बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – बिहार के चिकित्सा जगत को अपूरणीय क्षति प्रख्यात कार्डियोलोजिस्ट Dr प्रभात कुमार का निधन, हैदराबाद में ली आखरी साँस

देश के प्रख्यात हार्ट स्पेशलिस्ट डॉ प्रभात कुमार का कोरोना संक्रमण से हैदराबाद में हुआ निधन, चिकित्सा जगत में मातम

442

पटना Live डेस्क। कोरोना संक्रमण से बिहार के चिकित्सा जगत को अपूरणीय क्षति हुई है। पटना के प्रख्यात हृदय रोग विशेषज्ञ डॉक्टर प्रभात का निधन हो गया है। डॉ प्रभात का हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। कोरोना के संक्रमण के बाद डॉ प्रभात कुमार के लंग्स ने काम करना बंद कर दिया था। Dr प्रभात के परिजनों ने उनके निधन की पुष्टि की है।

गौरतलब है कि डॉ प्रभात लगभग एक महीने पहले कोरोना संक्रमण के शिकार हो गए थे। उनका इलाज पटना के एक निजी अस्पताल में चल रहा था। विगत दिनों उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गयी थी। तदुपरांत उन्हें एयर एंबुलेंस से हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया था। हैदराबाद के अस्पताल में इलाज के बाद उनके हालात में सुधार था, लेकिन लंग्स में इंफेक्शन काफी ज्यादा था।लिहाजा दो-तीन बाद ही तबीयत फिर से बिगड़ने लगी।

पिछले 24 साल से प्रैक्टिस कर रहे डॉ प्रभात ने 1997 में दिल्ली राम मनोहर लोहिया अस्पताल से नौकरी की शुरूआत की थी। कुछ दिनों तक नौकरी करने के बाद वे पटना आ गये थे औऱ यहीं प्रैक्टिस शुरू कर दी थी। अपने कुशल व्यवहार और उच्च स्तरीय चिकित्सा एक्सपर्टीज के बल पर कुछ ही दिनों में वे पटना के सबसे प्रमुख हृदय रोग विशेषज्ञ बन गये। उनसे इलाज के लिए इतनी भीड़ होती थी कि मरीजों को महीनों पहले नंबर लगाना पड़ता था। डॉ प्रभात समाज सेवा के कामों से भी जुड़े थे औऱ गरीबों का मुफ्त इलाज भी करते थे।

 

 

Comments are closed.