BiG News – बिहार पुलिस की कमान संभालते ही “एक्शन मोड” आगए है डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय, सूबे में क्राइम मॉनिटरिंग करेगी #DG Team”

130

पटना Live डेस्क। बिहार के 51वें पुलिस प्रमुख यानी डीजीपी के तौर पर अपनी नियुक्ति के साथ ही 1987 बैच के बिहार कैडर के IPS गुप्तेश्वर पाण्डेय एक्शन मोड में आ गये है।सूबे में कानून -व्यवस्था के मोर्चे पर कार्रवाई शुरू कर दी है।कुर्सी संभालते ही बेहतर पुलिसिंग,क्राइम कंट्रोल एवं उसकी मॉनिटरिंग के लिए उन्होंने एक अलग ‘डीजी टीम’ बनाने की घोषणा कर दी है।
उन्होंने कहा कि इसके तहत चुने हुए आईपीएस अधिकारियों की एक टीम होगी जो राज्य में हो रही आपराधिक घटनाओं पर नजर रखेगी तथा फिल्ड में संबंधित अफसरों को उचित सुझाव और त्वरित रेस्पांस में भरपूर मदद मुहैया कराएगी।

पाण्डेय ने मिथिलेश स्टेडियम में अपने सीनियर केएस द्विवेदी के विदाई समारोह में उक्त बातें कहीं।उन्होंने सबको साथ लेकर राज्य की जनता के जानमाल की सुरक्षा करने का भरोसा दिलाते हुए राज्य सरकार द्वारा दी गयी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करने का आश्वासन भी दिया।

डीजीपी बनाये जाने कहा

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने अपने को राज्य की पुलिस का मुखिया बनाये जाने पर आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि मुझे नहीं मालूम कि ये कैसे हुआ। मैंने तो कभी भी इसके लिए लॉबिंग नहीं की और न तो मेैं इस दौड़ में कभी शामिल था।

उन्होंने सबका साथ लेकर कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ करने की भी बात कही। अपने विचार व्यव्क्त करते हुए नवनियुक्त डीजीपी ने कहा कि राज्य की कानून व्यवस्था दुरुस्त रखना टीमवर्क से ही संभव है। चाहे वो एक सिपाही हो या कोई आईपीएस अधिकारी।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नशाबंदी को पूर्ण रूप से सफल बनाने के उद्देश्य से 180 से ज्यादा जागरूकता सभाएं की हैं। जगह-जगह घूम-घूम कर पाण्डेय ने लोगों से अपील की और यह समझाने का प्रयास किया कि नशा कैसे परिवार और समाज के लिए हानिकारक है। पाण्डेय द्वारा जन-जागरूकता अभियान को काफी सराहा गया था।

Loading...