बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Super Exclusive (Fact finding)पटना में बुजुर्ग दंपत्ति की पिटाई व लूट काण्ड में पुलिस को मिली सफलता,लुटेरों की हुई पहचान,एक डिटेन

84
  • अपार्टमेंट में फ्लैट नम्बर 202 के ऑनर यादवजी ने लगा रखा है CCTv, पुलिस ने DVR तक किया कब्जा
  • लूट में शामिल एक लुटेरे का यादव जी के घर रहा है आना जाना
  • वारदात के पहले की थी रेकी, केयर टेकर सह गार्ड से एक दिन पहले की थी पूछताछ
  • पुलिस ने मनोज नामक केयर टेकर सह गार्ड को विगत 2 दिनों से ले रखा है हिरासत
  • सीसीटीवी में दिखाई देने वाले लालजैकेट लुटेरे ने की थी मनोज से बातचीत और रेकी

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में क्राइम का ग्राफ लगातार बढ़ता ही जा रहा है। एसएसपी पटना के तमाम दावों के उलट अपराधियों का तांडव रुकने का नाम नही ले रहा है।एक बार फिर राजधानी में अपराधियों ने पुलिस को चुनौती देते हुए गुरूवार शाम अपार्टमेंट के कमरे में घुस कर हथियार के बल पर रिटायर्ड सीए बुजुर्ग दंपति को घायल कर कैश और एक लाख से अधिक के जेवरात लूट कर फरार हो गए। घटना के बाद अब भी एसएसपी दावे कर रहे है कि जल्द ही लुटेरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा, लेकिन वारदात के 3 दिन बाद भी नतीजा सिफ़र है। सिर्फ शुरुआती अनुसंधान और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने अपार्टमेंट के मनोज नामक युवक जो दिनभर कुरियर लाता ले जाता है साथ ही रात्रि में अपार्टमेंट के केयर टेकर सह गार्ड  की भी जिम्मेदारी निभाता है को विगत 2 दिनों से हिरासत मे ले रखा है। खुद एसएसपी पटना ने मनोज से गांधी मैदान स्थित पुलिस दफ्तर में पूछताछ की है। वर्त्तमान में मनोज कदमकुआं थाने की हिरासत में है।

वही, पुलिस ने अपार्टमेंट में फ्लैट नम्बर 202 के ऑनर यादवजी जिन्होंने अपनी सुरक्षा के तहत खुद CCtv इंस्टॉल करा रखा है। बुजुर्ग दम्पति से मारपीट कर लूटपाट मामले में इन्ही के Cctv को खंगाला था तो लुटेरे दिखाई दिए थे। साथ ही इस बात की भी तस्दीक हुई थी कि 4 की संख्या में रहे लुटेरों ने कैसे सीएम दम्पति के फ्लैट में प्रवेश किया और दो लुटेरे साथ लाये 2 काले बैग से मफ़लर निकालकर चारो ने अपने चेहरे ढके थे। साथ ही नारियल की रस्सी भी बैग से निकाला था जिससे बुजुर्ग दम्पति को बांध कर वारदात को अंजाम दिया था। cctv फुटेज को और खंगाला गया तो लाल जैकेट वाले एक लुटेरे को चिन्हित किया जो वारदात से पहले भी एक दो बार यादवजी से मिलने उनके फ्लैट में आता दिखाई दिया। उक्त आधार पर यादवजी के CCTv का DVR पुलिस न केवल जब्त कर लिया है बल्कि यादव जी से भी उक्त शख्स के बाबत पूछताछ की तो पता चला है कि वह व्यक्ति चुकी यादवजी ठेकेदारी के धंधे से जुड़े है इस वजह से वह लेबर सप्लाई करता रहा है इस वजह से यादव जी और उसके बीच जानपहचान रही है। यादव जी ने उक्त शख्स के बाबत महत्वपूर्ण जानकारियां दी है। उस बिना पर पुलिस पटना सिटी से लेकर उसके पैतृक घर तक दस्तक दे चुकी है। लेकिन पटना पुलिस अबतक महज लुटेरों की पहचान के ही दावे कर रही पर लुटेरे की गिरफ्तारी से कोसो दूर है।इधर,पुलिस द्वारा डिटेन मनोज के साथ पूछताछ के दौरान जमकर मारपीट की गई, इस बाबत अपार्टमेंट के लोग खासे खफ़ा है।

तीसरी आंख ने खोला राज 4 थे लुटेरे

गुरुवार शाम लूटपाट की ये घटना कदमकुआं थाना क्षेत्र के राजेंद्रनगर इलाके की है। शहर के सबसे पुराने पॉश इलाकों में शुमार राजेंद्रनगर के टेलीफोन एक्सचेंज रोड पर स्थित छठधाम अपार्टमेंट की लेफ्ट में एक डिपार्टमेण्ट स्टोर तो राइट में सेंट्रल बैंक और उसी बैंक का एटीएम है। CCtv में स्पष्ट दिखाई देता है कि चारो लुटेरे बैंक की ओर से टहलते हुए आते है 2 तो छठधाम अपार्टमेंट में दरवाजे से अंदर चले जाते है और अन्य दो डिपार्टमेंटल स्टोर की ओर टहलते चले जाते है। अंदर आये दोनो लुटेरों में से एक लुटेरा टहलते हुए अपार्टमेंट के पीछे चला जाता है जहाँ बाथरूम और लैट्रिन बने हुए। वही दूसरा बेसमेंट में स्थित पार्किंग की ओर चला जाता है। इसी बीच सड़क पर टहल रहे दोनो लुटेरे अंदर आ जाते है फिर बेसमेन्ट और पीछे गया लुटेरा भी इकट्ठा हो जाते है। शायद चारो मोबाइल से कनेक्ट रहें होंगे तभी तो एक साथ सभी गार्ड की खाली कुर्सी के पास इकट्ठा हो जाते है। उल्लेखनीय है कि इस वक्त तक सभी के चेहरे खुले हुए है।

गार्ड की कुर्सी के समीप 2 लुटेरे अपने साथ लाये 2 काले बैग से चेहरे को छुपाने ख़ातिर मोफलर निकालते है और सभी अपने चेहरे ढक लेते है। फिर सभी चार्टर्ड अकाउंटेंट दूसरे तल्ले पर स्थित फ्लैट नंबर 204 के सामने पहुचकर कॉल बेल दबाते है। बुजुर्ग महिला गेट खोलती है। चारो अपराधी अचानक घर में घुस कर पहले अपने साथ लाये नारियल की रस्सी से दोनो बुजुर्ग दम्पति के हाथ पैर को बांध दिया फिर लूटपाट करने लगे। जब दोनों ने विरोध किया तो हथियार से मारकर घायल कर दिया और चिल्लाने पर जान मारने की धमकी दी और तकरीबन 20-25 मिनट तक फ्लैट को खंगालते है। घर मे रखे 35 हजार नकद, 40 ग्राम सोने के गहने, तीन मोबाइल, एक लैपटॉप समेट कर अपने साथ लाये बैग्स में भर कर चलते बने। लुटेरे भी काफी हड़बड़ी में थे वर्ना लूट को पहुचे पर बुजुर्ग महिला के हाथों में सोने की 2 महंगी चूड़ियां छोड़कर चलते बने।

घटना की जानकारी मिलते ही घटना स्थल पर पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा और डीएसपी टाउन समेत कई थानों की पुलिस पहुंची और मामले की छानबीन में जुट गई है।पुलिस यह दावा जरूर कर रही है कि जल्द ही अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है की वारदात के 4 दिन बाद भी सिर्फ दावे है पर धरातल पर कुछ नही है।

Comments are closed.