बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Fact Finding- पूर्व पार्षद गुड्डू शर्मा की हत्या से जुड़े बेहद गहरे राज़ दफन है फ्लैट नम्बर 102 में! फ्लैट में लगवा रखा था cctv आखिर क्यों?

आखिर क्या छिपाने की कोशिश हो रही पूर्व जिला पार्षद गुड्डू शर्मा हत्याकांड में! एक कत्ल होता है और उस फ्लैट में मक़तूल समेत सिर्फ तीन लोग ही मौजूद थे! बेटा पत्नी और मरने वाला गुड्डू शर्मा,गोली चलती है पर किसी को पता नही चलता है? घर के किचन और बाथरूम में खून के छीटें ! सबसे बड़ी बात आखिर क्यो फ्लैट के अंदर भी गुड्डू ने CCTv क्यो लगवाया हुआ था?क्या राकेश को अपनो से ही खतरे का एहसास था?

946

पटना Live डेस्क। राजधानी में मंगलवार को रूपसपुर थाना क्षेत्र में पूर्व जिला पार्षद की संदिग्ध मौत अब हत्या में बदल गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि पूर्व जिला पार्षद राकेश कुमार की गोली मारकर हत्या कर डाली गई। कत्ल हुआ है तो क़ातिल भी है और क़ातिल घर के कोने कोने से वाकिफ़ था। साथ ही फ्लैट में लगे CCTv कैमरे के तार भी काटे और फिर हत्या के बाद घर में लगे सीसीटीवी कैमरा के डीबी को भी उखाड़ कर साथ ले गया। लेकिन सब से बड़ी बात ये है कि उक्त फ्लैट में सिर्फ मक़तूल सहित सिर्फ 3 लोग थे। वही अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि राकेश कुमार को सर के पिछले भाग में गोली मारी गई थी जो गोली उनके आंख के पास आकर अटक गई थी।यानी गोली चली और मक़तूल की पत्नी और बेटे को इसका जरा भी एहसास नही हुआ। वही बेटी देहरादून में पढ़ाई कर रही है।

                       वही, बकौल मक़तूल राकेश कुमार के बड़े भाई रवि शंकर ने बातचीत के क्रम ने बताया कि जिस फ्लैट में राकेश कुमार रहते थे उसमें लगभग 25 परिवार रहता है।उन्होंने आशंका जताई है कि बालकोनी के रास्ते संभव हो अपराधी घर में घुसने के बाद हत्या की घटना को अंजाम दिए। उन्होंने बताया कि राकेश कुमार अपने गले में काफी कीमती सोने के दूध चेन पहनते थे वह दोनों चेन गले से गायब है।

3 घंटे बाद पुलिस को दी गई सूचना

रुपसपुर थानांतर्गत विश्वेश्वरैया नगर स्थित साकेत सदन अपार्टमेंट के फ्लैट संख्या-102 में नौबतपुर (उत्तरी) के पूर्व जिला पार्षद पैंतालीस वर्षीय राकेश कुमार उर्फ गुड्डू शर्मा की गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना की जानकारी स्वजन ने पुलिस को मंगलवार की सुबह करीब सात बजे दी। मिली सूचना पर दानापुर के एएसपी अभिनव धीमान और थानाध्यक्ष रामानुज राय ने घटनास्थल का जायजा लिया। राकेश कमरे में बिस्तर पर पेट के बल पड़े थे। सिर के नीचे तकिया खून से सना था। मुंह और नाक से भी खून निकला था। सिर के पीछे जख्म के निशान भी था। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए पटना मेडिकल कालेज एंड हास्पिटल (पीएमसीएच) भेज दिया।

शव के PMCH पहुचने पर अस्पताल सूत्रों के मुताबिक, राकेश के सिर में पीछे से गोली मारी गई। सिर से 0.22 बोर की एक गोली बरामद हुई। हालांकि, पुलिस आधिकारिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया और  FSL (एफएसएल) की टीम के जरिए घटनास्थल से साक्ष्य एकत्र कराए गए।

बकौल पत्नी घटना का विवरण

मक़तूल राकेश की पत्नी अलका कुमारी ने बताया कि सुबह चार बजे रोज की तरह मार्निंग वाक पर जाने के लिए जगी। उन्होंने कमरे का दरवाजा बंद पाया। काफी देर तक दरवाजा नहीं खुला तो उन्होंने जेठ रविशंकर को काल कर घर में चोरी की आशंका जताई। इतने में दरवाजा खुल गया। उन्होंने देखा कि दरवाजे की कुंडी बाहर से रस्सी के सहारे बेसिन से बांधी गई थी। इसके बाद वह पति के कमरे में गईं, जहां राकेश मृत अवस्था में मिले। अलका चीखने -चिल्लाने लगीं। उनकी चीखें सुनकर बेटा शशांक साहिल दौड़ते हुए कमरे में आया। इसके बाद अपार्टमेंट के गार्ड और दूसरे फ्लैट में रहने वाले लोग भी पहुंचे। रविशंकर के पहुंचने पर पुलिस को खबर दी गई।

