BiG News – लीजिये अब बिहार में दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

पटना Live डेस्क।पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में पुलिस वालों द्वारा सीबीआई अधिकारियों की जबरिया गिरफ्तारी का मामला अभी ठंडा भी नही पड़ा है तभी बिहार के सुपौल में दिल्ली पुलिस आई तो थी अपहरण के आरोपी को गिरफ्तार करने लेकिन खुद गिरफ्तार हो गई। दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल को न केवल गिरफ्तार कर लिया गया बल्कि बाकायदा जेल भी भेज दिया गया।
ये वाक्या सदर थाना क्षेत्र के चकला निर्मली मोहल्ला का है, जहां दिल्ली के रोहिणी स्थित एन काटजू थाने के दो पुलिसकर्मी जिसमें एएसआई एस दत्त और हेड कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार एक लड़की के अपहरण की तहकीकात करने सुपौल पहुंचे थे।अपहृत लड़की और आरोपी लड़के का दिल्ली पुलिस के पास पूर्व से ही सुराग मिला हुआ था। लेकिन जैसे ही दिल्ली पुलिस के ये अधिकारी चकला निर्मली मोहल्ले के एक मकान पहुंचे तो ये बात आग की तरह फैल गई।जिसके बाद लड़के-लड़की को देखने के लिए लोगों की भीड़ जमा हो गई।                                    

इसी दौरान कुछ लोगों को एहसास हुआ कि दिल्ली पुलिस का एक अधिकारी शराब के नशे में है। लोगों ने इसकी सूचना उत्पाद विभाग को दे दी।शराब के नशे में पुलिस अधिकारी के होने की सूचना मिलते ही उत्पाद अधीक्षक और उत्पाद इंस्पेक्टर मौके पर पहुंच गए।जब दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल मुकेश कुमार का ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट किया तो शराब पीने की पुष्टि हुई। जिसके बाद उत्पाद विभाग ने उसे पकड़कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इस दौरान आरोपी कॉन्स्टेबल का जांच करने के दौरान उत्पाद विभाग के अधिकारियों के साथ उसकी हाथापाई भी हुई। करीब दो घंटे के बाद उत्पाद विभाग को ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट करने में सफलता मिली और कॉन्स्टेबल की जांच की गई।

दरअसल दिल्ली के रोहिणी की रहने वाली एक लड़की के अपहरण की शिकायत उसके पिता ने थाने में दर्ज कराई थी।जिसको लेकर दिल्ली पुलिस सुपौल गई थी। दोनों लड़के और लड़की चकला निर्मली मौहल्ले में एक किराए के मकान में खुद को एलएनटी कंपनी का स्टाफ बताकर रह रहे थे। दोनों ने इस बाबत मकान मालिक को कोर्ट मैरिज का सर्टिफिकेट भी दिखाया था। प्रेम प्रसंग में अपहरण के इस मामलें में आरोपी लड़का मधेपुरा जिला के बिहारीगंज थाना इलाके का रहने वाला है। इधर अपहृत लड़की का कहना है की उसे किसी ने अपहरण नहीं किया है,वे बिहारी गंज के रहने वाले राजा से प्यार करती थी और उससे कोर्ट मैरिज करके खुश भी है, लिहाजाउसके पिता द्बारा लगाए गए सारे आरोप बेबुनियाद हैं।