बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Fact Findings-अंकिता हत्याकांड|आरोपी शाहरुख की क्रूरता के पीछे का वो सच! जो आपके होश उड़ा देगा देखिए

अंकिता पर पेट्रोल डाल कर जिंदा फूंकने वाले शाहरुख के बाबत मीडिया का कहना है कि वो एक तरफा प्यार में पागल सनकी है लेकिन जब पटना Live ने सच जांचना शुरू किया तो इस जघन्य काण्ड के पीछे का सच कुछ यूं निकला

1,067

पटना Live डेस्क। झारखंड के दुमका के जरुआडीह मोहल्ले में 23 अगस्त को 12वीं की छात्रा अंकिता को उसी के पड़ोस में रहने वाले शाहरुख नाम के कथित सनकी युवक ने पेट्रोल छिड़कर आग के हवाले कर दिया था। शाहरुख़ कथित तौर पर नाबालिग छात्रा को महिनों से परेशान कर रहा था। साथ ही यह भी दावा किया गया कि अंकिता पर शाहरुख ने फोन पर बात करने का भी दबाव बनाया था।वह उस पर शादी के लिए भी दबाव बना रहा था।घटना से एक दिन पहले यानी 22 अगस्त की रात उसने अंकिता को जान से मारने की धमकी भी दी थी। अगले दिन यानी 23 अगस्त को सुबह सबेरे जब घर के सभी लोग सो रहे थे। उसी दौरान शाहरुख ने घर में घुसकर अंकिता पर पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी थी।अंकिता को हॉस्पिटल ले जाया गया लेकिन आखिकार वह जिंदगी से जंग हार गई। इस दरिन्दगी भरे वारदात को अंजाम देने के आरोपी शाहरुख और उसके एक दोस्त को पुलिस ने कर लिया है।

दरिंदगी भरे इस वारदात की गूंज

झारखंड के दुमका में 12वीं की स्टूडेंट अंकिता सिंह पर पेट्रोल डालकर जिंदा फुकने की इस वारदात की गूंज पूरे देश मे सुनी गई। लोगो का गुस्सा उस वक्त और उबल उठा जब इस बीच शाहरुख का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें पुलिस कस्टडी के अंदर वह मुस्कुरा रहा है। इस वीडियों के वायरल होते ही सोशल मीडिया पर लोगों ने शाहरुख की ‘बेशर्म हंसी’ पर सवाल उठाया साथ ही तमाम तरह की लालत मलानत कर दी। शाहरुख को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और उससे हत्या में शामिल अन्य आरोपियों को लेकर पूछताछ की जा रही है।

अंकिता नही करना चाहती थी शाहरुख बातचीत

बताया जाता है कि शाहरुख वही आरोपी है जिससे अंकिता बात नहीं करना चाहती थी। शाहरुख ने कही से अंकिता का नंबर कहीं से ले लिया था। इसके बाद उसे फोन करके परेशान कर रहा था। बताया जाता है कि अंकिता ने शाहरुख को कई बार समझाया कि मुझे कॉल मत करो,लेकिन वह माना नहीं। नौबत धमकी तक आ गई.। शाहरुख धमकी देने लगा कि अगर तुम मुझसे बात नहीं करोगी तो मैं तुम्हें मार डालूंगा। अंकिता ने शाहरुख की इस हरकत के बारे में परिवार को बताया।इससे पहले परिवार वाले कुछ कर पाते वारदात हो गई।

कैसे हुई घटना

अंकिता को पेट्रोल छिड़कर ज़िंदा फुकनेवाला शाहरुख ने कथित तौर पर 22 अगस्त की रात को अंकिता को फोन करके धमकी दी और कहा कि मैं तुम्हारे घर आ रहा हूँ। अंकिता ने यह बात घरवालों को बताई। घर वाले कहे कि आने दो। बात आई और गई हो गई, लेकिन 23 अगस्त की सुबह 4 बजे शाहरुख अंकिता के कमरे में खिड़की के रास्ते घुस जाता है। उस पर पेट्रोल छिड़कता है और आग लगा देता है। अंकिता की आंख खुलती है तो वह खुद को आग से घिरा पाती है।

जलती हुई अंकिता चिल्लाती है और दरवाजा खोलकर आंगन में आ जाती है। आंगन में आते ही उसको सामने एक बाल्टी दिखती है, जिसमें पानी भरा था। उसे वह अपने ऊपर डाल लेती है। आग फिर भी न बुझती है। इतने में घर वाले आ जाते हैं। उनके होश उड़े रहे थे, लेकिन तुरंत कंबल लाकर अंकिता को बचाने की कोशिश की जाती है। अंकिता बुरी तरह जल चुकी थी। उसे आनन-फानन में दुमका के अस्पताल में लाया जाता है,जहां से उसे रांची के रिम्स में रेफर कर दिया जाता है।

रांची के रिम्स में इलाज के दौरान अंकिता पूरी आपबीती बताती है। इस वारदात के सामने आने के बाद दुमका समेत पूरे झारखंड में बवाल शुरू हो जाता है।इस बीच रांची के रिम्स में अंकिता जिंदगी से जंग लड़ रही होती है और पूरा देश उसके लिए प्रार्थना कर रहा होता है। लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था। 29 अगस्त 2022 अंकिता जिंदगी की जंग हार जाती है। बेटी की लाश उठाए परिजन दुमका लौट जाते है।

आरोपों के बीच एक सच ये भी …

शाहरूख द्वारा अंजाम दिए गए क्रूरतम अपराध की सज़ा जरूर मिलना चाहिए। पूरा देश एक स्वर में उसको सज़ा देने की मांग कर रहा है। सज़ा मिलनी ही चाहिए पटना Live भी इसकी मांग करता है। लेकिन बकौल मीडिया यह एक तरफा प्यार में सनकी द्वारा अंजाम दी गई वारदात है। लेकिन जब पटना Live ने सच जांचना शुरू किया तो इस जघन्य काण्ड के पीछे का सच कुछ यूं निकला.. अंकिता और शाहरुख के बीच लंबे वक्त से दोस्ती थी। दोनों एक दूसरे के साथ वक्त भी बिताया करते थे। लेकिन इस साल मार्च के बाद दोनों की दोस्ती में दरार पड़ गई और अंकिता ने शाहरूख को इग्नोर करना शुरू कर दिया।

यह एकतरफा प्यार का मामला नही है बल्कि ये तस्वीर तो और बातों की तस्दीक कर रही है। अगर अंकिता शाहरुख एक दूसरे के दोस्त नही थे तो फिर…..

Comments are closed.