बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

Fact Finding-आर से रिमझिम आर से रूपेश-फिर एक बार पटना पुलिस के खुलासे पर उठते बेहद गंभीर सवाल

पटना में वर्ष 2021 की अबतक की सबसे हाइप्रोफाइल हत्याकांड और अब साल के आखरी दिनों में रिमझिम हत्याकांड। दोनो ही कांडों के पटना एसएसपी के खुलासे पर परिजनों ने उठाए गंभीर सवाल, आख़िर क्यो?

993

पटना Live डेस्क। वर्ष 2021 अपनी समाप्ति की ओर बढ़ चला है। नव वर्ष में दुनिया बदलाव और बेहतर कल को लेकर उत्साहित नज़र आ रही है। लेकिन कुछ नही बदलता अगर नही दिखाई दे रहा है तो वो है पटना पुलिस के हाई प्रोफ़ाइल मामलों के खुलासे पर उठने वाले गभीर सवाल। यानी वर्ष 2021 की शुरुआत में इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रुपेश कुमार सिंह की 12 जनवरी की शाम पटना के शास्त्री नगर थाना क्षेत्र के पुनाइचाक स्थित कुसुम विलास अपार्टमेंट के गेट पर अपराधियों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी।वारदात के वक्त वो पटना एयरपोर्ट स्थित अपने दफ्तर से घर लौट रहे थे। घटना से कोहराम मच गया था।

 

बेहद है हाई प्रोफाइल मामले में पटना पुलिस ने घटना के 22 दिन के बाद खुलासा किया और जो हत्या की वजह बताई वो न तो परिजनों को और आवाम को डाइजेस्ट हुआ।दरअसल,पटना हवाई अड्डे पर तैनात इंडिगो एयरलाइंस कंपनी के स्टेशन प्रबंधक रूपेश कुमार सिंह की हत्या को पुलिस भले ही रोडरेज के कारण हुई हत्या बता रही है,लेकिन रूपेश के परिजन इस पर यकीन नहीं कर पाए। रूपेश के परिजनों का कहना रहा कि जो दावा पुलिस कर रही है वह पचने वाली नही। साथ ही पटना पुलिस की रोड रेज की थ्योरी को लेकर आरोपी ऋतुराज की पत्नी ने बेहद शर्मनाक और विभत्स आरोप कोर्ट में एसएसपी समेत अन्य पर चस्पा किए। मामला कोर्ट में लंबित है कानूनी प्रक्रिया जारी है।

वही, साल 2021 के अंतिम दिनों मे फिर एक बार राजधानी में रख हाई प्रोफाइल हत्याकांड को अंजाम दिया गया।दरअसल, 24 नवम्बर सुबह सबेरे पटना के नौबतपुर थानाक्षेत्र में एक महिला के शव बरामद किया गया। पहचान बातौर रिमझिम उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में कार्यरत डॉ.विश्वजीत चतुर्वेदी की पत्नी के तौर पर हुई। मृतका रिमझिम को गोली मारी गयी थी। यह घटना भी हाई प्रोफाइल थी। पटना पुलिस रिमझिम हत्याकांड का 27 नवम्बर को खुलासा किया। पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने खुलासा करते हुए बताया कि रिमझिम तंत्र-मंत्र कर पूजा पाठ कराती थी।साथ ही ब्याज पर पैसे लगाती थी। घटना के मुख्य आरोपी रोहित ने रिमझिम से ही 15 प्रतिशत ब्याज पर कर्ज लेकर उसकी हत्या की सुपारी दी थी।

घटना के दिन जिस रोहित के साथ रिमझिम निकली थी,वो बीते दो सालों से उसके संपर्क में था और अपने मानसिक तनाव का इलाज पूजा पाठ और तंत्र मंत्र के जरिए उससे ही करवा रहा था। साथ ही पुलिस का दावा रहा कि रोहित अपने तीन दोस्तों और दो सुपारी किलर के सहयोग से रिमझिम की हत्या करा दी। फिलहाल पुलिस ने इस मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार किया। रोहित ने रिमझिम की हत्या के लिए चार लाख की सुपारी दी थी।

बहन का बड़ा दावा,पुलिस केस को रही हैं घुमा

जैसा रूपेश हत्याकांड में परिजनों ने पुलिस के खुलासे पर तमाम सवाल उठाए ठीक वैसे ही अब रिमझिम हत्याकांड में मृतका की बहन ने पटना पुलिस के खुलासे पर बेहद गंभीर सवाल उठाए है। साथ ही कई खुलासे भी किए है। बहन श्वेता पाठक ने कहा है कि रिमझिम की हत्या में ब्लैक मैजिक का फार्मूला सही नही है।

पुलिस या तो मामले को डाइवर्ट कर रही है या जांच में कुछ कमी है। श्वेता पाठक ने दावा किया है कि ब्यूटी पार्लर संचालिका रिमझिम की हत्या तंत्र-मंत्र में नहीं,बल्कि लाखों रुपये की देनदारी में की गई थी।

व्हाट्सएप और डायरी में छिपे है तमाम राज

रिमझिम की बहन बक्सर की महिला नेत्री श्वेता पाठक ने दावा किया है कि हत्या की वजह लेन-देन है। श्वेता पाठक ने कहा कि हत्याकांड में शामिल सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर पटना पुलिस ने सराहनीय कार्य किया, लेकिन किस वजह से हत्याकांड की कहानी को तंत्र-मंत्र का रूप दे दिया, यह समझ से परे है। हत्या के पीछे बहन द्वारा मुझे भेजे गए वाट्स एप मैसेज और लॉकर में कैद लेखा-जोखा की डायरी की जांच में पैसों की देनदारी के राज छिपे हैं। उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि जेल भेजे गए आरोपितों को रिमांड पर लेकर पुलिस हत्याकांड की हकीकत सामने लाए क्योंकि तंत्र-मंत्र की बात से परिवार को गहरा सदमा लगा है।

उनका साफ कहना है कि मेरे परिवार का हर कोई सदस्य पढ़ा-लिखा और समझदार रहा है। रिमझिम भी उच्च शिक्षित होने के साथ खुद को हर मामले में अपडेट रखती थीं। तंत्र-मंत्र से उनका दूर-दूर तक कोई लेना देना नहीं था। जेल गया आरोपित रोहित उनसे लाखों रुपये कर्ज ले चुका था। पैसे न देने पड़े, इसलिए ही उसने तय साजिश के तहत मेरी बहन की हत्या कर दी।

Comments are closed.