बेधड़क ...बेलाग....बेबाक

BiG News- पूर्व सैनिक बाप-बेटे का हत्यारोपी कुख्यात रूपेश सिंह की घर में गोली मार कर हत्या

78
अजित यादव, ब्यूरो प्रमुख, पटना पश्चिमी
  • पूर्व में उसके साथी छोटूआ ने रूपेश को गोली मारकर किया था था जख्मी ,पीएमसीएच में गिरफ्तार हुआ था रूपेश
  •  सुद की रकम को लेकर पूर्व सैनिक उमा शंकर सिंह व इनके पुत्र की सुपारी दे कराया था हत्या
पटना Live डेस्क। राजधानी पटना के नौबतपुर का कुख्यात रूपेश सिंह को उसके अपने घर में गोली मारकर हत्या कर दिया गया हैं ।हत्या के पीछे करीबी का हाथ बताया जाता हैं । पुलिस अपराधियों के गिरफ्तार करने में जुटी हैं ।रूपेश सिंह ,अपने गांव के पूर्व सैनिक उमाशंकर सिंह एवं इसके पुत्र को सुपारी देकर अपराधियों से हत्या कराया था। रूपेश की हत्या पूर्व इसके अपराधी साथी छोटूआ ने गोली मारकर जख्मी कर दिया था। पुलिस ने रूपेश को इलाज के दौरान पीएमसीएच से गिरफ्तार किया था। रूपेश इन दिनों कई अपराधीक गिरोह के संपर्क में था।
करीबी ने घर में गोली मारकर कि हत्या
नौबतपुर के छोटकी टैंगरैला में बीते रात रूपेश सिंह की गोली मारकर हत्या कर दिया गया हैं । हत्या के पीछे इसके रिश्तेदार करीबी अपराधी साथी दीपक कुमार का नाम आ रहा हैं । मृतक के परिजनों की मानें तो रूपेश जिस कमरे में सोया हुआ था उसके साथ दीपक भी था। दीपक और रूपेश एक साथ ही रह रहे थे और पूर्व में घटनाओं को अंजाम दिया हैं । हत्या में जिस दीपक कुमार का नाम सामने आ रहा है वह बिक्रम थाना क्षेत्र का बताया जाता हैं ।
रूपेश ने पूर्व सैनिक बाप-बेटा का कराया था हत्या
रूपेश सिंह अपने गांव निवासी पूर्व सैनिक उमाशंकर सिंह से सुद पर लाखों रूपये लिया था। पैसे को लेकर विवाद चल रहा था। रूपये मांगने पर रूपेश सिंह ने पहले पूर्व सैनिक के पुत्र की हत्या अपराधी साथियों से गोली मारकर करा दिया । जेल जाने के बाद रूपेश सिंह ने जेल से साजिश रच पूर्व सैनिक उमाशंकर सिंह को कुख्यात जटहा के हाथों गोली मरवाकर हत्या करा दिया । जमानत पाकर छूटा था और कई अपराधीक गिरोह में सक्रिय से जुटा था।
रूपेश के पूर्व साथी छोटूआ ने भी मारी थी गोली
रूपेश सिंह की हत्या के पीछे उसके करीबी दीपक सिंह का नाम आ रहा हैं । इसके पहले उसका साथी रहा बिक्रम का छोटूआ ने गोली मारकर जख्मी कर दिया था। जख्मी अवस्था में पटना पुलिस ने रूपेश सिंह को गिरफ्तार किया था। जिस तरह से रूपेश सिंह सुपारी देकर पूर्व सैनिक बाप-बेटे को मरवाया था उसी तरह उसका भी अंत हो गया

Comments are closed.