BiG News (वीडियो) पटना में कुख्यात रवि गोप की सरेआम हत्या, पुलिस को मिले 2 खोखे ,19 वर्षो तक पाताललोक में रहा सक्रिय, डेढ़ दर्जन अपराधों में था नामज़द 

872

शशि यादव, वरीय संवाददता, पटना

पटना Live डेस्क। बिहार में अपराधियों के हौंसले कितने बुलंद है इसका अंदाजा प्रदेश में बढ़ रहे अपराधों से लगाया जाता है। अपराधी कभी भी और कहीं भी किसी को गोली मारकर फरार होने में कामयाब हो जाते हैं। ऐसी ही एक घटना सोमवार सुबह  पटना के किदवईपुर में घटित हुई।  बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र स्थित किदवईपुरी में मॉर्निंग वॉक से लौट रहे एक युवक को अपराधियों ने सुबह गोली मार कर हत्या कर दी। बताया जाता है कि गोली उसके सिर और पेट में लगी है। राजधानी के पॉश इलाकों में शामिल किदवईपुरी में अहले सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से इलाके में दहशत का माहौल है। जानकारी के मुताबिक, राजधानी पटना के बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र स्थित किदवईपुरी सोमवार की सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठा। बताया जा रहा है कि मॉर्निंग वॉक कर घर लौट रहे एक युवक के जयकुंज अपार्टमेंट के निकट पहुंचते ही अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली लगते ही युवक धराशायी हो गया। उसके सिर और पेट में गोली लगी है. घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल है।

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएमसीएच भेज दिया और जांच में जुट गयी है।मृत युवक की की पहचान मंदिरी निवासी रवि राय के रूप में की गयी है। बताया जाता है कि युवक पिछले साल ही जेल से छूट कर आया था।युवक के आपराधिक इतिहास को खंगालने में पुलिस जुटी है।

कुख्यात अपराधी था रवि उर्फ गोपजी 

राजधानी में 19 वर्षों तक अपराध की दुनिया में रहा मंदिरी के रवि राय उर्फ गोपजी को उसके दुश्मनों ने मॉर्निंग वॉक के दौरान गोली मारकर मौत की नींद सुला दिया है। रवि का शव तकरीबन आधे घंटे तक सड़क पर पड़ा रहा हैं। जब तक पुलिस नहीं पहुचीं। कत्ल कर दिए गए रवि के ऊपर हत्या ,लूट ,रंगदारी, गोलीबारी के डेढ़ दर्जन मामले दर्ज हैं । लंबे समय तक बेऊर जेल में बीताने के बाद जमानत पर छूटा था । इन दिनों विवादित जमीन का कारोबार में जुटा था। जेल में भी कई कुख्यात से पंगा हुआ था।

सोमवार के अहले सुबह मॉर्निंग वॉक कर रहा कोतवाली एवं बुद्धा कालोनी का कुख्यात रवि राय को केदवईपुरी के समीप ,पूर्व से घात लगाएं अपराधियों ने बीच सड़क पर गोलीबारी कर हत्या कर दिया। इसके बाद अफरा-तफरी मच गयी । मौके पर पहुंच पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। डीएसपी डा राकेश कुमार मामले की छानबीन में जुट गये हैं ।

एसएसपी गरिमा मलिक ने मामले को गंभीरता को देखते हुए शहर जके बाहरी निकलने वाले रास्ते को सील कर दिया गया हैं। सभी थाने को वाहनों की जांच का निर्देश दिया गया हैं। वहीं घटना में शामिल अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए सीटी एसपी ,डीएसपी ,कई थानाध्यक्ष को शामिल कर विशेष टीम गठित की गयी हैं । सीसी टीवी फ़ुटेज खंगाला जा रहा है ।

दो दशक पूर्व अपराध की दुनिया में रवि राय राजधानी पटना में बड़ा नाम था। छोटे -मोटे दुकानदारों से रंगदारी की वसूली करते -करते लूट, हत्या करना शुरू कर दिया था। रंगदारी नहीं देने पर रवि ,गोलीबारी कर देता था।  बीते वर्ष 2009 तक खुद घटनाओं को अंजाम देता था।इसके बाद गैंग खड़ा कर लिया था। पुलिस ने रवि राय को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। जेल में रहने के दौरान भी रवि अपने गिरोह से घटनाओं को अंजाम दिलाता था।

लंबे समय तक जेलमें रहने के बाद जमानत पर छूटा रवि राय विवादित जमीन खरीद -बिक्री का कारोबार कर रहा था। इस कारण कई से पंगा हो गया था।वहीं सुत्र बताते हैं की जेल में भी रवि राय को कई अपराधियों से विवाद हो गया था। कोतवाली ,बुद्धा कालोनी सहित कई थाने में रवि राय के खिलाफ हत्या ,लूट ,रंगदारी, गोलीबारी के डेढ़ दर्जन मामले दर्ज हैं। बताया जा रहा है कि रवि राय उर्फ रवि गोप ने दीघा में छोटका मखना की हत्या की थी।

2 खोखे पुलिस को मिले 

बताया जा रहा है कि रवि को आपसी रंजिश में मारा गया है। घटनास्थल से पुलिस ने दो खोखे बरामद किए हैं। पुलिस ने मृतक के पिता मोती राय से पुलिस ने पूछताछ शुरू कर दी है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।मृतक के घर पर इस समय मातम का माहौल है। उसके पिता ने पुलिस को बताया कि वह घर से टहलने के लिए निकला था और किसी ने आपसी रंजिश में उसे गोली मार दी है।

Loading...