बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Begusarai Firing: 2 शूटर्स ने 6 थानाक्षेत्रों में 30 KM के दायरे में घूम घूमकर 11 लोगों को मारी गोली,1 की मौत सोती रही Begusarai Police

बेगुसराय की सड़कों पर एक घंटे तक मौत नाचती रही वो गोलियां चलाते 6 थानाक्षेत्रों में कोहराम मचाते 30 किलोमीटर तक बिहार पुलिस के इक़बाल को रौंदने और चीथड़े उड़ाकर लापता हो गए ....2 घण्टे बाद टूटी नींद नाकाबंदी कर किया कोरम पूरा

274

पटना Live डेस्क। शायद आपके जेहन में 26/11 वर्ष 2008 मुम्बई अटैक कही न कही कौंध गया होगा जब आपने यह खबर सुनी या पढ़ी या देखी होगी कि बिहार के बेगुसराय में एक बाइक पर सवार दो (2) लोग सड़क पर अन्धाधुन्ध गोलियों चलाते आगे बढ़ते जा रहे है। आशय स्पष्ट था बेगुसराय की सड़कों पर मौत नाच रही थी, लोगो को गोलियां लग रही थी वो धराशाई होकर इधर उधर लुढ़क रहे थे दर्द से चीख़ रहे थे लेकिन गोलियों की तड़तड़ाहट सुनकर लोग अपनी जान बचाकर इधर-उधर भाग रहे थे।

                   जबकि खौफ़ और दहशत फैलाते बाइक सवार शूटरों को जो भी सड़क पर दिखाई देता उस पर दनादन फायरिंग करते हथियार लहराते आगे बढ़ते रहे। मौत का यह तांडव लगभग एक घंटे तक बदस्तुर जारी रहा। इस दौरान अपराधियों द्वारा लगभग एक घंटे तक एनएच 28 और 31 पर लगभग 30-32 किलोमीटर तक ताबड़तोड़ कारबाइन/पिस्टल से फायरिंग करके दहशत फैला दी गई। इस खौफ़नाक खूंरेजी की वारदात में अबतक एक की मौत हो गई जबकि 10 लोग घायल हो गए है। वही अपुष्ट सूत्रों का दावा है कि 13 लोगो को गोली लगी है वही मरनेवाले एक से ज्यादा है का दावा किया जा रहा है। पुलिस पर बेहद गंभीर सवाल उठ रहे है। साथ ही बिहार पुलिस के मुखिया की कार्यशैली भी सवालों के घेरे में है।

6 थाना क्षेत्रों में तांडव मचाकर लापता हो गए

गोलीबारी की शुरुआत या यू कहे की पहली वारदात बाइक सवार अपराधियों ने सबसे पहले बरौनी थर्मल चौक की। तकरीबन चार बजकर 45 मिनट पर थर्मल चौक पर अचानक बाइक सवार बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी,जबतक लोग बाग कुछ समझ पाते 3 लोगो को गोली मार कर बदमाश एनएच से बीहट की ओर निकल गए। लेकिन यह तो महज शुरुआत थी। लेकिन सबसे हैरत कि बात यह है कि नेशनल हाईवे पर चकिया से बछवाड़ा तक 30 किलोमीटर से अधिक की दूरी तक अपराधी जहां-तहां गोली चलाते रहे और 11 लोगों को ठोक दिया। इस तांडव के दौरान अपराधियों ने छह (6) थानों- चकिया, एफसीआइ, जीरोमाइल, बरौनी, फुलवरिया, तेघड़ा और बछवाड़ा थानाक्षेत्र में तांडव मचाया लेकिन इन थानों में किसी ने इन बेखौफ अपराधियों पर कार्रवाई नहीं की उल्टा अपराधी बड़े आराम से सभी 6 थानों को पार कर लिया और फिर लापता हो गए।

यानी बेगुसराय की सड़कों पर मौत नाच रही थी। वो बाइक पर सवार अंधाधुंध गोलियां चलाते लोगो को ठोकते आगे बढ़ रहे थे लेकिन बेगुसराय पुलिस को भनक तक नही लगी और पुलिस तब हरकत में आयी जब युवक फायरिंग करने के बाद लापता हो गये।

खत्म हो बिहार और बेगुसराय पुलिस का इक़बाल

न केवल बेगुसराय बल्कि बिहार पुलिस के इक़बाल को 30 किलोमीटर तक रौंदने और चीथड़े उड़ाकर महज 2 बाइक सवार अपराधियों ने जंगलराज़ नही जनताराज़ का दावा करने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के दावों की भी बखिया उधेड़ कर रख दिया है। अपराधियों ने 30 किलोमीटर के अंदर 11 लोगों को अलग-अलग जगहों पर गोली मार दी। ग्यारह (11) लोगों को गोली मारने के बाद दोनों अपराधी राजेन्द्र पुल होते हुए पटना के मोकामा की तरफ भाग निकले हैं। घायलों के अनुसार स्प्लेंडर बाइक चला रहा युवक उजला रंग का टीशर्ट पहने हुए था।

तांडव मचाने वाले दोनों अपराधियों में पुलिस प्रशासन का ज़रा भय नही रहा होगा तभी तो एक घंटे तक फिल्मी स्टाइल में एक युवक एक हाथ से फायरिंग करता रहा,जिसको मन किया या जो दिखाई दिया उसको गोली मारी दी। पिस्तौल से लैस बाइक सवार अपराधी ने पच्चीस किलोमीटर तक फायरिंग करते रहे और पुलिस को उनकी भनक तक नहीं लगी। तभी तो बेगुसराय पुलिस इस खूंरेजी के लगभग दो घंटे बाद सक्रिय हुई।

नई गाड़ियों भी थानों की बनी शोभा

बदमाशों के द्वारा बछवाड़ा, तेघड़ा, फुलवड़िया, बरौनी तथा चकिया ओपी होते हुए 11 लोगों को गोली मार दी गई लेकिन पुलिस कहीं नहीं दिखी। कहने को जिले में कई थानों को लगातार गश्ती के लिए नयी-नयी गाड़ियां दी गई हैं। लेकिन, इस घटना ने जिले की पुलिसिंग की पोल खोलकर रख दी है। साइको बदमाश लगातार घटना को अंजाम देते निकल गए और कहीं पुलिस उन्हें पकड़ नहीं पाई। घटना को लेकर स्थानीय लोगों में आक्रोश है। लोगों ने बताया कि एनएच पर पुलिस गश्ती नियमित रूप से होती तो ऐसा दुस्साहस कोई नहीं करता।

                  हालांकि, पुलिस बदमाशों को गिरफ्तार करने के लिए संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी करने की बात कह रही है। लेकिन, लोगों को भरोसा नहीं रह गया है। कई लोगों ने बताया कि यह पहला मामला है जब इस तरह से बदमाशों ने अंधाधुंघ फायरिंग करते हुए पूरे जिले की पुलिस को चुनौती दे डाली हो।

Comments are closed.