कमरे की खिड़की और फ्लैट का मेन गेट था बंद

पत्नी अलका व बेटे के अनुसार  राकेश के कमरे की खिड़की बंद थी। एसी चालू था। फ्लैट का मेन गेट भी खुला नहीं था। हालांकि, बालकनी का दरवाजा खुला था। पुलिस जांच में फ्लैट की बालकोनी से फ्लैट में प्रवेश की संभावना को नकारा दिया गया। मृतक राकेश के बदन पर केवल हाफ पैंट था। पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर के अनुसार (अंदाज़न) राकेश को चार-पांच फीट की दूरी से सिर में गोली मारी गई जब वो गहरी नींद में थे।

लाइसेंसी रिवाल्वर को पुलिस ने किया है जब्त

एएसपी और रूपसपुर थाना पुलिस ने अपनी शुरुआती तफ़्तीश में पाया कि गोला रोड स्थित प्लैट के जिस कमरे में राकेश का शव पड़ा उक्त कमरे के गोदरेज का दरवाजा खुला है। उसमें मृतक का लाइसेंसी लोडेड रिवाल्वर है। जिसमें 6 गोलियां थी। पुलिस ने उस रिवाल्वर को जब्त कर लिया।

वही, जांच को पहुची फॉरेंसिक टीम जब पहुंची तो जांच में बेडरूम के अलावे बाथरूम और किचेन में खून के छींटे मिले। हालांकि प्राथमिक जांच में यह पाया गया। साथ ही यह भी पता चला कि पूर्व जिला पार्षद के लाइसेंसी रिवाल्वर से गोली नहीं चली है। पुलिस ने मृतक की पत्नी और बेटे से तीन घंटे तक  पूछताछ की पर माहौल की गभीरता को देखते हुए दोनो से बाद में गहनता से पूछताछ करने का मन बनाया।

कत्ल में बेहद अपने शामिल

माँ बेटे से शुरुआती पूछताछ के बाद पुलिस इस निष्कर्ष पर पहुंची है कि इस घटना में अपनों का हाथ है।वही पुलिस के इस शुरुआती निष्कर्ष को मक़तूल पूर्व पार्षद के सगे-संबंधियों के बयान ने मजबूत आधार प्रदान किया है। दरअसल, राकेश के सगे संबंधियों का स्पष्ट मानना है कि इस घटना में बेहद अपने लोगों का हाथ है। मतलब साफ है फ्लैट संख्या 102 में ही गुड्डू के कत्ल के राज़ छिपे है।

अपनो पर पटना पुलिस को शक

पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो का कहना है कि हमलोगों ने सभी पहलूओं पर जांच कर रहे हैं। लाश घर में मिली है। कोई बाहर से उस तरह का आदमी नहीं आया है। लाइसेंसी रिवाल्वर को हम लोग जांच के लिए भिजवा रहे हैं। पुष्टि हो गई है कि उसके सर में काफी नजदीक से गोली मारी गई है।घर वाले लोग काम-क्रिया में लगे हुए हैं।एक बार हम उन लोगों से सघन रूप से पूछताछ करेंगे। पत्नी और बेटे से सघन पूछताछ के बाद मामला क्लियर होगा।

सवाल दर सवाल

आखिर फ्लैट में गुड्डू शर्मा ने CCTv क्यो लगवा रखा था? अमूमन इंसान सेक्युरिटी ख़ातिर कैमरे घर के बाहर लगवाते है।ताकि आसपास नज़र रखी जा सके?घटना के वक्त नौबतपुर के तीसखोरा गांव के निवासी राकेश कुमार शर्मा उर्फ गुड्डू शर्मा के घर में लगे सीसीटीवी कैमरा के तार काटे गए। फ्लैट में राकेश कुमार की पत्नी अलका कुमारी एवं उनका 17 वर्ष का बेटा साहिल दूसरे कमरे में सोया था जबकि राकेश अकेले एक कमरे में सोए थे। गोली चली और घर के मुखिया की हत्या हो जाती है और दोनो बेखबर सोए रहते है? फ्लैट का मुख्य द्वार बंद था? अपार्टमेंट के गार्ड ने बताया साढ़े नौ बजे राकेश घर लौटे थे। कोई मिलने भी नही आया।

                        बकौल परिजन के कमरे को रस्सी से बेसिन के सहारे बंद करने की कोशिश की गई थी। क़ातिल आखिर कीचन में क्या करने गए ? बाथरूम के जाने का उद्देश्य भी समझ के परे गर पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों के रिपोर्ट की तर्ज पर सोचा जाए तो यानी गोली नींद में गाफिल राकेश को गोली मारी गई है तो? ख़ैर, बाथरूम जाने का कारण ये भी हो सकता है की गोली मारने पर खून के छीटे पड़े हो जिनको धोने गया हो?लेकिन किचन ?

Comments are closed.