आखिर शहाबुद्दीन ने क्या ऐसा सच बोल दिया था,जिसे लालू याद कर रहे है, देखिये वो सच क्या था

235

पटना Live डेस्क। 13 साल बाद 10 सितंबर 2016 को भागलपुर से बेल पर जेल से रिहाई मिलने के बाद  शहाबुद्दीन ने स्पष्ट कहा था कि “हमारे नेता लालू प्रसाद यादव है। वही सीएम नीतीश कुमार के बाबत साफ तौर पर कहा था कि “परिस्थितियों के सीएम”।                                                 26 जुलाई की रात 8 बजे से तमाम राजद समर्थक शहाबुद्दीन के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया में खूब कमेंट कर रहे है। शहाबुद्दीन द्वारा नीतीश ख़ातिर बिल्कुल स्पष्ट और साफगोई के साथ कहा गया था कि परिस्थितियों के सीएम है। अब यह बात बिल्कुल राजद समर्थकों की नज़र आईने की तरह साफ हो गई है कि शहाबुद्दीन को नीतीश के सियासी प्रपंच के बाबत  पहले से जानकारी थी या हो सकता है उनका आकलन रहा हो पर उनकी बात 10 महिने बात बिल्कुल सही साबित हो गई है।
भागलपुर जेल से बाहर निकलते ही शहाबुद्दीन ने जिस तरह से लालू की तारीफ की थी और नीतीश पर सीधे सीधे हमला किया था यह किसी ने सोचा नहीं था कि सीवान के पूर्व सांसद डॉ मोहम्मद शहाबुद्दीन जेल से निकले ही तात्कालिक महागठबन्धन के सीएम पर हमलावर हो जाएंगे।

उन्होनें मीडिया के सामने कहा था कि लालू यादव ही मेरे नेता हैं और मैंने कभी भी बैकडोर पॉलिटिक्स नहीं की है। साथ हो खुद को जेल भेजने के पीछे नीतीश सरकार के हाथ के सवाल पर शहाबुद्दीन ने कहा कि नीतीश कुमार परिस्थितिवश सीएम बने हैं।साथ ही पूर्व सांसद ने कहा था कि भी जानते हैं कि मुझे फंसाया गया है। लेकिन मुझे न्यायालय पर पूरा विश्वास है।

Loading...