बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News – बिहार की IPS बिटिया ने रचा इतिहास, आईपीएस नीना सिंह बनी राजस्थान की पहली महिला DG

भारतीय पुलिस सेवा की वरिष्ठ अधिकारी नीना सिंह (IPS Nina Singh) की ओर से किए गए शोध की गुरुवार को सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने विधानसभा (Assembly) में चर्चा करते हुए इसे क्रांतिकारी बताया था,राजस्थान की पहली महिला महानिदेशक बनने वालीं आईपीएस नीना सिंह

574

पटना Live डेस्क। बिहार की ज़रखेज माटी की गाथाएं पूरे विश्व पटल पर धमक बिखेरती है। इसी क्रम में राजस्थान पुलिस (Rajasthan Police) में रविवार को इतिहास रचा गया। इस ऐतिहासिक पल का बिहार की माटी से गहरा रिश्ता है। राजस्थान पुलिस के इतिहास में एक सुनहरा पन्ना जुड़ गया है। आईपीएस अधिकारी नीना सिंह को महानिदेशक (डीजी) रैंक में प्रमोट किया गया है। राजस्थान में डीजी रैंक तक पहुंचने वाली पहली महिला पुलिस अधिकारी बनने का गौरव आईपीएस नीना सिंह को प्राप्त हुआ है।

दरअसल राजस्थान की चर्चित व दबंग आईपीएस नीना सिंह (IPS Neena Singh) को राजस्थान पुलिस के इतिहास में पहली महिला DG होने का गौरव हासिल हुआ। आईपीएस अधिकारी नीना सिंह राजस्थान पुलिस की पहली महिला आईपीएस (Rajasthan Police first woman IPS) रही है। मीना सिंह सीबीआई में पोस्टिंग के दौरान कई महत्वपूर्ण देशों का खुलासा कर चुकी है। राजस्थान पुलिस के इतिहास में एक सुनहरा पन्ना जुड़ गया है। वो है कि आईपीएस अधिकारी श्रीमती नीना सिंह को पुलिस महानिदेशक (डीजी) रैंक में प्रमोट किया गया है। राजस्थान में डीजी रैंक तक पहुंचने वाली पहली महिला पुलिस अधिकारी बनने का गौरव आईपीएस नीना सिंह को प्राप्त हुआ है।

वर्ष 1989 बैच की आईपीएस अधिकारी नैना सिंह मूलतः पटना की रहने वाली है।1989 में यूपीएससी एग्जाम क्रैक करने के बाद उन्हें मणिपुर कैडर मिला था शादी के बाद इन्हें राजस्थान कैडर मिला। पटना वुमन्स कॉलेज से ग्रैजुएशन के बाद इन्होंने दिल्ली के जेएनयू से मास्टर्स किया था। उसके बाद एक और मास्टर्स डिग्री के लिए ये यूके की हार्वर्ड यूनिवर्सिटी गईं। नीना के पति रोहित कुमार सिंह राजस्थान के सीनियर IAS ऑफिसर हैं। सिंह वर्तमान में केंद्र सरकार में प्रतिनियुक्ति पर हैं। नीना सिंह सिरोही एसपी अजमेर रेंज आईजी सहित विभिन्न पदों पर कार्य कर चुकी है। वर्तमान में नीना सिंह अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक सिविल राइट के पद पर कार्यरत थी।

राष्ट्रपति पुलिस पदक सहित कई सम्मान मिल चुके है। राजस्थान पुलिस ने तेजतर्रार अफसर नीना सिंह को राष्ट्रपति पुलिस पदक सहित विशिष्ट सम्मान मिल चुके हैं। नीना सिंह अपनी उत्कृष्ट कार्यशैली के लिए राजस्थान और देश में हमेशा चर्चित रही है। भारतीय पुलिस सेवा की दबंग महिला अफसरों में से एक नीना सिंह को राष्ट्रपति पुलिस पदक विशिष्ट सम्मान भी प्राप्त हो चुका है। आईपीएस नीना सिंह ने सीबीआई में संयुक्त निदेशक पद पर कार्य करते हुए कई जटिल केस को सुलझाया है।

कई महत्वपूर्ण केस सुलझाए हैं नीना सिंह ने आईपीएस नीना सिंह 6 वर्ष तक CBI में Joint Director के पद पर रहीं।इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण केसों की गुत्थी को सुलझाया। नीना सिंह ने CBI में रहते शीना बोरा हत्याकांड, जिया खान केस, JK क्रिकेट घोटाला, बॉम्बे ब्लास्ट केस, मायावती का NRHM भ्रष्टाचार आदि केसों को हल किया है।वर्ष 2005 में पुलिस पदक और इसके बाद अति उत्कृष्ट पुलिस पदक से सम्मानित हो चुकी है। IPS नीना सिंह USA में हावर्ड यूनिवर्सिटी से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन M.P.A. की डिग्री ले चुकी है।

सीएम गहलोत ने बताया क्रांतिकारी

अपने काम के दम पर पहचाने बनाने वालीं नीना सिंह की तारीफ सीएम अशोक गहलोत भी कर चुके हैं। राजस्थान विधासनसभा में बजट पर बहस करते हुए गहलोत ने नीना सिंह के शोध को पुलिस महकमे के लिए क्रांतिकारी बताया था।

क्या था नीना सिंह आईपीएस का शोध ?

बता दें कि आईपीएस नीना सिंह एमआईटी, यूएसए के प्रोफेसर अभिजीत बनर्जी और प्रोफेसर एस्थर डुफ्लो के साथ बतौर नोडल अधिकारी शोध किया था। शोध में पाया गया था कि कि राजस्थान में आम जनता पुलिस को घटनाओं की सूचना देने से हिचकिचाती है। इसके कारण केवल 29 प्रतिशत घटनाओं को ही थाने में दर्ज किया जाता है। शेष 71 प्रतिशत घटनाओं की सूचनाएं पुलिस को मिलती ही नहीं है।

Comments are closed.