बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG Breaking (Video) फिर डबल मर्डर से दहली राजधानी स्कूटी सवार 2 युवकों को सरेराह मारी गई ताबड़तोड गोलियां

राजधानी में फिर एक बार अपराधियों दुःसाहस का परिचय देते हुए एक साथ 2-2 युवकों की हत्या कर दी और फरार हो गए। वही पटना पुलिस डबल मर्डर को काफ़ी वक्त तक बताती रही एक्सीडेंट,NMCH में हुआ खुलासा मारी गई थी गोलियां

478

पटना Live डेस्क। राजधानी पटना में अपराधियों का तांडव रुकने का नाम नही ले रहा हैं। दिन हो रात हो सुबह हो शाम हो अपराधियों द्वारा ताबड़तोड वारदातों को अंजाम दिया जा रहा है। वही दूसरी तरफ पटना पुलिस महज बयानबाजियों और दावों के जरिए राजधानी की सुरक्षा का दावा कर रही है। इसी क्रम में एक बार फिर बाइक सवार अपराधियों द्वारा स्कूटी सवार दो युवकों को सरेराह सड़क पर ही ताबड़तोड गोलियां मार दी गई और फरार हो गए। गोलियां लगने से एक युवक की जहाँ घटना स्थल पर ही मौत हो गई वही दूसरा गंभीर रूप से ज़ख्मी हो गया था और उसकी सांसे चल रही थी,लेकिन थोड़ा संघर्ष करने के बाद उसने भी दम तोड़ किया। खूंरेजी की घटना की जानकारी मिलने पर बाइपास थाना की पुलिस पहुंची। फिर SDPO अमित शरण दल बल के साथ पहुचे साथ ही 4 अन्य थानों की पुलिस मौके पहुंची और जाँच में सहयोग दिया।

बेख़ौफ़ अपराधियों ने मंगलवार की रात पटना में फिर एक बार डबल मर्डर की वारदातों को अंजाम देकर पुलिस की पेशानी पर बल ला दिया है। एक बाइक पर सवार तीन अपराधियों ने दुःसाहस का परिचय देते हुए एक साथ स्कूटी से जा रहे दो युवकों को गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया। बकौल चश्मदिदों के पहले एक ने हाथ देकर इन्हें रोका। फिर एक-एक कर दोनों के सिर में पिस्टल सटा कर गोली मार दी गई। इस कारण मौके पर ही दोनों की मौत हो गई। यह सनसनीखेज वारदात पटना सिटी में बाइपास थाना के तहत शीतला मंदिर रोड की है।

जिन दो युवकों की हत्या हुई है, उसमें एक का नाम चंदन कुमार है, जो आलमगंज थाना के तहत गुलजारबाग के रहने वाले दीपक रजक का बेटा था। मौत के घाट उतारे गए चंदन के दोस्त का नाम सौरभ अभिनंदन उर्फ गोलू है, जो गुलजारबाग के ही दादर मंडी का रहने वाला था। वारदात रात के 9:30 बजे के करीब की है। इन दोनों को गोली मारने के बाद अपराधी दहशत फैलाने के लिए हवाई फायरिंग करते हुए वहां से हाइवे की तरफ फरार हो गए।अचानक हुए इस वारदात की वजह से पूरे इलाके में अफरा-तफरी मच गई। 3 घंटे बाद तक डबल मर्डर के पीछे की वजह स्पष्ट नहीं हो पाई है। वारदात के बाद यह बात सामने आई कि शीतला मंदिर रोड में लोहा कारखाना के पास पहले से ही बाइक सवार अपराधी घात लागए हुए थे। मकतूल चंदन के भाई राजू ने बताया कि मेरा भाई कंकड़बाग में चंदन ऑटोमोबाइल के पीछे साबिर अली भाई के गाड़ियों के पार्ट पुर्जा की दुकान में काम करता था।

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि लाल रंग स्कूटी से युवक गुलजारबाग के लिए शीतला मंदिर रोड से फ्लाई ओवर पर चढ़ने वाला ही था कि एक व्यक्ति ने उसे इशारा कर रोका। जैसे ही स्कूटी सवार ने धीमा कर साइड करना चाहा। तभी पीछे से बाइक से दो अपराधी आए चंदन की ओर तेजी से बढ़े और सिर में सटा कर गोली मार दी। वो रोड पर गिरा। इसके बाद अपराधियों ने उसके संग रहे दोस्त सौरभ अभिनंदन उर्फ गोलू को भी सिर में सटा कर गोली मार दी। कुछ दूरी पर 2 और अपराधी खड़े थे। सौरभ अभिनंदन उर्फ गोलू की रिश्तेदार लक्ष्मी देवी ने बताया कि उसका किसी से अदावत नहीं था। हाल के दिनों में जमीन खरीद-बिक्री का काम भी शुरू किया था। परिवार के लोग नहीं समझ पा रहे हैं कि उसकी हत्या क्यों की गई।

पटना पुलिस मर्डर नही एक्सीडेंट बताती रही

वही, अपने जवान बेटों की मौत से ग़मगीन परिजनों ने बताया कि पहले पुलिस गोली मारने की घटना को मोड़ने के फिराक में थी। काफी देर तक यह बताती रही है कि दोनों का एक्सीडेंट हुआ है। लेकिन,परिवार के लोगों को पुलिस की बातों पर विश्वास नहीं था। जब बॉडी NMCH ले जाई गई तो वहां सब स्पष्ट हो गया। गोली मारने की बात सही साबित हुई। परिजन पुलिस की कार्यशैली से काफी आक्रोशित हैं।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गयी। हालांकि अभी तक घटना के कारणों का ही पता लग पाया है। पुलिस घटना के सभी बिन्दुओं की जांच कर रही है। साथ ही वारदात स्थल के आस पास लगे CCTV फुटेज को भी खंगालने की कवायद में जुट गई है।

Comments are closed.