजकर ताबड़तोड़ गोलियां चलवाई जाती है। गोलीबारी के बाद सहमे दुकानदार को फिर वाट्सएप कॉलिंग कर दुबारे धमकी दी जाती ये ट्रेलर था रंगदारी की रकम फलाना को पहुचा दो नही अबकी बार ……… ।

खौफज़दा दुकानदार घबरा कर रकम दे देता है। बिहटा- नौबतपुर के अपराधियों का दहशत कायम कर वसूली का यह तरीका काफी पुराना है। ऐसी तमाम वारदाते पुलिस फाइलों में दर्ज है।

Comments are closed.